चंगा रहना चाहते हैं तो थोड़ा गाते-गुनगुनाइते रहिये!

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 04, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • गाते-गुनगुनाते रहने से सेहत अच्छी बनी रहती है।
  • गायन से साइनस और सांस की नलियां खुलती हैं।
  • गाना गाने से शारीरिक मुद्रा में भी सुधार होता है।
  • इससे चहरे की मांसपेशियों का व्यायाम भी होता है।

संगीत को ईश्वर के बराबर का दर्जा दिया गया है, इसीलिए इस विधा में शुद्धता और शास्त्रीयता का विशेष महत्व होता है। सात शुद्ध और पांच कोमल स्वरों के माध्यम से मन को साधने का उपाय ही संगीत कहलाता है। एक ओर जहां 'योग' मनुष्य के शरीर, मन और मस्तिष्क को साधता है, वहीं 'संगीत' उसकी आत्मा को शुद्ध करता है और स्वास्थप्रद होता है। जी हां संगीत सुनना ही नहीं, गायन से भी आपको की स्वास्थ्य लाभ होते हैं। कई शोध भी बताते हैं कि संगीत से जुड़े रहने और गाते-गुनगुनाते रहने से सेहत अच्छी बनी रहती है। गायन के कई स्वास्थ्य लाभ जैसे, मानसिक, शारीरिक तथा आध्यात्मिक लाभ होते हैं। तो चलिए विस्तार से जानते हैं सेहत पर संगीत और गायन का क्या प्रभाव होता है।  

 

क्या है गायन

गायन एक ऐसी क्रिया है जिससे स्वर की सहायता से संगीतमय ध्वनि उत्पन्न की जाती है। ज़रूरी नहीं कि गायन औपचारिक ही हो, यह अनौपचारिक हो सकता है और संतोष या खुशी के लिये किया जा सकता है, जैसे नहाते समय या कैराओके आदि में। वहीं यह बहुत औपचारिक भी हो सकता है जैसे किसी धार्मिक अनुष्ठान के समय या मंच पर या रिकार्डिंग के स्टुडियो में पेशेवर गायन के रूप में आदि।

 

Benefits Of Singing In Hindi

 

 

संगीत के फायदे

संगीत साधना फिर चाहे वह किसी भी रूप में जैसे, गायन, वादन आदि के लिए किसी कलाकार को एक ही मुद्रा में घंटों बैठे रहना पड़ता है। ठीक उसी तरह से योग में भी एक अवस्था में बैठने की ज़रूरत होती है। एक ही स्थान पर साधना करने के लिए शरीर, मन व मस्तिष्क शांत और स्वस्थ होता है और एकाग्रता बढ़ती है।  

 

विभिन्न वैज्ञानिक शोध दर्शोते हैं कि संगीत साधना व योग साधना दोनों से मनुष्य के जीवन में शक्ति का विकास होता है। इसलिए यह कहा जा सकता है कि शरीर तथा मन को स्वस्थ्य, प्रफुल्लित रखने के लिए संगीत शास्त्र दोनों सहयोगी है। इससे शरीर, मन, मस्तिष्क स्वस्थ रहता है, और एकाग्रता बढ़ती है। योग की तरह ही संगीत से तनाव भी दूर होता है। कमाल की बात तो यह है कि आप संगीत से होने वाले स्वस्थ्य लाभ को सड़क पर, बगीचे में, बरामदे में, छत पर सुबह, शाम घूमते हुए, कहीं भी ले सकते हैं।

 

Benefits Of Singing In Hindi

 

 

गायन के स्वास्थय लाभ

 

  • गायन से हमारे फेफड़ों की एक्सरसाइज होती है। इससे हमारी पसलियों के बीच की मांसपेशियों तथा डायाफ्राम टोन होते हैं।
  • गायन से बेहतर नींद आती है।
  • गायन कर हम अपनी एरोबिक क्षमता में सुधार के द्वारा दिल और रक्त परिसंचरण को बेहतर बना सकते हैं। इससे मांसपेशियों में तनाव भी कम होता है।
  • गायन से चहरे की मांसपेशियों का व्यायाम होता है और वे टोन होती हैं।
  • गाना गाने से हमारी शारीरिक मुद्रा में भी सुधार होता है।
  • हम मानसिक रूप से अधिक सचेत हो सकते हैं।
  • गायन से साइनस और सांस की नलियां खुलती हैं।
  • गायन से एंडोर्फिन नामक रसायन का श्राव होता है, जो दर्द से राहत दिलाता है।
  • गायन से हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली मज़बूत होती है और रोगों से लडंने की क्षमता बढ़ती है।
  • यह क्रोध, अवसाद और चिंता को कम करने में मदद करता है।

 

 

Read More Articles On Mental Health in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES3 Votes 12184 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर