क्‍या आपके शरीर में रहते हैं परजीवी

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 18, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • शरीर में परजीवी होना सामान्‍य बात है।
  • परजीवियों के कई लक्षण हो सकते हैं।
  • परजीवी सामान्‍यत: आपके पोषण पर रहते हैं जिंदा।
  • बेवजह डायरिया और कब्‍ज आदि हैं सामान्‍य लक्षण।

शरीर में परजीवी होना सामान्‍य है। यह आपकी उम्‍मीद से भी अधिक सामान्‍य है, हालांकि आपको यह सोचकर भी डर लग सकता है, लेकिन यह सच है कि परजीवी हर स्‍थान पर मिल सकते हैं। परजीवी जब शरीर के अंदर होते हैं, तो इसके कई लक्षण नजर आते हैं। इनमें से केवल कुछ ही को नियंत्रित किया जा सकता है।

क्‍या होते हैं परजीवी

कोई भी वह जीव जो जिंदा रहने और भोजन के लिए अन्‍य जीव का उपयोग करता है, उसे परजीवी कहा जाता है। आंतों में रहने वाले परजीवी कीड़े आपके पोषण को उपभोग कर लेते हैं। राउंडवर्म, टेपवर्म,‍ पिनवर्म, विपवर्म, हुकवर्म और कई ऐसे प्रकार के परजीवियों का नाम लिया जा सकता है। परजीवी किसी भी आकार और स्‍वरूप में पाये जाते हैं। इनसे कई तरह की समस्‍यायें हो सकती हैं। इनमें से कुछ परजीवी आपके भोजन का उपभोग कर लेते हैं और बहुत कुछ खाने के बाद भी आपका पेट नहीं भरता।

parasites in body in hindi

इससे आपकी सेहत भी खराब होती है साथ ही साथ नाहक ही आपका वजन कम होने लगता है। कुछ परजीवी आपकी लाल रक्‍त कोशिकाओं का उपभोग करते हैं, जिससे आपको अनीमिया हो सकता है। कुछ परजीवी अंडे देते हैं, जिससे खुजली, सूजन और यहां तक की अनिद्रा भी हो सकती है। यह भी संभव है कि आप इन समस्‍याओं को दूर करने का प्रयास भी कर रहे हों, लेकिन आपको कुछ खास कामयाबी नहीं मिल रही है। इस बात की भी संभावना है कि परजीवी ही स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी आपकी अधिकतर समस्‍याओं का कारण हों।


कैसे आते हैं परजीवी के संपर्क में

परजीवी आपके शरीर में कई प्रकार से प्रवेश कर सकते हैं। दूषित जल और भोजन सबसे सामान्‍य तरीका है जिसके माध्‍यम से परजीवी इनसानी शरीर में प्रवेश करते हैं। इसके साथ ही अधपका मीट, झीलों, तालाबों और अन्‍य उथले स्रोतों से पानी पीने से परजीवी आपके शरीर में प्रवेश कर सकते हैं। इसके साथ ही साफ न किये हुए फलों और सब्जियां भी परजीवियों को आपके शरीर में प्रवेश करा सकते हैं।

कुछ परजीवी ऐसे भी होते हैं जो आपके पैरों के नीचे से आपके शरीर में जा सकते हैं। एक बार परजीवी अगर आपके शरीर में प्रवेश कर जाते हैं, तो बड़ी आसानी से आगे बढ़ जाते हैं। उदाहरण के लिए अगर परजीवी आपके हाथ पर चिपक जाए तो यह हर उस चीज पर अंडे देने लगता है जिसे आप हाथ लगाते हैं। नियमित रूप से जानवरों के संपर्क में रहने वाला व्‍‍यक्ति के परजीवियों के संपर्क में आने की आशंका अधिक होती है। परजीवियों से बचने के लिए आपको नियमित रूप से हाथ धोने चाहिये।

 

parasites in hindi

 

शरीर में परजीवी होने के लक्षण

  • कब्‍ज, डायरिया, गैस और बेवजह पाचन क्रिया संबंधी अन्‍य परेशानी।
  • फूड पाउजनिंग और हाजमे की अन्‍य परेशानियां।
  • नींद न आना और रात को बार-बार जाग जाना।
  • सोते हुए दांत रगड़ना।
  • मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द
  • थकान, अवसाद और उदासीनता का अनुभव होना।
  • भोजन के बाद भी पेट न भरना।
  • आयरन की कमी और अनीमिया से जूझना।

 


शरीर में परजीवी होने के कई कारण हो सकते हैं। इनकी अनदेखी नहीं करनी चाहिये। और आपको लक्षणों के प्रति सचेत रहना चाहिये। इन लक्षणों को पहचान कर आप संक्रमण से अच्‍छी तरह लड़ सकते हो।

 

 

 

Write a Review
Is it Helpful Article?YES49 Votes 1607 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर