डबल चिन से बचने के उपाय

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 29, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • डबल चिन होने पर मसाज करवाना फायदेमंद हो सकता है।
  • यह अनुवांशिक कारणों से भी हो सकता है।
  • गलत शारीरिक मुद्राएं अपनाने पर यह समस्या होती है।
  • व्यायाम की मदद से भी इस समस्या से बच सकते हैं।

क्या आपने कभी गौर किया है कि वजन बढ़ने के साथ ही आपकी चिन यानि ठोढ़ी भी डबल हो जाती है। इससे जिससे आपका चेहरा भारी लगने लगता है। लेकिन सिर्फ वजन बढ़ना ही इसके पीछे की वजह नहीं।

अनुवांशिक कारण भी इस समस्‍या के मूल में हो सकते हैं। इसके अलावा अनियमित दिनचर्या, गलत  शारीरिक मुद्राएं, गले की कमजोर मांसपेशियां भी डबल चिन की  वजह हो सकती हैं। डबल चिन से छुटकारा पाने के लिए निम्न उपाय अपनाए जा सकते हैं।

 

double chin in hindi

 

विटामिन ई का सेवन

विटामिन ई युक्त पदार्थों को अपनी खाने में शामिल कर डबल चिन की समस्या से निजात पाया जा सकता है। आप चाहें तो विटामिन ई टेब्लेट्स भी ले सकते हैं। विटामिन ई के स्रोत हैं- सोयाबीन, पीनट, डेयरी प्रोडक्टस, बींस, ब्राउन राइस, सेब, लीगम आदि।

 

मसाज भी है कारगर

डबल चिन से छुटाकारा पाने के लिए मसाज भी एक अच्छा तरीका है। विटामिन ई युक्त तेल लेकर उसे हलकी आंच पर गर्म करके गर्दन और ठोढ़ी की अच्छी तरह मसाज करें। गर्दन से शुरू करते हुए हलके हाथों से ऊपर की ओर ले जाते हुए मसाज करें। यह मसाज सोने से पहले करें। विटामिन ई युक्त तेल से मसाज करने से डबल चिन से छुटकारा पाने में मदद मिलती है।

 

double chin in hindi

व्यायाम

व्यायाम के जरिए आप अपनी डबल चिन को खत्म कर सकते हैं। इसके लिए आप सावधान की मुद्रा में खड़े हो जाएं। अब छत की ओर देखें, कुछ सेकंड्स बाद फिर से पहली वाली स्थिति में आ जाएं। यह क्रिया कम से कम 15-20 बार दोहराएं। इसके अलावा जीभ को पूरी तरह से बाहर निकालकर दस तक गिनती गिनें या मुंह को अच्छी तरह से बंद करें और 5-7 बार जीभ से ऊपर वाले तालू को छूएं।

 

च्‍वुइंग गम गम चबाएं

च्‍वुइंग गम खाने से पूरे मुंह की अच्छी एक्सरसाइज होती है। लेकिन ध्यान रहें शुगर फ्री  च्‍वुइंग गम ही खाएं। इसके अलावा च्‍वुइंग गम खाने से भूख भी नहीं लगती है जिससे आप उल्टा सीधा खाना नहीं खाएंगे जिससे वजन नियंत्रित रहेगा। अगर आप च्‍वुंइग गम नहीं खाना चाहते तो खीरा, चना व गाजर भी खा सकते हैं। इससे गले की मांसपेशियों की अच्छी कसरत हो जाएगी और पोषण भी मिलेगा।

 

इन्हें भी अपनाएं

  • नियमित और सेहतमंद दिनचर्या अपनाएं।
  • हमेशा रीढ़ की हड्डी को सीधा रखें।
  • फाइबर युक्त भोजन को सेवन करें।

 

 

Read More Articles On Weight Loss In Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES46 Votes 49573 Views 5 Comments
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • Aarti11 Feb 2013

    good information

  • Uma11 Feb 2013

    nice article

  • Heena11 Feb 2013

    is article me jo jaankari de hai wo bahut achi hai.....

  • leepi31 Aug 2012

    gud info... vry nice article...sahi hai

  • lipi31 Aug 2012

    thanks for gud info

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर