बालों को रंगने से होते हैं ये नुकसान

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 03, 2011
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • आज बालों को रंगना एक फैशन ट्रेंड बन गया है।
  • रंगते समय आपको खास सावधानियां रखनी चाहिए।
  • अधिक अमोनिया बालों के लिए नुकसानदायक होता है।
  • सीरम ट्रीटमेंट तो किसी अनुभवी व्यक्ति से ही करवाएं।

आज के समय में बालों को रंगना एक फैशन ट्रेंड बन गया है, लेकिन क्या आप जानते हैं बालों को रंगते समय आपको खास सावधानियां रखनी चाहिए, अन्यथा आपके बालों को नुकसान पहुंच सकता है। बालों को रंगने के लिए आपको ये पता होना चाहिए कि बालों को कलर कैसे करें, कौन सा रंग आप पर सूट करेगा, बाल रंगने के लिए क्या करना चाहिए, किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, बाल रंगने के क्या फायदे-नुकसान होते है। आपको इन तमाम सवालों के जवाब हम दे रहें हैं। आइए जानें बालों को रंगने संबंधित तमाम बातें और बालों को रंगने के नुकसान के बारे में।

Hair Colour in hindi

बालों को रंगने के नुकसान

  • हेयर कलर आज का स्टाइल स्टेटमेंट बन गया है। आज युवा अपने बालों पर एक्सपेरिमेंट करने से भी नहीं चूकते, लेकिन ऐसे में भी सावधानी रखना जरूरी है। जरा सी लापरवाही से आप अपने अच्छे बालों को नुकसान पहुंचा सकते हैं।
  • बालों को कलर करवाने से पहले आपको एलर्जी का ध्यान रखना चाहिए, क्योंकि कई बार कुछ कलर या डाई बालों को नुकसान पहुंचा सकती है। ऐसे में यदि आपको अमोनियायुक्त डाई सूट न करें तो आप प्रोटीनयुक्त डाई का इस्तेमाल भी करती हैं। इसके लिए आप हेयर एक्सपर्ट या ब्यूटी पार्लर में जाकर परामर्श ले सकते हैं।
  • हेयर कलर करवाने वालों को बाद में त्वचा संबंधी दिक्कतों सामना जैसे बालों की कोमलता जाने का डर, बाल जल्दी सफेद होना इत्यादि करना पड़ता है। हेयर कलर में मिला अधिक अमोनिया बालों के लिए नुकसानदायक हो सकता है।
  • हेयर कलर कई तरह के हो सकते हैं जैसे बरगंडी, डार्क ब्राउन, रेड कलर, नेचुरल, गोल्ड, चॉकलेट चेरी ब्राउन रेड इत्यादि। आप अपनी पर्सनेलिटी के हिसाब से ही कलर का चयन करें।
  • बालों को घर पर कलर कर रही हैं तो ब्रश और हाथों में दस्तानों का प्रयोग जरूर करें और खुद से आंखों का खासतौर पर ध्यान रखें।
  • डाई के किसी भी प्रकार के साइड इफेक्ट से बचने के लिए आपको पहली बार कलर किसी अनुभवी व्यक्ति या प्रोफेशनल व्यक्ति से ही करवाना चाहिए।
  • बालों को कलर करने से पहले उन्हें पहले धों के सुलझा कर सुखा लें और बालों को कंघी के एक सिरे से उठाते हुए बालों को कलर करें।
  • बालों को यदि आप खुद से डाई करते है तो उसके बाद बालों में शैंपू और कंडीनर करना न भूलें। साथ ही हेयर स्पा और सीरम ट्रीटमेंट तो किसी अनुभवी व्यक्ति से ही करवाएं।
  • यदि आप पहली बार घर पर ही बालों को कलर कर रहे हैं तो बालों को डाई करने वाले पैकेट पर लिखे दिशा-निर्देशों को सावधानी से पढ़ें।
  • आमतौर पर हेयर कलर बालों में चमक लाने, नया लुक पाने, सफेद बालों की परेषानी को दूर करने, बालों को पहले से बेहतर बनाने और बालों में जान डालने के लिए किया जाता है। ऐसे में जरूरी है कि हेयर कलर हमेशा अच्छी क्वालिटी का ही प्रयोग करें।
  • यदि आप बालों की पर्मिंग या घुंघराले बालों को स्ट्रेट कराना चाहती हैं तो कलर करवाने के 15-20 दिनों के बाद ही ऐसा करवाएं। एक साथ दोनों काम करने पर बालों पर केमिकल का प्रेशर अधिक पड़ता है। इससे बाल खराब हो सकते हैं।
  • यदि आप व्यस्त दिनचर्या वाली हैं तो आपको हलका हेयर कलर का ही इस्तेमाल करना चाहिए। ये आपके बालों को अधिक नुकसान से बचाएगा।

इस लेख से संबंधित किसी प्रकार के सवाल या सुझाव के लिए आप यहां पोस्‍ट/कमेंट कर सकते हैं।

Image Source : Getty

Read More Articles on Hair Care in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES10 Votes 16286 Views 1 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर