बसंत पंचमी के मौके पर बनाएं ये खास मिठाई

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 01, 2017
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • बसंत पंचमी में पीला रंग प्रमुख होता है।
  • इस दिन लोग पीले रंग के कपड़े पहनते हैं।
  • पीले रंग की मिठाई भी बनाई जाती है।

बसंत पंचमी बसंत ऋतु का एक प्रसिद्ध त्यौहार है, जिसमें बुद्धि, विद्या और ज्ञान की देवी, सरस्वती की पूजा की जाती है। पीले रंग के इस त्‍यौहार की अपनी मान्‍यता है क्‍योंकि यह प्रकृति की प्रतिभा और जीवन की जीवंतता का प्रतीक है। बसंत पंचमी में पीला रंग प्रमुख होता है। इस दिन लोग ना केवल पीले रंग के कपड़े पहनते हैं, बल्कि देवी-देवताओं और दूसरों को पीले रंग के फूल भी देते हैं साथ ही देवी को चढ़ाने के लिये बनने वाला भोजन भी पीले रंग का होता है।  

भोग के लिए तथा परिवार के लिए पीले रंग की मिठाई बनाई जाती है। विशेषकर केसर युक्त पीले चावल घर-घर में बनाये जाते है। इन्हें पीले मीठे केसरी भात के नाम से भी जाना जाता है। आइए इस विशेष दिन का आनंद उठाने के लिए केसर युक्‍त पीले मीठे चावल बनाने की विधि के बारे में जानें।

rice in hindi

इसे भी पढ़ें : लाजवाब परवल की मिठाई मिनटों में बनायें

केसरिया चावल बनाने की सामग्री

  • चावल- 1  कप
  • पीला रंग (खाने वाला) - एक चुटकी
  • केसर - 15 पत्ती  
  • छोटी इलायची- 4   
  • चीनी - 3 /4  कप
  • देशी घी - 2 चम्मच
  • पानी - 5 -6  कप
  • तेजपत्ता - 1                          
  • लौंग - 2                                     
  • साबुत हरी इलायची - 5
  • कटे हुए बादाम - 1 चम्मच
  • कटे हुए काजू -1 चम्मच

 

केसरिया चावल बनाने की विधि

  • चावल को धोकर आधे घंटे के लिए भिगो दें।
  • केसर को आधी कटोरी दूध में भिगो कर रख दें व इसमें पीला रंग भी मिला दें।
  • इलायची को छीलकर पीस लें और काजू और बादाम को काट कर रख दें।
  • अब चावल को पानी डालकर उबाल लें।
  • चावल पकने के बाद इसमें से पानी निकालकर छानकर अलग से रख दें।
  • धीमी आंच पर काजू गुलाबी होने तक फ्राई करके एक प्लेट में निकाल लें।
  • फिर एक भारी तले वाले बर्तन में आधा चम्मच घी डालकर गर्म करें।
  • इसमें तेजपत्ता, लौंग व इलायची डालें।
  • अब इसमें चावल डालें फिर शक्कर भी डाल दें।
  • तैयार केसर और रंग का मिश्रण इसमें मिला दें।
  • पिसी इलायची, काजू और बादाम मिला दें। आपके केसरिया चावल तैयार है।

इसे गर्म और ठंडा दोनों तरह से खाया जा सकता है, जैसा भी आपको पसंद हो। तो देर किस बात की आज इस मौके पर जरूर बनाएं केसरिया चावल।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Image Source : blogspot.com

Read More Articles on Festival Special in Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES1286 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर