छह आदतें जो आपको फायदा कम नुकसान ज्‍यादा पहुंचाती हैं

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 17, 2014
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • आदत अपनाने से पहले उसके प्रभावों के बारे में जानना जरूरी।
  • नल का पानी सेहत के लिए उतना भी बुरा नहीं, जितना आप समझते हैं।
  • सेनेटाइजर का अधिक इस्‍तेमाल करने से सेहत पर पड़ता है बुरा असर।
  • बार-बार ब्रश करने से दांतों की सेहत पर बुरा असर पड़ता है।

आप एक पक्‍के डायट प्‍लान पर चलते हैं। रोजाना जिम जाकर व्‍यायाम करते हैं। अपने घर और ऑफिस के बीच सही तालमेल बनाकर रखते हैं। लेकिन, यह जानकार शायद आपको हैरानी हो कि फिट और सेहतमंद बने रहना उतना आसान नहीं है, जितना कि आप अभी तक सोचते चले आए हैं। कई ऐसी आदतें हैं जो आपकी नजर में सेहतमंद हो सकती हैं, लेकिन वास्‍वत में ऐसा नहीं है। वे आदतें आपके जीवन का हिस्‍सा बन चुकी हैं और अब वे आपकी सेहत को नुकसान पहुंचाने का काम कर रही हैं।


बार-बार हैंड सेनेटाइजर का इस्‍तेमाल करना

आपको साफ-सफाई कुछ ज्‍यादा ही पसंद है। और आप किसी भी चीज को हाथ लगाने से पहले सेनेटाइजर का इस्‍तेमाल करते हैं। आपकी नजर में यह कीटाणुओं से बचने का तरीका हो सकता है, लेकिन वास्‍तव में यह आदत आपको बीमार बना रही है। कई शोध इस बात को साबित कर चुके हैं कि सेनेटाइजर में ट्रिक्‍लोसन होता है जो एंटीबॉयोटिक दवाओं के खिलाफ प्रतिरोधी बैक्‍टीरिया और वायरस को बढ़ावा दे सकता है।

habit

भोजन के बाद ब्रश करना

स्‍वस्‍थ और चमचमाते दांत पाने के लिए आप हमेशा भोजन करने के बाद ब्रश करते हैं। लेकिन, यह आदत अच्‍छी नहीं। हर बार जब आप भोजन करते हैं, आपके दांतों का इनेमल कमजोर हो जाता है। और जब आप इस कमजोर इनेमल पर ब्रश करते हैं, तो इस बात की आशंका होती है कि यह इनेमल पूरी तरह हट जाए। इसके लिए आपको चाहिए कि भोजन के बाद दांतों में फंसी गंदगी साफ करने के लिए केवल साफ पानी से कुल्‍ला कर लीजिए। दिन में केवल सुबह और रात को ही ब्रश करें।

भोजन न करना

वजन बढ़न के डर से आप अकसर दिन का कोई भोजन छोड़ देते हैं। आपको लगता है कि इससे आप बढ़ते वजन को काबू कर पाने में कामयाब होंगे। लेकिन, आप अनजाने में ही अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। क्‍या आपको मालूम है कि भोजन छोड़ने से आपको अधिक भूख लगती है। और इस चक्‍कर में अगले भोजन में जरूरत से कैलोरी का उपभोग कर लेते हैं। वजन कम करने का सही तरीका यही है कि आप भोजन में अपनी कैलोरी का खयाल रखें और कम मात्रा में भोजन करें।

नल का पानी न पीना

नल के स्‍थान पर केवल हाइजीन पानी पीकर आप खुद को कई बीमारियों से दूर रखना चाहते हैं। लेकिन, ऐसा नहीं है। बोतलबंद पानी में फ्लोराइड बिलकुल नहीं होता। ऐसे में जब भी आप यह पानी पीते हैं, तो आपके शरीर में फ्लोराइड की कमी हो जाती है। इससे दांत कमजोर हो सकते हैं।


जिम में सिर्फ काडियो करना

वजन कम करने के इच्‍छुक लोगों के लिए काडियो व्‍यायाम सबसे अच्‍छे माने जाते हैं। लेकिन, यदि आप अपने व्‍यायाम में किसी प्रकार का बदलाव नहीं लाएंगे, तो आपका शरीर उस व्‍यायाम का आदी हो जाएगा। और एक स्थिति ऐसी आएगी, जब आपका वजन कम होना बंद हो जाएगा। कुछ ऐसे ट्रेनिंग वर्कआउट करने का प्रयास कीजिए, जो कैलोरी कम करने के साथ-साथ आपके फिटनेस प्रोग्राम में नयापन भी लेकर आए।

habits

पौष्टिक सप्‍लीमेंट्स का सेवन

अपने शरीर के विटामिन और मिनरल की जरूरतों को पूरा करने के लिए लोग अकसर सप्‍लीमेंट्स का सेवन करना शुरू कर देते हैं। वे उसके नफे-नुकसान के बारे में ज्‍यादा सोच विचार नहीं करते। ऐसा करना आपके लिए अच्‍छा नहीं। आपको भोजन करने से पहले उसके बारे में सभी जरूरी बातों का पता लगाना चाहिए। संभव है कि आपके भोजन से ही शरीर की सभी पोषण आवश्‍यकतायें पूरी हो रही हों। ऐसे में बिना जानकारी के इन पोषक तत्‍वों का सेवन करने से दुष्‍प्रभाव होने का खतरा होता है।

तो, जैसे हर चमकती चीज सोना नहीं होती, वैसे ही जिस आदत को आप स्‍वस्‍थ समझते हों, जरूरी नहीं कि वह अच्‍छी ही हो। तो, इसलिए जरूरी है कि किसी भी आदत को अपनाने से पहले पूरे नफे-नुकसान का आकलन कर लें। इन आदतों को अपनी रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्‍सा बनाना काफी आसान लग सकता है, लेकिन सेहत पर पड़ने वाले उनके प्रभावों के बारे में जानना है जरूरी।





Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES3 Votes 1482 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर