बालों से जुड़े इन वहम को करें दूर

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 02, 2011
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • बालों को लेकर होते हैं ये वहम।
  • रहते हैं बहुत अधिक कॉन्शस।
  • बालों कंडीश्नर करने पर खराब होते हैं।
  • बालों में कंघी करने से बाल सुलझे जाएंगे।

आपकी खूबसूरती में चार चांद लगाने वाले बालों की देखभाल करना उतना ही जरूरी है जितनी शरीर की। आपके बालों की खूबसूरती तभी बरकरार रह सकती है,जब आप उन्हें समय-समय ऐसे पोषण दें जिससे सिर की त्वाचा को नुकसान न हो और बालों की चिकनाई भी बनी रहें। इसके लिए बालों की ठीक तरह से साफ-सफाई करनी चाहिए। बालों की देखभाल में बाल झड़ने से रोकने, बालों में कंडीशनर लगाने, समय-समय पर बालों को काटने, दो मुंहे बालों को दूर करना इत्यादि शामिल है। बालों की देखभाल से संबंधित कुछ भ्रम भी हैं जिनके चक्कर में पड़कर कई बार लोग अपने बालों को भी खराब कर लेते हैं। आइए जानें बालों से जुड़े वहम के बारे में।

  • बालों से जुड़े मिथको को मानने का कारण शायद यही है कि हम लोग अपने बालों को लेकर बहुत कॉन्शस रहते है। इसीलिए किसी की बात पर भी जल्दी से यकीन कर लेते हैं।
  • आमतौर पर लोग सोचते हैं कि बालों को कंडीश्नर नहीं करना चाहिए, इससे बाल खराब हो जाते हैं। जबकि ऐसा नहीं है बालों की कंडीशनिंग करने से बालों की चमक बरकरार रहती है और बाल मुलायम रहते है।
  • एक मिथ यह भी है कि दिन में कई बार बालों में कंघी करने से बाल सुलझे रहेंगे और दिनभर की गंदगी निकल जाएगी। जबकि यह सिर्फ एक मिथ है क्योंकि बार-बार कंघी करने से न सिर्फ बाल खराब होने की संभावना रहती बल्कि बाल ड्राई भी हो सकते हैं।
  • कुछ लोग मानते हैं कि रोज शैंपू करने से कोई फर्क नहीं पड़ता जबकि ऐसा नहीं। कैमिकल युक्त शैंपू से आपके बाल खराब हो सकते हैं। हां, ऑयली स्कॉल्प वाले लोग प्रतिदिन शैंपू कर सकते हैं लेकिन प्रा‍कृतिक या आयुर्वेदिक जड़ीबूटियों से बना।
  • अधिक शैंपू के प्रयोग से सिर की त्वचा शुष्क हो जाती है। इसीलिए शैंपू और कंडीशनर दोनों को ही जरूरत के हिसाब से लगाना चाहिए।
  • एक मिथ के अनुसार गीले बालों में कंघी करना अच्छा रहता है। जबकि गीले बालों में कंघी करने से बालों के कमजोर होने और टूटने की संभावना अधिक रहती है। हां आप गीले बालों में अंगुलियों से हाथ फेरकर उन्हें सुलझा जरूर सकते हैं।
  • कुछ लोग मानते हैं कि हेयर ड्रायर से बाल खराब नहीं होते। यह भी मिथ है हेयर ड्रायर से बालों को काफी नुकसान पहुंचता है। इसीलिए बहुत अधिक जरूरत पड़ने पर ही हेयरड्रायर का इस्तेमाल करना चाहिए।
  • एक मिथ ये भी है कि बालों को कलर कराने से उन पर कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता। ऐसा नहीं है बालों को हमेशा के लिए कलर कराना नुकसानदायक होता है। आमतौर पर भी बालों को कलर कराने से बालों को हानि पहुंचती है क्योंकि हेयर कलर में मिला हुआ अमोनिया बालों को नुकसान पहुंचाता है।
  • अगर आपके बाल दो मुंहे हैं तो कोई भी शैंपू उन्हें ठीक नहीं कर सकता। अक्सर लोग सोचते हैं कि हाई क्वॉलिटी शैंपू यूज़ करने से बाल ठीक हो जाएंगे। वह थोड़े ठीक होते हैं, लेकिन बहुत कम समय के लिए।
  • अगर आप यह सोचते हैं कि शैंपू झाग वाला होगा, तो बाल अच्छे से साफ होंगे तो आपकी सोच गलत है। बालों को साफ करने के लिए थोड़ा-सा शैंपू ही काफी होता है। यह मायने नहीं करता कि शैंपू में झाग है या नहीं।

 

Read more articles on Beauty in hindi.

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES19 Votes 22046 Views 1 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर