डायबिटीज़ में बनाएं और खाएं ये स्वादिष्ट ग्लूटन फ्री व्यंजन

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 07, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • ग्लूटन (लस) एक तरह का प्रोटीन होता है।
  • इनके सेवन से ब्लड शुगर नहीं बढ़ता है।
  • ग्लूटन फ्री पम्पकिन वेफल्स बेहतर विकल्प।
  • पनीरी मालपूआ भी हैं स्वादिष्ट ग्लूटन फ्री व्यंजन।

ग्लूटन फ्री भोजन करने का मतलब यह नहीं की आपको अपने पसंदीदा व्यंजन का त्याग करना पडेगा, आप अपने पसंदीदा व्यंजनों को भी ग्लूटन फ्री बना सकते हैं। ग्लूटन फ्री भोजन डायबिटीज के मरिजों के लिए बेहतर होता है। इनसे ब्लड शुगर नहीं बढ़ेगा साथ ही यह ब्लड शुगर को नियंत्रित भी रखा जा सकता है। यह उन लोगों के लिए भी एक कमाल का विकल्प है जिन्हें ग्लूटन से एलर्जी होती है। तो चलिये जानते हैं कुछ कमाल के स्वादिष्ट ग्लूटन फ्री व्यंजनों और उनको बनाने की विधी के बारे में।

 

दरअसल ग्लूटन (लस) एक तरह का प्रोटीन होता है, जो गेहूं में पाया जाता है। ध्यान रहे इसका वजन बढ़ने से कोई संबंध नहीं होता है। जिन्हें ग्लूटन से एलर्जी से है, या वे लोग जो डायबिटीज़ के शिकार हैं, केवल उन्हें ही ग्लूटन फ्री भोजन करना चाहिए। तो पेश-ए-ख़िदमत हैं डायबिटिक लोगों के लिए नाश्ते, दोपहर के भोजन और रात के खाने के लिए ग्लूटन लस मुक्त लज़ीज़ व्यंजनों की रेसेपीज़।

 

 

Gluten Free Recipes

 

 

ग्लूटन फ्री पम्पकिन वेफल्स

ग्लूटन फ्री पम्पकिन वेफल्स एक लज़ीज व्यंजन है। कमाल की बात तो यह है कि दो वेफसल्स में कार्बोहाइड्रेट की सिर्फ 26 ग्राम ही होता है। आप इसे थोड़े से बटर के साथ खाकर इसका स्वाद दोगुना भी कर सकते हैं।

 

कितना -  6 पीस
पर सर्विंग कार्बोहाइड्रेट - 26 ग्राम



सामग्री

  • 1/2 कप ग्लूटन फ्री आटा
  • 1/2 कप वेनिला फ्लेवर वे प्रोटीन पाउडर
  • 1/4 कप नारियल का आटा
  • 1/4 कप फ्लेस सीड
  • 2 चम्मच अरारोट
  • 2 चम्मच दालचीनी
  • 1/2 चम्मच बेकिंग सोडा
  • 1/2 चम्मच कच्चा अदरक
  • 1 कप बादाम का दूध
  • 3/4 कप कद्दू
  • 3 अंडों का सफेद भाग
  • 1 चम्मच ग्रेपसीड ऑयल
  • 1 चम्मच वेनिला
  • नॉनस्टिक कुकिंग स्प्रे




बनाने की विधि

सबसे पहले वेफल बेकर को गर्म करें (ध्यान रहे कि वेफ़ल बेकर अच्छी तरह से गरम हो जाए और चिपके नहीं)। अब माइक्रोवेव का तापमान भी 200 डीग्री सेट कर लें। इसके बाद एक कटोरे में ग्लूटन फ्री आटा, नारियल का आटा, वेनिला फ्लेवर वे प्रोटीन पाउडर, अरारोट, फ्लेस सीड, दालचीनी, अदरक व बेकिंग सोडा आदि ले लें। अब एक दूसरे कटोरे में बादाम का दूध, कद्दू, अंडे का सफेद भाग, ग्रेपसीड तेल और वेनिला ले कर फैंट लें। इसके बाद आटे के कटोरे को दूसरे कटोरे में पलट कर अच्छे से मिला लें। अब पांच से दस मिनच के लिए इसे रखा रहने दें, जब तक ये मिश्रण थोड़ा टाइट ना हो जाए। अब एक कटोरी में थोड़ा वटर लेकर उसे हाथों पर लगाएं और मिश्रण के वेफल्स बना कर माइक्रोवेव में लगा दें। हिसाब से इन्हें पकाएं और फिर बटर के साथ परोसें।  

 

पर सर्विंग न्यूट्रीशन
196 कैलोरी, 6 ग्राम कुल वसा (1 ग्राम वसा फैट), 338 मिलीग्राम सोडियम, 26 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, (6 ग्राम फाइबर, 10g शर्करा), 13 ग्राम प्रोटीन

 

 

Gluten Free Recipes

 

 

पनीरी मालपूआ

तवे पर बने टेस्टी व्यंजन पनीरी मालपूआ ग्लूटन फ्री होते हैं और इनके प्रत्येक स्नैक से मात्र 120-130 कैलोरी मिलती है।


सामग्री
फुलक्रीम मिल्क - आधा लीटर
मैदा - आधा कप
बारीक सूजी - एक बड़ा चम्मच
पिसी हुई हरी इलायची - एक-चौथाई छोटा चम्मच
पनीर - आधा कप कद्दूकस किया हुआ
चीनी - 250 ग्राम  
पानी - 100 मिलीलीटर  
देसी घी - मालपुए सेंकने के लिए
बादाम व पिस्ता बारीक कटे हुए

 

बनाने की विधि
दूध को आंच पर इतना गाढ़ा करें कि वह आधा रह जाए, अब उसमें एक बड़ा चम्मच चीनी डालकर ठंडा कर लें। इसके बाद इसमें मैदा, सूजी और हरी इलायची का पाऊडर मिला कर 5 मिनट रखें। फिर एक दूसरे बर्तन में चीनी व पानी डाल कर एक तार की चाशनी तैयार कर लें। अब एक नॉन-स्टिक तवे पर देसी घी डाल कर चम्मच से थोड़ा मिश्रण डालकर उसे फैलाएं और मालपूए सेंक लें, इन मालपुओं को गर्म चाशनी में एक घंटा भिगो कर रखें। इन पर कद्दूकस किया पनीर थोड़ा-थोड़ा बीच में फैलाएं और पिस्ता व बादाम बुरक कर सर्व करें। चाहें तो साथ में खीर या कद्दू की खट्टी सब्जी भी सर्व कर सकते हैं, मालपुओं को खाने का स्वाद बढ़ जाएगा।    


डायबिटिक लोगों के अलावा जिन लेगों को गेहूं से बने व्यंजन खाने से एलर्जी होती है, उनके लिए भी ग्लूटन फ्री फूड कमाल के स्वादिष्ट विकल्प हैं। दरअसल गेहूं में ग्लूटन नामक प्रोटीन होता है और यही एलर्जी का मुख्य कारण है। बाजरे में यह प्रोटीन नही होता। आंचल जौहरी ने बताया कि बाजरे में वैसे भी गेहूं के मुकाबले ज्यादा प्रोटीन होता है।

 

 

Read More Articles On Diabets In Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES13 Votes 2141 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर