इन आहारों का सेवन बढ़ा सकता है आपका सिरदर्द

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 19, 2015
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • कुछ आहारों का सेवन बन सकता है सिरदर्द का कारण।
  • आहारों मे शामिल टाईरामाँइन, ट्रीपटोफान नुकसानदायक।
  • सावधानी से करे पनीर, कैफीन, खट्टे फलों आदि का सेवन।
  • आहारों की तासीर और व्यक्ति पर निर्भर करते है इसके प्रभाव। 

 

यूँ तो सर दर्द कई कारणों से होता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि कुछ खाद्य पदार्थ भी ऐसे होते हैं जो सर दर्द को बढ़ावा देते है। अगर आप नहीं जानते तो यह लेख आपके लिए बहुत हीं उपयोगी है क्योंकि कई लोग अज्ञानतावश कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करते जाते हैं जो उनके सर दर्द को बढ़ाने में उत्प्रेरक का काम करता है या सर दर्द को वापस लाता है और उन्हें इस बात का पता भी नहीं चल पाता कि उन्हें सर दर्द क्यों हुआ है।


पनीर


पनीर में टाईरामाँइन नामक एंजाइम शामिल रहता है  जो आपके रक्तचाप को बढाता है। रक्तचाप बढ़ने से सर दर्द में बढ़ोतरी होती है एवं अनेक जटिलताएं पैदा होती हैं। ऐसा जरुरी नहीं है कि पनीर खाने के तुरंत बाद आपका सर दर्द करने लगे। हो सकता है कि पनीर खाने के  2-3 घंटे के बाद या 6-7 घंटे के बाद सर दर्द उठे। इसलिए अगर आपको सर दर्द की शिकायत होती हो तो जरा गौर करें कि कहीं पनीर खाने की वजह से आपको सर दर्द तो नहीं होता।दही में भी टाईरामाँइन मौजूद रहता है इसलिए अगर आप अक्सर सर दर्द से परेशान रहते हैं तो दही का सेवन कम से कम करें या न करें।

 

कैफीन

यूँ तो कॉफ़ी पीने से मूड फ्रेश यानि ताजा हो जाता है लेकिन कुछ लोगों में यह  सर दर्द का भी कारण बनता है। इसलिए अगर आपको सर दर्द की शिकायत रहती हो तो एकाध कप हीं कॉफ़ी पिया करें या बिलकुल न पिया करें। लेकिन अगर आपको कॉफ़ी पीने की आदत है तो उसे पीना एकाएक बंद न करें वरना आपको सर दर्द रहने लग सकता है। कॉफ़ी पीना धीरे धीरे कम करें।

कैफीन

 

खट्टे फल

जो फल खट्टे होते हैं या जिनमें बहुत ज्यादा मात्रा में विटामिन सी होता है उनकी वजह से आपका शरीर खाद्य पदार्थों में से ताम्बे को अवशोषण ज्यादा करता है और तांबा आपके सर दर्द को बढ़ाता है। अतः अगर आपको बराबर सर दर्द रहता हो तो खट्टे फल यानि साईंट्र्स फ्रुट्स का सेवन कम से कम किया करें।अगर आप माईग्रेन के मरीज हैं तो खट्टे अचार एवं चोकलेट इत्यादि का सेवन बिलकुल न करें क्योंकि इनसे आपका सर दर्द बहुत हद तक बढ़ सकता है।


प्रोटीन

आपको उन खाद्य पदार्थों का भी त्याग करना चाहिए जिनमें प्रोटीन बहुत ज्यादा मात्रा में होता है क्योंकि इनमें ट्रीपटोफान नामक अमीनो एसिड होता है जो सर दर्द को बढ़ाने में उत्प्रेरक का काम करता है। स्मोक्ड मछली  खाने से भी  सर दर्द में इजाफा होता है अतः इस प्रकार की मछली खाने से परहेज करें क्योंकि इनमें टाईरामाँइन होता है जो सर दर्द को बढ़ाने में उत्प्रेरक का काम करता है । कुछ लोगों का शरीर टाईरामाँइन को तोड़ नहीं पाता और अगर आपका शरीर टाईरामाँइन को नहीं तोड़ पायेगा तो आपको सर दर्द होगा और यदि पहले से सर दर्द है तो उसमें बढ़ोतरी होगी।

शराब, बीयर, ब्रांडी, रेड वाइन

 

शराब, बीयर, ब्रांडी, रेड वाइन

जरुरत से ज्यादा शराब, बीयर, ब्रांडी, रेड वाइन इत्यादि पीने से भी सर दर्द करता है। यूँ तो इनका सेवन बिलकुल हीं नहीं करना चाहिए क्योंकि ये सेहत के लिए बहुत हीं हानिकारक होते है लेकिन अगर आपको इनकी आदत है तो एकाएक इन्हें छोड़ने से भी आपको सर दर्द हो सकता है। अतः इनका सेवन धीरे धीरे कम करते जाएँ और कभी भी यार-दोस्तों के बहकाने पर अपनी सीमा से ज्यादा शराब न पीयें।


ऐसा कोई जरुरी नहीं है कि जिस खाद्य पदार्थ से किसी अन्य व्यक्ति का सर दर्द बढ़ता हो उस खाद्य पदार्थ से आपका भी सर दर्द बढेगा। हर व्यक्ति के लिए अलग अलग खाद्य पदार्थ सर दर्द के कारक बन सकते हैं।

Image Source- Getty

Read More Article On Healthy Eating in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES9 Votes 16237 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर