तेजी से वजन घटाना हो सकता है नुकसानदेह

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 21, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • तेजी से वजन घटाना हो सकता है नुकसानदायक।
  • इससे वजन दोबारा से बढने बढ़ने लग जाता है।
  • क्रैश डायटिंग जानलेवा भी साबित हो सकती है।
  • एक्सरसाइज हो सकता है बेहतर विकल्प।

तेजी से वजन घटाने से आपको मानसिक तनाव और उदासी भी हो सकती है। तेजी से वजन घटाने की इस तरीके को पद्धति अपनाने के पहले आपको बहुत सावधान रहने की आवश्यकता है। यह आपको ये तरीका वजन कम करने में आपकी मदद कर सकती सकता है परंतु परिणाम अधिक समय तक नहीं रहते। तेजी से वजन घटाने वाले 60-70 फीसदी तक लोगों को फिर से वजन बढ़ने की शिकायत होती है। एक्सपर्ट मानते हैं कि वजन घटाना 50 फीसदी जंग जीतना है, तो उसे मेंटेन करना बाकी 50 फीसदी जंग जीतने के बराबर है। इस बारे में विस्तार से जानने के लिए यहां पढ़ें।

तेजी से वजन घटाने का के नुकसान  

वजन कम करने और उसे मेंटेन करने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। सबसे पहले वजन तेजी से घटाने की कोशिश न करें। महीने में 2 किलो (ज्यादा-से-ज्यादा 3 किलो तक) वजन घटाने का टारगेट सही है। अगर बहुत तेजी से वजन घटाएंगे तो उसके लौटकर आनेवापस बढ़ने के चांस भी ज्यादा होंगे। वजह यह कि तेजी से वजन कम करने के लिए लोग क्रैश डाइटिंग पर चले जातेकरने लगते हैं। इससे बॉडी का मेटाबॉलिजम  कम होता है। फिर जब नॉर्मल डाइट पर लौटते हैं तो मेटाबॉलिज्म कम होने की वजह से वजन तेजी से बढ़ जाता है।

 

फिर से बढ़ जाता है वजन

जल्दी से पतला होने की ललक में अकसर लोग किसी भी चीज का त्याग करने को तैयार हो जाते हैं जो उनके लिए जानलेवा भी हो सकता है। यों भी विभिन्न शोध बताते हैं कि डायटिंग करते हुए जब हम तेजी से वजन कम करने की कोशिश करते हैं तो उसका हमारे स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है। क्रैश डायटिंग करने का एक मुख्य परिणाम रक्तचाप कम होना होता है। यही नहीं य भूखे रहने के बाद जब भी हम कुछ खाते हैं तो वह हमारी सामान्य खुराक से अधिक होता है। इसलिए बिना सोचे समझे की गई डायटिंग स्वास्थ्य के लिए हानिकारक ही होती है। नियमित एक्सरसाइज मोटापा दूर करने का सबसे अच्छा उपाय हैंहै। व्यायाम न केवल आपका वजन कम करता है अपितु आपके स्वास्थ्य पर भी अच्छा प्रभाव डालता है। विवेकपूण्रबैलेंस्ड डायटिंग के साथ व्यायाम करके आप आसानी से अपने शरीर का वजन घटा सकते हैं।

मेंटेन करने के लिए

वजन को लगातार कम करते रहने की कोशिश न करें। ऐसा करना बेहद खतरनाक हो सकता है। एक टारगेट तय करें कि कितने किलो वजन कम करना है। उस टारगेट को पाने के बाद उसे मेंटेन करने की कोशिश करें। जितना वजन घटाने के बाद है, उसमें 1-2 किलो का उतार चढ़ाव सामान्य है, लेकिन अगर 3 किलो से ज्यादा वजन वापस लौट आए या फिर इंच बढ़ने लगे तो ध्यान देना जरूरी है।


मोटापा दूर करने के लिए चाहे जो उपाय अपनाएं सबसे ज्यादा जरूरी है कि आपकी सोच सकारात्मक हो। आप कभी भी अपने मोटापे की समस्या को लेकर निराशावादी न हों।


ImageCourtesy@gettyimages

Read more Article on Weightloss in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES93 Votes 8446 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर