दौड़ने के लाभ

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 24, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

जब बाहर मौसम खराब हो या आप बाहर जा कर दौड़ने की दिनचर्या से ऊब चुके हैं और परिवर्तन चाहते हैं तो ट्रेडमिल पर दौड़ना एक विकल्प है। अधिकतर ट्रेडमिलों में दौड़ने के विभिन्न कार्यक्रम और विकल्प होते हैं जिससे गति, प्रतिरोध और झुकाव को बढ़ाया या घटाया जा सकता है।

 

दौड़ने के लाभ

 

दौड़ना एक उच्च तीव्रता वाला कार्डियोवास्कुलर वर्कआउट है जिसके कई शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य और फिटनेस लाभ हैं। यह सबसे अधिक आसानी से किया जा सकने वाला एरोबिक व्यायाम है। इसे आसानी से सीखा जा सकता है और दौड़ने के जूतों की एक अच्छी जोड़ी, आरामदायक कपड़े, पानी की बोतल और एक तौलिए के अलावा किसी भी महंगे उपकरण की आवश्यकता नहीं है।

  • दौड़ने से कार्डियोवास्कुलर (दिल और रक्त वाहिकाओं) और श्वसन (फेफड़ों) फिटनेस में सुधार होता है। इससे एचडीएल का स्तर (उच्च घनत्व लेपोप्रोटीन) बढ़ जाता है जो दिल के अनुकूल कोलेस्ट्रॉल है। यह इष्टतम रक्तचाप रखता है, धमनियों की लोच को बनाए रखता है जो खून के थक्कों और दिल के दौरे के जोखिम कम करता है और इसी तरह बहुत सी दिल और फेफड़ों की बीमारियों और कुछ तरह के कैंसरों के खतरे को कम कर देता है।
  • यह एक उच्च ऊर्जा वाली गतिविधि है जिसमें कैलोरी की बहुत आवश्यकता होती है। इसी प्रकार जो लोग अतिरिक्त वजन और शरीर में वसा खोना चाहते हैं वे दौड़ लगा सकते हैं। दौड़ने के दौरान कैलोरी के जलने की संख्या धावक के शरीर के वजन, दौड़ की तीव्रता और धावक की दक्षता पर निर्भर करती है।
  • यह डब्लू बी सी (सफेद रक्त कोशिकाएं जो रोगों से लड़ती हैं) के खून में केंद्रीयकरण के द्वारा प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है।
  • दौड़ना एक वजन सहन करने वाली गतिविधि (दौड़ते हुए आप अपने शरीर का वजन सहन करते हैं) है इसलिए ये मांसपेशियों और हड्डियों को मजबूत बनाता है। इससे ऑस्टियोपोरोसिस का जोखिम कम हो जाता है।
  • नियमित रूप से दौड़ने से शरीर की प्रणाली की कंडीशनिंग होती है जिससे उम्र बढ़ने की प्रक्रिया धीमी हो जाती है। यह हड्डियों और मांसपेशियों जो हमारी उम्र के साथ कमजोर होती जाती हैं, के बनने और उन्हें मजबूत करने में मदद करता है।
  • पगडंडी पर दौड़ने (उबड़-खाबड़ रास्तों पर दौड़ना) के लिए काफी संतुलन और समन्वय की आवश्यकता होती है। पत्थर, घास, पेड़ों की जड़ें आदि जैसी असमतल जगह पर दौड़ने से धावक अपने शरीर पर संतुलन और समन्वय रखना सीखता है जिससे वह गिरने या ठोकर खाने से बच सके। यहां तक कि समतल जगह पर शरीर को सीधा रखकर दौड़ने और एक समय में एक पैर पर खड़े होने के लिए भी संतुलन और समन्वय की आवश्यकता होती है।
  • कई लोग बाहर दौड़ने के लिए जाते हैं जिससे वे दूसरों से मेल-जोल बढ़ा सकें। वे स्वास्थ्य और फिटनेस के लाभ प्राप्त करने के अलावा अच्छे दोस्त भी बना लेते हैं।
  • दौड़ने के कई मनोवैज्ञानिक लाभ भी हैं। दौड़ते समय एंडोर्फिन नामक हार्मोन शरीर में छोड़ा जाता है जो फील गुड फैक्टर की भावना देता है। धावक खुश और तनावपूर्ण कम लगता है। चूंकि दौड़ना एक बहुत ही चुनौतीपूर्ण गतिविधि है यह हर सत्र को पूरा करने पर उपलब्धि और गर्व की भावना देती है।

इससे पहले कि आप दौड़ना शुरू करें आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए

  • एक गर्म और आर्द्र वातावरण में बाहर न दौड़ें क्योंकि इससे आपकी ऊर्जा और क्षमता खत्म हो जाएगी। गर्म मौसम में दौड़ना खतरनाक हो सकता है क्योंकि यह निर्जलीकरण, ऐंठन, हीट ऐक्जाशन और हीट स्ट्रोक पैदा कर सकता है। हीट ऐक्जाशन से हीट स्ट्रोक हो सकता है जो घातक हो सकता है। दौड़ने का सबसे अच्छा समय सुबह और देर शाम का है।
  • इसके अलावा अगर मौसम बहुत ठंडा है तो बाहर न दौड़ें क्योंकि इससे हाइपोथर्मिया हो सकता है जिसमें शरीर का तापमान सामान्य से नीचे चला जाता है और खतरनाक हो सकता है। शीतदंश ठंड के मौसम में चलने की एक संभावित समस्या है। यह एक अन्य खतरनाक स्थिति है जिसमें त्वचा का रंग लाल हो जाता है और उसके बाद सुन्न हो जाती है।
  • कठोर सतहों जैसे सीमेंट वाली सड़कों और ज़मीन पर दौड़ने से बचें। घास आउटडोर के लिए एक बेहतर विकल्प है। सख्त सतह पर नियमित रूप से उच्च तीव्रता और उच्च प्रभाव वाली गतिविधियां जैसे दौड़ना और जॉगिंग करने से मॅस्कुलोस्केलेटल (मांसपेशी और हड्डी ) की क्षति हो सकती है।
  • हॉयड्रेशन दौड़ने के पहले, बीच में और बाद में  बहुत महत्वपूर्ण है। आप पसीने के रुप में बहुत सा पानी और लवण खो देते हैं और इसलिए इनकी पूर्ति बहुत महत्वपूर्ण है। दौड़ने के दौरा...
Write a Review
Is it Helpful Article?YES288 Votes 31812 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर