क्या सेक्स के बिना संबंध संभव हैं

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 26, 2012
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

kya sex ke bina samband sambhav hai ऐसा माना जाता है कि यदि पति-पत्नी के बीच प्रेम और सेक्स संबंध अच्छे हैं तो उनसे अधिक खुशहाल जीवन किसी और का नहीं हो सकता। लेकिन यह भी सोचने वाली बात है कि क्या सेक्स के बिना संबंध संभव है। यह तो तय करना मुश्किल है लेकिन आम राय में पति-पत्नी का सेक्स के बिना अच्छे संबंध बनाए रखना मुश्किल होता है। जैसे दोनों साथियों को एक-दूसरे से भावनात्मक संबंधों की जरूरत होती है ठीक वैसे ही दोनों की शारीरिक जरूरतें भी होती है, जिसके बिना दोनों के संबंध में खटास आने की संभावनाएं बरकरार रहती हैं। आइए जानें सेक्स के बिना संबंध संभव हैं या नहीं।

  • दांपत्य जीवन में यदि एक-दूसरे के बीच प्यार है, तो भी सेक्स संबंध ना हो तो भी रिश्ते बेहतर बनना मुश्किल होता है।
  • संबंधों में सेक्स ना होने के कारण दोनों एक-दूसरे के प्रति लापरवाही बरतने लगते हैं और प्यार भी कम होने लगता हैं।
  • संबंधों में सेक्स ना होने का एक ही कारण हो सकता है जब पति-पत्नी दोनों की ही सेक्स में रूचि न हो लेकिन ऐसा बहुत ही कम देखने को मिलता है।

 

इसे भी पढें- दिल के रोगियों के लिए सुरक्षित है यौन संबंध


  • यह तो सर्वविदित है कि एक उम्र के बाद पति-पत्नी दोनों की ही सेक्स में रूचि खत्म हो जाती है, जहां महिलाओं की 45-50 की उम्र पार करते ही सेक्स में रूचि नहीं रहती वही पुरूषों में भी 60 के बाद सेक्स में रूचि कम होने लगती हैं।
  • कई बार ऐसा होता है कि बढ़ती उम्र में महिलाओं की सेक्‍स के प्रति रूचि खत्म हो जाती है जबकि पुरूषों के साथ ऐसा नहीं होता, ऐसे में बढ़ती उम्र में भी दोनों के रिश्तों में दरार आने की संभावना बढ़ जाती है।
  • पति-पत्नी के बीच आमतौर पर देखा गया है सेक्स एक महत्व्पूर्ण फैक्टर होता है, जो उनको लंबे समय तक जोड़े रखता है। ऐसे में यदि एक पार्टनर की भी सेक्स में रूचि है तो दूसरे को उसकी जरूरतों का ख्याल रखना आवश्यक है।

इसे भी पढें- सेक्स से जुड़े कुछ सच-झूठ


  • दोनों को ही एक-दूसरे के साथ पूर्ण भागेदारी देनी चाहिए और एक-दूसरे की इच्छाओं को तवज्जों देनी चाहिए।
  • दोनों को ही सेक्स के बारे में ना तो बहुत ज्यादा सोचना चाहिए, ना ही उससे बहुत ज्यादा भागना चाहिए। बल्कि इन सबके विपरीत कैजुअल सेक्स संबंध रखने चाहिए। सेक्स को अपने संबंधों में इश्यु बनाकर नहीं रखना चाहिए।

 

इसे भी पढें- महिलाओं के लिए सेक्‍स के लाभ


  • यदि आप गौर करें तो सेक्स से आपकी शारीरिक रूप से तो सुखी रहते ही हैं बल्कि इसके साथ ही आप मानसिक रूप से भी स्वस्थ महसूस करते हैं और हरदम खुशहाल रहते हैं।
  • सामान्य तौर पर देखा गया है कि बच्चों के जन्म के बाद महिलाएं अकसर सेक्स संबंधों से कतराने लगती है, नतीजन दोनों के बीच छोटी-छोटी बात पर झगड़े होने लगते हैं।
  • अब तो आप समझ ही गए होंगे कि संबंधों को खुशहाल बनाने में सेक्स का बहुत बड़ा हाथ है। आपको समय रहते अपने साथी की भावनाओं को भी समझना चाहिए।

 

Read more articles on Sex and Relationship in hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES65 Votes 54772 Views 1 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर