फास्‍ट-फूड से हो सकती है अनिद्रा की शिकायत

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 20, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

अगर आप फास्‍टफूड के दीवाने हैं तो आप अपने लिए मोटापे और डायबिटीज जैसी बीमारियों को तो न्‍योता दे ही रहे हैं साथ ही आप अनिद्रा जैसी बीमारी के भी शिकार हो सकते हैं।


fast foodse ho sakti hai anidra ki shikayatफास्‍टफूड के शौकीनों के लिए पिज्‍जा-बर्गर से बढ़कर कुछ नहीं। लेकिन अब उनके पास इसे छोड़ने की एक बड़ी वजह है। पेंसलिवेनिया यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने अपने हालिया शोध में पाया है कि फास्‍टफूड में कैलोरी की मात्रा काफी अधिक होती है। इसके सेवन से न सिर्फ मोटापे और डायबिटीज का खतरा बढ़ता है, बल्कि अनिद्रा की शिकायत भी हो सकती है।

[इसे भी पढ़ें- फास्‍ट फूड से बच्‍चे बन सकते हैं 'बुद्धू']

इस अध्‍ययन में शोधकर्ताओं ने एक हजार से ज्‍यादा अमेरिकी नागरिकों के खानपान का विश्‍लेषण किया। उन्‍होंने उनके सोने और जागने के समय पर नजर रखी। अध्‍ययन में पाया गया कि जिन लोगों के आहार में फास्‍ट फूड शामिल थे, उनमें नींद से जुडी़ समस्‍याएं अधिक देखी गईं। दरअसल, फास्‍टफूड में सैचुरेटेड फैट और कोलीन की मात्रा अधिक होती है। इन चीजों को पचाने में शरीर को काफी मशक्‍कत करनी पड़ती है, जिसका सीध असर व्‍यक्ति की नींद पर पड़ता है। अध्‍ययन में अच्‍छी नींद के लिए चाय, चॉकलेट, अण्‍डा, मांस और शराब से भी दूर रहने की बात कही गई है।

इसके साथ ही अध्‍ययन में कहा गया है कि रोज आठ से दस गिलास पानी पीना और विटामिन सी युक्‍त फल-सब्‍जी खाना बेहद जरूरी है। संतरे, नींबू, आंवला, टमाटर, ब्रोकली और मौसमी में विटामिन सी भरपूर मात्रा में मिलता है।

[इसे भी पढ़ें- नशा है जंक फूड की लत]


शोधकर्ताओं ने यह भी देखा कि सेलेनियम और लाइपोपीन नींद से जुड़ी समस्‍या को दूर करने में कारगर हैं। बादाम और मछली जहां सेलेनियम का बेहतरीन स्रोत हैं, वहीं लाल व नारंगी रंग के फल-सब्‍जी खाने से शरीर में लाइपोपीन की आपूर्ति होती है। मिनरल और विटामिन युक्‍त आहार भी अच्‍छी नींद की सौगात दे सकते हैं।

Read More Articles on Health News in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES5 Votes 2265 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर