सिर के धड़ से अलग होने के बाद भी डॉक्टर ने बचाई जान

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 29, 2016
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • कहा जाता है कि डॉक्टर धरती पर भगवान का रूप होते हैं।
  • धारदार हसिया से लगभग पूरा ही कट गया था नवीन का सर।
  • 2 घंटे की सर्जरी के बाद नवीन के सिर को दोबारा जोड़ा गया।
  • अच्छी चिकित्सा न होती तो नविन की जान बचाना मुश्किल था।

कहा जाता है कि डॉक्टर धरती पर भगवान का रूप होते हैं, जो मरते इंसान को भी मौत के मुंह से बचा लाते हैं और एक नया जीवन दे देते हैं। हिन्दू संस्कृति में भी पौराणिक कथाओं में वर्णन किया गया है कि सबसे पहले भगवान शिवशंकर ने इस तरह की सर्जरी की थी। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि इस युग में भी ऐसा ही कमाल कुछ डॉक्टरों ने कर दिखाया और लगभग धड़ के कट चुके सर को जोड़कर डॉक्टरों ने इस व्यक्ति को एक नई जिंदगी दे दी।

 

 

Head Cut Off From Body in Hindi

 

 

बिहार के सहरसा के सिमरी बक्तियारपुर में रहने वाले नविन जब पेड़ पर चढ़ कुछ काम कर रहा था, तो वह अचानक 50 फीट की ऊंचाई से जमीन पर गिर गया। दुर्भाग्य से नवीन जहां गिरा वहां एक धारदार हसिया रखा था, जिससे नवीन का गला लगभग पूरा ही कट गया। जब लोगों ने नवीन को घायल अवस्था में देखा तो आनन-फानन नें हादसे के समय मौजूद लोगों ने उसे सहरसा के एक निजी क्लिनिक में भर्ती कराया।


यहां डॉक्टरों की एक टीम ने 2 घंटे की एक कठिन सर्जरी के बाद नवीन के सिर को दोबारा जोड़ दिया। नवीन का गला लगभग पूरा कट चूका था और सिर्फ एक हड्डी के सहारे जुड़ा हुआ था। लेकिन डॉक्टरों के अथक प्रयास और सफल सर्जरी की बदौलन सउसकी जान बचाई जा सकी। नवीन के परिजनों का कहना है की अगर इतनी अच्छी चिकित्सा न होती तो नविन की जान बचाना मुश्किल ही था। ऐसे में यह कहना गलत न होगा, “जाको राखे साइया मार सके न कोय”।


Image Source - Getty

Read More Articles On Medical Miracles in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES7 Votes 3769 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर