प्‍लास्टिक बॉक्‍स में खाने से झड़ सकते हैं आपके बाल

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 21, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • प्‍लास्टिक के इस्‍तेमाल से बाल झड़ने लगते हैं।
  • ऐसा बिस्फेनॉल की उपस्थिति के कारण होता है।
  • मेटाबॉलिक डिस्‍आर्डर से बाल झड़ने शुरू होते हैं।
  • माइक्रोवेव हीटिंग ब्‍लड में प्‍लास्टिक का संचय।

क्‍या आप प्‍लास्टिक के बॉक्‍स में खाते हैं? आपको यह सवाल अजीब लग रहा होगा, लेकिन यहां दिये शोध के निष्‍कर्ष जानने के बाद ऐसा नहीं होगा। बेंगलुरू क्लीनिक में बालों के झड़ने का उपचार करवाने आये 92 प्रतिशत से अधिक लोगों के खून में प्‍लास्टिक (BPA) पाया गया। यह रिसर्च हेयरलाइन इंटरनेशल रिसर्च एंड ट्रीटमेंट सेंट्रर में एक वर्ष से अधिक बार 1 हजार रोगियों (430 महिलाओं और 570 पुरुषों) से ब्‍लड और यूरीन सैपल एकत्रित करके शामिल किया गया।

plastic box in hindi

शोध के अनुसार

हेयरलाइन इंटरनेशल रिसर्च एंड ट्रीटमेंट सेंट्रर में किये शोध के अनुसार, ब्‍लड सैंपल टेस्‍ट में बिस्फेनॉल (BPA) की उपस्थिति देखी गई। बिस्फेनॉल कुछ प्रकार के प्‍लास्टिक के निर्माण में प्रयुक्‍त होने वाला सिंथेटिक यौगिक है। शोध के अनुसार पाया कि 20-45 आयु वर्ग के रोगी मुख्‍य रूप से दिन में कम से कम 4-6 बार प्‍लास्टिक के बर्तनों में खाना खाते हैं।


प्‍लास्टिक और बालों का झड़ना  

निष्‍कर्ष चिंताजनक रूप से सामने आये क्‍योंकि प्‍लास्टिक का इस्‍तेमाल करने वाले लोगों में प्रमुख बीमारियों में से बालों का झड़ना भी एक लक्षण था। इस समस्‍या के अलावा बीपीए में अनिवार्य रूप से कासीनजन पदार्थ भी होता है, जो दिल की बीमारियों का कारण बनता है। हेयरलाइन इंटरनेशनल रिसर्च एंड ट्रीटमेंट सेंट्रर के फाउंडर और सीइओ बानी आनंद के अनुसार, 70 प्रतिशत से अधिक मामलों में मेटाबॉलिक डिस्‍आर्डर के कारण बाल झड़ने शुरू होते हैं।  


प्‍लास्टिक पर निर्भरता

डॉक्टरों ब्‍लड में BPA की उपस्थिति के लिए प्लास्टिक के बर्तन और खराब खाने की आदतों पर अधिक निर्भरता को दोषी ठहराते हैं। बच्‍चों के टिफिन बॉक्‍स और वॉटर बॉटल से लेकर ऑफिस में चाय के कप और माइक्रोवेव ओवन में इस्‍तेमाल होने वाले हीटिंग कंटेनर सभी में प्‍लास्टिक मौजूद होता है- इसने पिछले सात से आठ साल में स्‍टील, ग्‍लास और चीनी मिट्टी की जगह ली है।


बानी आनंद कहते हैं कि जब लोग बालों के गिरने की शिकायत लेकर हमारे क्लिनिक में आते हैं तो हम सबसे पहले उनकी जीवनशैली, आहार, चिकित्‍सा के इतिहास और नैदानिक निदान का विश्‍लेषण करते हैं। इसके बाद हम 10-12 प्रकार के ब्‍लड टेस्‍ट करते हैं। उनमें से एक बिस्फेनॉल ए (BPA) के स्‍तर का पता करने के लिए किया जाता है।

hair loss in hindi

माइक्रोवेव में प्‍लास्टिक का इस्‍तेमाल

उन्‍होंने आसान जीवनशैली, सेल फोन के इस्‍तेमाल के जोखिम और प्‍लास्टिक पर निर्भरता को दोषी ठहराया। बानी के अनुसार दूध के पाउच से लेकर फूड कंटेनर और डिस्टिल वॉटर बॉटल तक सब समस्‍या का कारण है। साथ ही माइक्रोवेव हीटिंग ब्‍लड में प्‍लास्टिक के संचय करता है। जब आप माइक्रोवेव के माध्‍यम से अपने आहार को गर्म करते है, तो यह असमान हीटिंग की ओर ले जाता है। और आपको वास्‍तव में आपको पता नहीं होता कि कंटेनर के गर्म होने पर वास्‍तव में क्‍या होता है। कई प्रोफेशनल प्‍लास्टिक के डिब्‍बों में दोपहर का भोजन ले जाते हैं और माइक्रोवेव में इसे गर्म करते हैं। इसके अलावा सूरज के संपर्क में आने से प्‍लास्टिक की बोतलें धीरे-धीरे पिघलने लगती है। और कारों में रखी पानी की बोतल गर्मी के लिए प्रतिक्रिया करती है। उनके अनुसार, स्‍टेनलेस स्‍टील के बर्तन सबसे सु‍रक्षित होती है।


डॉक्‍टर हेल्‍थ क्‍लीनिक के डॉक्‍टर शहीद शमशीर के अनुसार, बहुत कम लैब बेंगलुरू में बीपीए का परीक्षण करते हैं। यह एक महंगा परीक्षण है। बीपीए कैंसरजन है और दिल की बीमारियों के ओर ले जाता है और इसके लक्षणों में बालों का झड़ना शामिल है। लेकिन झड़ते बालों की शिकायत के साथ आने वाले लोगों में हम आमतौर पर थायराइड हार्मोन और विटामिन का टेस्‍ट करते हैं।


Image Source : Getty

Read More Articles on Diet and Nutrition in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES13 Votes 3772 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर