मोजे पहनकर सोने के हैं ये फायदे

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 08, 2016
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • मोजा पैरों का खयाल रखने का सबसे अच्छा तरीका है।
  • मोजा पहनकर सोने से पैर मुलायम और गर्म रहते हैं।
  • इससे पैर फटते नहीं है और बीमारियां दूर रहती हैं।

अगर आप हमेशा जूते और मोजे पहनकर रहते हैं तो ये अच्छा है। इससे आपके पैर गंदगी से बचे रहते हैं। लेकिन मोजे केवल आपको गंदगी से नहीं बचाते बल्कि इसके अन्य फायदे भी हैं। लेकिन इन फायदों के लिए आपको मोजे पहनकर सोने की जरूरत है।

अगर आप उस तरह के इंसान हैं जो मोजे पहनकर सोते हैं तो ये बहुत अच्छा है। इसका मतलब है कि आप अपने पैरों से अधिक प्यार करते हैं और उनकी केयर करते हैं। लेकिन इसके अन्य फायदे भी होते हैं। आइए जानें मोजा पहनकर सोने के फायदे।

इसे भी पढ़ें : चोट या खरोंच को चाटना है कितना सही? जानें

Socks

पैर नहीं फटते

मोजे पहनकर सोने का सबसे बड़ा फायदा है कि एड़ियां नहीं फटती। पैर मुलायम रहते हैं। जबकि आपने एक चीज नोटिस की होगी कि जब आप सोकर उठते हैं तो पैर बहुत ज्यादा ड्राई रहते हैं। पैरों को इस तरह से ड्राई होने से मोजे बचाते हैं।

 

पैर रहते हैं गर्म

सोने के बाद पैर काफी ठंडे हो जाते हैं। ये अधिकतर लोगों में होते हैं। ऐसे में अगर आपको ये समस्या है तो मोजे पहनकर सोएं। इससे आपके पैर गर्म रहेंगे।

 

पसीना नहीं होंगे

कई लोगों को पैरों से काफी पसीना आता है। इस स्थिति को हाइपरहाइड्रोसिस कहते हैं। अगर आप पैरों से अत्यधिक पसीना आने की समस्या से ग्रस्त हैं तो मोजा पहनकर सोना आपके लिए फायदेमंद होगा।

 

इन्फेक्शन से बचाता है

मोजे पहनकर सोने से पैर गंदगी और बैक्टीरिया से फ्री रहता है। इससे पैर किसी भी तरह से संक्रमित होने से बच जाते हैं।

 

पैर की समस्याएं होती हैं दूर

पैर शरीर का वह हिस्सा है जिस पर शरीर का पूरा वजन रहता है। इसके कारण पैर कई बार दर्द कर जाते हैं और थोड़ी सी भी लापरवाही से बीमार हो जाते हैं। पैरों की इन समस्याओं से मोजे आपको बचाते हैं।

 

Image Source : Getty

Read more articles on Healthy living in hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES52 Votes 9211 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर