मसल्स बढाने के लिए सही वर्कआउट का चुनाव होता है जरूरी

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 18, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • मसल्स बढ़ाने के लिए सही वर्कआउट करना बेहद जरूरी है।
  • मसल्स बढ़ाने के लिए शरीर से अतिरिक्त चर्बी को करें कम।
  • बाइसेप्स मसल्स के लिए बारबेल कर्ल से बेहतर कुछ नहीं।
  • सिक्स पैक बनाने हैं तो बाइसिकल क्रंच करना है जरूरी।

आज-कल जिसे देखो वह बॉडी बना कर सबसे फिट दिखना चाहता है। बेहतर दिखने के लिए लोग अपना वजन तो कम कर ही रहे हैं लेकिन उसकी दुगनी तादाद में लोग अपनी मसल्‍स बिल्‍ड करने के लिए आतुर रहते हैं। फिट रहने और दिखने में कोई बुराई नहीं, बल्कि यह सेहत के लिए जरूरी भी है। लेकिन फिट रहने और मसल्स बढाने के लिए सही वर्कआउट करना बेहद जरूरी है। आइये हम आपको बताते हैं मसल्स बढाने के लिए कुछ बेहतरीन वर्कआउट्स के बारे में।

Workout to Gain Muscles

जिम जाने वाले लोग कई तरह की एक्सरसाइज करते हैं, तरह-तरह की डाइट प्लान फॉलो करते हैं। पर हर चीज हर इनसान को सूट नहीं करती। मसल्स बढाने के लिए आपको ऐसे वर्कआउट शेड्यूल का चुनाव करना चाहिए जो अपने आप में कंप्लीट हो। यानी जिसमें पावर, शेप और साइज तीनों ही हों।  मसल बिल्डिंग करने के लिए सबसे पहले शरीर से अतिरिक्त चर्बी को कम करना पड़ता है। एक बार शरीर से चर्बी खतम हो जाए, तब मसल बिल्डिंग के लिए मसल्‍स को टोन करने की जरुरत पड़ती है। साथ ही गठीले शरीर और अच्छी मसल्स के लिए सिर्फ जिम ही काफी नहीं होती। इसके लिए डाइट प्लान भी बहुत अहमियत रखता है। वर्कआउट के साथ सही मात्रा में एनर्जी वाली डाइट और खूब सारा पानी पीना चाहिए। चलिए बात करते हैं मसल्स बढाने वाली कुछ एक्सरसाइज पर।

 

चेस्ट के लिए वर्कआउट

चेस्ट को सही शेप देने और मसल्स सेट्रोंग बनाने के लिए फ्लैट डंबल प्रेस अच्छी एक्सरसाइज है। यह फ्लैट बेंच से बेहतर है, और वो इसलिए क्योंकि फ्लैट बेंच एक्सरसाइज करते समय हाथ एक सीमा से नीचे नहीं आते। बेंच करते समय जैसे ही रॉड आपके चेस्ट से छुलती है, उसे ऊपर की ओर धकेलना पड़ता है। वहीं डंबल प्रेस में ऐसा नहीं होता। जितना आप डंबल को नीचे ले जाते हैं, उतना ही प्रेशर आपके चेस्ट पर बनता है।

 

बाइसेप्स मसल्स के लिए वर्कआउट

कसरत तो कई प्रकार की हैं लेकिन बाइसेप्स मसल्स बनाने के लिए बारबेल कर्ल से बेहतर कुछ नहीं। जैसे स्क्वेट पैरों की एक कंप्लीट एक्सरसाइज है, उसी तरह बारबेल कर्ल बाइसेप्स के लिए एक मुकम्मल एक्सरसाइज है।

 

ट्राइसेप्स के लिए वर्कआउट

आर्म में 30 प्रतिशत भागीदारी बाइसेप्स और 70 प्रतिशत ट्राइसेप्स की होती है। यदि आप बड़े आर्म्स और मजबूत मसल्स चाहते हैं तो बाइसेप्स की बजाय ट्राइसेप्स पर अधिक ध्यान दें। बाइसेप्स की तरह ट्राइसेप्स के भी तीन हिस्से होते हैं और बेंच डिप्स एक ऐसी एक्सरसाइज है तो तीनों हिस्सों पर काम करती है। इसे आप बॉडी वेट के या एक्सट्रा वेट के साथ किया जा सकता है।

 

क्रंचेज

क्रंचेज कमाल का वर्कआउट है, ये न सिर्फ आपकी बॉडी को बेहतर शेप और मसल्स देता है, बल्कि स्टेमना भी बूस्त करता है। क्रंचेज करने से पेट के नीचे की मासपेशियां सही से तन जाती हैं। क्रंचेज करने के लिए जमीन पर लेट जाएं और अपने घुटनों को मोड़ लें और हाथों को सिर के पीछे रखें। अपने शरीर को अपने घुटनों से मिलाने की कोशिश करें। क्रंचेज करने से पेट के ऊपर और बीच की मासपेशियां प्रभावित होती हैं।

 

लेग लिफ्ट वर्कआउट

लेग लिफ्टिंग करने से ना सिर्फ पेट के नीचे की मासपेशियां मजबूत होती हैं, बल्कि इससे जांघ और घुटनों के पीछे की मसल्‍स को भी मजबूत बनती हैं। लेग लिफ्ट करने के लिए दोनों पैरों को जमीन से ऊपर उठाएं और फिर उन्‍हें अपने धड़ के पास लाने की कोशिश करें।

 

बाइसिकल क्रंच वर्कआउट

सिक्स पैक बनाने हैं तो बाइसिकल क्रंच जरूर करें। बाकी की क्रंचेस आमतौर पर एब्स के किसी एक हिस्से पर ही काम करती हैं, जबकि बाइसिकल क्रंच एक साथ सिक्स पैक पर काम करती है।

 

स्विमिंग

स्विमिंग शरीर के लिए एक पूर्ण व्यायाम है। इसे करने के लिए शुरू में आधे घंटे के सेशन से शुरुआत करें और फिर धीरे-धीरे इसका समय बढ़ाते रहें। इसके बाद हर सप्ताह आप अपने मसल्स की इम्प्रूवमेंट को आराम से देख सकते हैं। नियमित स्विमिंग करके आप कुछ ही दिनों में आपको अपने स्ट्रेंथ और स्टैमिना में फर्क देख पाएंगे।



कार्डियो वर्कआउट करना हर इंसान के लिए जरूरी होता है। लगातार कार्डियो वर्कआउट बहुत जल्‍द चर्बी को कम कर देता है। आपका कार्डियोवैस्क्युलर हेल्थ और ब्लड फ्लो को अच्छा करता है। इसके लिए आप ब्रिस्क वॉक या कोई ऐसा काम करें, जिसमें आपका पूरा शरीर ऐक्टिव रहे। इसके अलावा मसल्स बढाने के लिए अपने वर्कआउट को नियमित रखना बेहद जरूरी होता है।

 

 

Read More Article On Sports & Fitness in Hindi.

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES46 Votes 7379 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर