डायबिटीज से महिलाओं में कैंसर का खतरा दोगुना

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 15, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में डायबिटीज से ज्यादा खतरा होता है।
  • महिलाओं को डायबिटीज के साथ कैंसर का खतरा भी बढ़ जाता है।
  • तेल अवीव यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने किया था इस पर शोध।
  • 8 साल में शोधकर्ताओं ने 1,639 लोगों को विभिन्न कैंसर से ग्रसित पाया।

जिन महिलाओं को डायबिटीज होती है, उन्हें कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। लेकिन पुरुषों में इसका उल्टा असर दिखाई देता है। उन्हें प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा काफी कम हो जाता है। यह दावा तेल अवीव यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने किया है।

 

 


शोधकर्ताओं के मुताबिक टाइप-2 डायबिटीज में इंसुलिन जैसा हार्मोन पूरे शरीर में फैलने लगता है और यह महिला हार्मोस को आकर्षित करता है। इससे महिलाओं में कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है।


'डेली मेल' ने प्रमुख शोधकर्ता डा. गैबरियल चोडिक के हवाले से कहा, 'डायबिटीज और महिलाओं के हार्मोस के बीच क्रिया से गर्भाशय और ओवरी (अंडाशय) कैंसर होने का खतरा बढ़ जाता है।' यह शोध 2000-08 के बीच 16 हजार से ज्यादा डायबिटिज रोगियों पर किया गया। शोध की शुरुआत में किसी भी प्रतिभागी को कैंसर नहीं था।

 


लेकिन आठ साल के दौरान शोधकर्ताओं ने 1,639 लोगों को विभिन्न कैंसर से ग्रसित पाया। यह शोध जर्नल कैंसर कॉजेज एंड कंट्रोल में प्रकाशित हुआ है। इसके मुताबिक पुरुषों में इसका उल्टा असर पड़ता है। उन्हें प्रोस्टेट कैंसर होने का खतरा 47 प्रतिशत कम हो जाता है।


डा. चोडिक के मुताबिक, 'पुरुषों के लिए यह अच्छी खबर है।' टाइप-2 डायबिटिज में रक्त में पर्याप्त मात्रा में ग्लूकोज नहीं बन पाता है। इसमें मोटापे का खतरा बढ़ जाता है। इस बीमारी में शुरुआत में थकान और प्यास लगती है, लेकिन बाद में स्ट्रोक, किडनी के खराब होने और आंखों की दृष्टि जाने का खतरा बढ़ जाता है।

 

 

Read More Articles on Women's Health in Hindi.

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES11820 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर