उम्र बढ़ने के साथ ही गेरिएट्रिशन से मिलना क्यों है ज़रूरी

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 17, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • गेरिएट्रिशन वृद्ध शरीर की देखभाल के लिए विशेषतौर पर प्रशिक्षित किये जाते हैं।
  • बुजुर्ग व्यक्ति व युवा व्यक्ति में बीमारी के बीच विभेद करता है गेरिएट्रिशन।
  • कमजोरी उम्र बढ़ने का एक अनिवार्य हिस्सा है, जिसे पहचानते हैं गेरिएट्रिशन।
  • दवाओं के दुष्प्रभाव और दवा के असर की बेहतर पहचान करता है गेरिएट्रिशन।

गेरिएट्रिशन वृद्ध शरीर की देखभाल में प्रशिक्षित वरिष्ठ स्वास्थ्य में विशेषज्ञ होते हैं। उनका ज्ञान अपने वृद्धावस्था के सालों के दौरान आपको खुश और स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है।


ऐसे में कुछ सवाल ज़हन में आते हैं। जैसे कि जिस चिकित्सक के पास आप 30 साल से जा हैं, लेकिन 80 साल का हो जाने पर आपका परिवार चाहता है कि आपको अब एक ऐसे डॉक्टर के पास जाना चाहिए जो कि बड़ी उम्र के लोगों के इलाज के लिए प्रशिक्षित हो। तो क्या औपको सच में स्विच करने की जरूरत है? क्या एक गेरिएट्रिशन जो केवल बड़े लोगों को देखता है अब आपके लिए सही है? क्या आपका फैमली डॉक्टर बहुत नहीं है? एक गेरिएट्रिशन ऐसा क्या कर सकता है, जो आपका फैमली डॉक्टर नहीं कर सकता।

 

Geriatrician in Hindi

 

इन सभी सवालों का जवाब वास्तव में आपके स्वास्थ्य पर निर्भर करता है। यदि आपका स्वास्थ्य स्थिर बना हुआ है तो पुराना डॉक्टर भी आपके लिए ठीक रहता है। क्योंकि आपका फैमली डॉक्टर आपकी फैमली हिस्ट्री, चिकित्सा के इतिहास के बारे में सब जानता है। तथा वह पहले से ही अपने उच्च रक्तचाप की निगरानी और अपने कोलेस्ट्रॉल के लिए दवा का नवीकरण करता रहा/रही है। तो यदि आपकी जीवन शैली अभी भी अपरिवर्तित बनी हुई है, तो शायद आपके पास गेरिएट्रिशन के पास जाने का कोई भारी कारण नहीं है।

एक गेरिएट्रिशन आपके स्वास्थ्य को लाभ कैसे पहुंचा सकता है

गेरिएट्रिशन को किसी बुजुर्ग व्यक्ति में बीमारी व युवा व्यक्ति में बीमारी के बीच विभेद करने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है। वे स्वतंत्र रहने और सामाजिक समर्थन को बनाए रखने के महत्व को जानते हैं। वे ये भी जानते हैं कि कैसे उम्र बढ़ने और देखभाल के लिए होलिस्टिक दृष्टिकोण का उपयोग किया जाता है। तो चलिये जनते हैं कि कैसे कोई गेरिएट्रिशन अधिक गंभीर वरिष्ठ स्वास्थ्य के मुद्दों में से कुछ के लिए दृष्टिकोण बनाते हैं।

निर्बलता (फ्रेल्टी)

कमजोरी उम्र बढ़ने का एक अनिवार्य हिस्सा है, लेकिन यह अलग अलग समय व मौकों पर स्वतंत्र रूप से कार्य करने की बुजुर्ग व्यक्ति की क्षमता को प्रभावित कर सकता है। जैसे कि फॉल्स के लिए उन्हें अतिसंवेदनशील बनाना तथा और अधिक पर्यवेक्षण और सहायता की जरूरत होना। ऐसे में एक गेरिएट्रिशन समस्याओं का पूर्वानुमान और उसके हिसाब से देखभाल की योजना तैयार कर सकता है।

 

Geriatrician in Hindi

 

एकाधिक चिकित्सा समस्याएं

कई वरिष्ठ कई चिकित्सा स्थितियों का प्रबंधन कर लेते हैं, जैसे गठिया, हृदय रोग, मधुमेह, और तंत्रिका संबंधी समस्याएं आदि। हालांकि एक गेरिएट्रिशन को वरिष्ठ नागरिकों में इस प्रकार की स्थितियों से निपटने के लिए विशेष प्रशिक्षण दिया जाता है।

कई दवाएं

एक से अधिक चिकित्सा समस्याओं में अक्सर कई दवाओं का सेवन करने की आवश्यकता होती है। और किसी वृद्ध शरीर में युवा शरीर की तुलना में दवाओं का रिएक्शन कहीं तेज होता है। गेरिएट्रिशन्स को वरिष्ठ नागरिकों में दवाओं के दुष्प्रभाव और दवा के असर की बेहतर पहचान करने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है।

मानसिक गिरावट

संज्ञानात्मक क्षमता का आंशिक रुप से नुकसान भी उम्र बढ़ने का एक अनिवार्य हिस्सा है, लेकिन कुछ लक्षण अवसाद या अल्जाइमर रोगों की सामान्य स्थितियों का संकेत भी हो सकते हैं। गेरिएट्रिशन्स को सामान्य उम्र बढ़ने के संकेत तथा अधिक गंभीर बीमारी के बीच फर्क पता करने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है। वे इस प्रकार की स्थिति के लिए उचित उपचार भी प्रदान कर सकते हैं।


जरूरी नहीं है वृद्ध गेरिएट्रिशन्स से तभी मिलें जब वो बीमार हों, बल्कि अपने अच्छे स्वास्थ्य के लिए वो उनसे रूटीन चेकअप करा सकते हैं।

 

Read More Articles on

Image Source - Getty Images

 

गेरिएट्रिशन वृद्ध शरीर की देखभाल में प्रशिक्षित वरिष्ठ स्वास्थ्य में विशेषज्ञ होते हैं। उनका ज्ञान अपने वृद्धावस्था के सालों के दौरान

आपको खुश और स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है।


ऐसे में कुछ सवाल ज़हन में आते हैं। जैसे कि जिस चिकित्सक के पास आप 30 साल से जा हैं, लेकिन 80 साल का हो जाने पर

आपका परिवार चाहता है कि आपको अब एक ऐसे डॉक्टर के पास जाना चाहिए जो कि बड़ी उम्र के लोगों के इलाज के लिए प्रशिक्षित

हो। तो क्या औपको सच में स्विच करने की जरूरत है? क्या एक गेरिएट्रिशन जो केवल बड़े लोगों को देखता है अब आपके लिए सही

है? क्या आपका फैमली डॉक्टर बहुत नहीं है? एक गेरिएट्रिशन ऐसा क्या कर सकता है, जो आपका फैमली डॉक्टर नहीं कर सकता।


इन सभी सवालों का जवाब वास्तव में आपके स्वास्थ्य पर निर्भर करता है। यदि आपका स्वास्थ्य स्थिर बना हुआ है तो पुराना डॉक्टर

भी आपके लिए ठीक रहता है। क्योंकि आपका फैमली डॉक्टर आपकी फैमली हिस्ट्री, चिकित्सा के इतिहास के बारे में सब जानता है।

तथा वह पहले से ही अपने उच्च रक्तचाप की निगरानी और अपने कोलेस्ट्रॉल के लिए दवा का नवीकरण करता रहा/रही है। तो यदि

आपकी जीवन शैली अभी भी अपरिवर्तित बनी हुई है, तो शायद आपके पास गेरिएट्रिशन के पास जाने का कोई भारी कारण नहीं है।


एक गेरिएट्रिशन आपके स्वास्थ्य को लाभ कैसे पहुंचा सकता है
गेरिएट्रिशन को किसी बुजुर्ग व्यक्ति में बीमारी व युवा व्यक्ति में बीमारी के बीच विभेद करने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है। वे

स्वतंत्र रहने और सामाजिक समर्थन को बनाए रखने के महत्व को जानते हैं। वे ये भी जानते हैं कि कैसे उम्र बढ़ने और देखभाल के

लिए होलिस्टिक दृष्टिकोण का उपयोग किया जाता है। तो चलिये जनते हैं कि कैसे कोई गेरिएट्रिशन अधिक गंभीर वरिष्ठ स्वास्थ्य के

मुद्दों में से कुछ के लिए दृष्टिकोण बनाते हैं।


निर्बलता (फ्रेल्टी)
कमजोरी उम्र बढ़ने का एक अनिवार्य हिस्सा है, लेकिन यह अलग अलग समय व मौकों पर स्वतंत्र रूप से कार्य करने की बुजुर्ग व्यक्ति

की क्षमता को प्रभावित कर सकता है। जैसे कि फॉल्स के लिए उन्हें अतिसंवेदनशील बनाना तथा और अधिक पर्यवेक्षण और सहायता

की जरूरत होना। ऐसे में एक गेरिएट्रिशन समस्याओं का पूर्वानुमान और उसके हिसाब से देखभाल की योजना तैयार कर सकता है।


एकाधिक चिकित्सा समस्याएं
कई वरिष्ठ कई चिकित्सा स्थितियों का प्रबंधन कर लेते हैं, जैसे गठिया, हृदय रोग, मधुमेह, और तंत्रिका संबंधी समस्याएं आदि।

हालांकि एक गेरिएट्रिशन को वरिष्ठ नागरिकों में इस प्रकार की स्थितियों से निपटने के लिए विशेष प्रशिक्षण दिया जाता है।


कई दवाएं
एक से अधिक चिकित्सा समस्याओं में अक्सर कई दवाओं का सेवन करने की आवश्यकता होती है। और किसी वृद्ध शरीर में युवा शरीर

की तुलना में दवाओं का रिएक्शन कहीं तेज होता है। गेरिएट्रिशन्स को वरिष्ठ नागरिकों में दवाओं के दुष्प्रभाव और दवा के असर की

बेहतर पहचान करने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है।


मानसिक गिरावट
संज्ञानात्मक क्षमता का आंशिक रुप से नुकसान भी उम्र बढ़ने का एक अनिवार्य हिस्सा है, लेकिन कुछ लक्षण अवसाद या अल्जाइमर

रोगों की सामान्य स्थितियों का संकेत भी हो सकते हैं। गेरिएट्रिशन्स को सामान्य उम्र बढ़ने के संकेत तथा अधिक गंभीर बीमारी के

बीच फर्क पता करने के लिए प्रशिक्षित किया जाता है। वे इस प्रकार की स्थिति के लिए उचित उपचार भी प्रदान कर सकते हैं।



Read More Articles On Healthy Living in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES3 Votes 1199 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर