दिवाली के पटाखे मिठाईयां और आपकी सेहत

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 14, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

सर्दियों की दस्तक के साथ ही लीजिए दिवाली भी आ ही पहुंची। तरह-तरह की मिठाईयों का स्वाद आपकी जीभ पर इतराने लगा होगा। गिफ्ट पैक, भरपूर शॉपिंग, बाजारों की रौनक, लाइटिंग और पटाखों की गूंज आपके कानों में अभी से तैरने लगी होगी। त्योहार की इस चकाचौंध में अकसर हम अपनी सेहत तक का ख्याल रखना भूल जाते हैं। लेकिन आपकी सेहत का सवाल है तो आपको मिलावटी मिठाईयों को खाने से बचना चाहिए। मिठाईयां खरीदते समय आपको मिठाईयों के बारे में जानकारी लेनी चाहिए। दिवाली के मौके पर मिठाई और पटाखें सबसे महत्वापूर्ण होते हें। ऐसे में दिवाली के पटाखें, मिठाईयां और आपकी सेहत तीनों में तालमेल बैठाना भी जरूरी है। आइए जानें वे कौन सी जरूरी चीजें हैं, जो आपकी सेहत को भी बनाए रख सकती हैं और आपके त्योहार की रौनक भी बरकरार रख सकती हैं।

 

  • बेशक स्वीट्स दिवाली पर जरूरी होती है। यही वजह है कि दिवाली के मौके पर बाजारों में तरह-तरह की मिठाइयों की भरमार रहती है। लेकिन अगर आप एक जागरूक उपभोक्ता हैं,  तो आपको यह मालूम होना चाहिए कि इस मौके पर नकली मिठाइयों की भी बाजार में कोई कमी नहीं रहती।
  • दिवाली से पहले ही बाजारों में नकली खोये के कितने ही मामले पकड़े जा चुके हैं। ये नकली मिठाइयां आपके इस त्योहार को कड़वा कर सकती हैं। इसलिए बाजार से मिठाइयां खरीदते समय ध्यान रखें कि हमेशा अच्छी और प्रतिष्ठित दुकानों से ही खरीदें।
  • कोशिश करें कि दिवाली पर ज्यादा मिठाइयां ना खाएं। अपने दोस्तों और परिचितों को जो गिफ्ट देने हैं, उनमें भी आप मिठाइयों को प्राथमिकता ना दें तभी बेहतर होगा।
  • खासतौर पर खोये वाली मिठाइयों को आप इग्नोर कर सकते हैं। इसके बजाय आप बालूशाही, इमरती, बेसन के लड्डू, रसगुल्ले, गुलाब जामुन जैसी चीजें इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे एक तो आप खराब चीजें खाने से बचेंगे और दूसरे आप अपनी सेहत का भी ठीक से ख्याल रख पायेंगे।
  • आमतौर पर त्योहारों के मौकों पर हम अपनी खानपान की आदतों को कंट्रोल नहीं कर पाते। और दिवाली पर तो मीठा खासतौर पर ज्यादा ही खाया जाता है।
  • दिवाली के मौके पर यदि घर में नमकीन चीजें भी रहेंगी तो भी कम मीठा खायेंगे। इसलिए मिठाइयों के साथ घर में नमकीन वगैरह भी रखें।
  • दिवाली बम पटाखों का त्योहार है। हम सब जानते हैं कि इन बम पटाखों की वजह से हमारा पर्यावरण दूषित होता है और इससे हमारे स्वास्थ्य पर भी बुरा असर पड़ता है। साथ ही बम पटाखों के शोर से ध्वहनि  प्रदूषण भी फैलता है। इसलिए कोशिश करें कि बम पटाखे कम से कम चलाए और यदि चलाएं भी तो ईको फ्रैंडली बम पटाखे खरीदें। इससे भी आप अपने सेहत का ख्याल रख पायेंगे।
  • हमें यह भी ध्यान रखना चाहिए कि बम पटाखो के शोर से पालतू जानवर भी बहुत ज्यादा भयभीत हो जाते हैं। हमें उनकी सुरक्षा और हिफाजत के लिए भी बम पटाखे कम चलाने चाहिए।
  • त्योंहारों पर फिट रहने के लिए आप मिठाईयों पर एकदम न टूटू बल्कि अपने खान-पान पर नियंत्रण रखें।
Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES1 Vote 11854 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर