डायटिंग बना सकती है आपको चिड़चिड़ा

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 05, 2011
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

आज हर कोई दुबले होने के लिए डायटिंग करता नजर आता है। लेकिन क्या आप जानते हैं वजन कम करने के लिए डायटिंग करना एक मात्र उपाय नहीं है।

dieting bana sakti hai aapko chidchida

 

केवल डायटिंग की योजना से आपके व्यवहार में खासा परिवर्तन आ सकता है और आप गुस्सैल, चिड़चिड़े बन सकते है। वास्तव में डायटिंग तनावपूर्ण है। इससे आप अस्वस्थ हो सकते है। आइए जानें डायटिंग आपको चिड़चिड़ा कैसे बना सकती है।

 

[इसे भी पढ़ें: डायटिंग से कैंसर का खतरा]

 

  • शोधों में ये बात साबित हो चुकी है कि डायटिंग तनावपूर्ण होती है और इससे गुस्सा, चिड़चिड़ापन, तनाव, डिप्रेशन अधिक बढ़ जाता है।
  • दरअसल, जब व्यक्ति अपनी आदतों पर मजबूरी वश या किन्हीं  कारणों से नियंत्रण करने लगता है तो उसका गुस्सैल होना स्वाभाविक है।
  • यदि आप सोच रहे हैं कि डायटिंग से आप मोटापा कम कर लेंगे तो आप गलत है। सख्त डायटिंग रूटीन से मोटापा बढ़ भी सकता है।

[इसे भी पढ़ें: डायटिंग प्रभावी या व्यायाम]


  • आमतौर पर डायटिंग करने से शरीर में तनाव बढाने वाला हार्मोन बढ जाता है। इससे बहुत तेज भूख लगती है और इंसान सामान्य से ज्यादा खाना खाता है।
  • डायटिंग के कारण उत्पन्न होने वाले तनाव से हमारे दिमाग के काम करने का तरीका भी बदल जाता है। सख्त डायटिंग से डिप्रेशन हो सकता है और उस स्थिति में इंसान को ज्यादा भूख लगती है।
  • यदि आप वाकई डायटिंग करना ही चाहते हैं तो खाना-पीना छोड़ने के बजाय खाने की क्वांटिंटी और स्टाइल बदल लें। यानी आप संतुलित भोजन, संतुलित मात्रा में खाएं।

[इसे भी पढ़े : डायटिंग करें लेकिन संभाल कर]


  • केवल डायटिंग आपके शरीर के लिए भी हानिकारक है। ऐसे में आप व्यायाम और योगा को अपनी दिनचर्या में शामिल कर सकते हैं।
  • खाद्यपदार्थों में कम कैलोरी, पौष्टिक आहार और तरल पदार्थों को भी शामिल किया जा सकता है।
  • एक रात में दुबला होना असंभव है लेकिन दुबले होने की सही प्रक्रिया को अपनाकर आप आसानी से वजन तो कम कर पाएंगे ही साथ ही स्वस्थ भी रहेंगे।

 

 

Read More Articles On Weight Loss In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES8 Votes 42173 Views 0 Comment