कॉमन कोल्ड की चिकित्सा के कारगर उपाय

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 29, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • जुकाम होने पर विटामिन सी युक्त फलों का सेवन करें।
  • संतरे का सेवन व जूस पीना भी फायदेमंद है।
  • स्पाइसी खाना खाएं और जुकाम से बचें।
  • समय-समय पर नाक की सफाई करें।

कॉमन कोल्ड की कोई स्थायी चिकित्सा नहीं है। यह समस्या आमतौर पर तीन चार दिनों में स्‍वत: ठीक हो जाती है, लेकिन ठंड छाती में बैठ जाए, तो गंभीर परिणाम दे सकती है। इसलिए कॉमन कोल्ड में होने वाली समस्याओं से बचने के लिए कुछ उपचार को अपनाने में कोई बुराई नहीं है। जुकाम के दौरान लोगों को सिर व शरीर में दर्द व भारीपन महसूस होता है जिसकी वजह से काफी परेशानी होती है।

Treatment of common coldकॉमन कोल्ड की चिकित्सा का अर्थ दवाओं का सेवन करना नहीं है। आप चाहें तो घर पर कुछ खास नुस्खों के जरिए जुकाम को कम कर सकते हैं। ज्यादातर लोग जुकाम के दौरान दवा लेने से बचते हैं क्योंकि यह दवाएं नाक से निकलने वाले द्रव्य को रोक देती है, जिससे समस्या और बढ़ जाती है। ऐसे में बिना डॉक्टर से पूछे कोई भी दवा नुकसान कर सकती है।

 

एंटी-एलर्जिक होने के कारण इन दवाओं से ड्राइनेस व सुस्ती आ जाती है। साथ ही नाक सूख जाने से कभी-कभी दिक्कत भी हो सकती है। सिर में भारीपन व दर्द की शिकायत होती है जो गंभीर समस्या का कारण बन जाती है।

 

जानें कॉमन कोल्ड की समस्या से बचने के लिए किस प्रकार की चिकित्सा का प्रयोग करना चाहिए।

नाक साफ करें

जुकाम के दौरान जरूरी है कि नाक से निकलने वाले द्रव्य को रोका ना जाए। समय-समय पर सही तरीके से नाक की सफाई करें। इससे अंदर जमा कफ नाक के रास्ते बाहर आ जाता है और आपको हल्का महसूस होता है। अगर द्रव्य को निकलने से रोका जाए तो यह सिर में वापस चला जाता है जो कि परेशानी का कारण बन सकता है। नाक साफ करने के बाद हाथ धोना ना भूलें।


पानी की कमी ना होने दें

आमतौर पर ऐसा देखा जाता है कि जुकाम होने पर पानी या किसी तरल पदार्थ के सेवन का मन नहीं करता। ऐसे में जुकाम की समस्या और बढ़ सकती है। जुकाम के दौरान मन ना करने पर भी थोड़ी-थोड़ी देर में गर्म पानी पीते रहें। इसके साथ ही अन्य लिक्विड भी लेते रहें इससे आराम मिलेगा। गर्म पानी, सूप, हल्दी मिला दूध, काली चाय, आदि का सेवन कफ ढीला करने में मदद करता है। वहीं कैफीन और एल्कोहल का सेवन न करें क्योंकि इनसे यूरीन अधिक होती है और शरीर का फ्लूएड कम होता है।


मसालेदार भोजन

भारतीय मसालों से बने तीखे भोजन का सेवन जुकाम की समस्या में मददगार साबित हो सकता है। अत्यधिक ठंड और कफ से जकड़न की राहत के लिए मसाले से भरपूर डाइट काफी फायदेमंद हो सकती है। इस दौरान मीट, डेयरी उत्पाद और तले हुए भोजन से दूरी बरतनी भी उतनी ही जरूरी है।


गरारा करें

गले में दर्द की समस्या के कारण कुछ भी खाना-पीना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में एक गिलास गरम पानी में चुटकी भर नमक, चुटकी भर खाने का सोडा मिलाकर दिन में दो बार तथा सोते समय गरारे करने से गले की खराश में आराम मिलता है।


विटामिन का सेवन

जुकाम के दौरन विटामिन ए, सी और ई से भरपूर डाइट कफ और जुकाम के संक्रमण को खत्म करने और आपकी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मदद करते हैं। विटामिन सी, एक एंटी-इंफेक्टीव विटामिन है, जो सर्दी के उपचार में काफी लाभदायक है। एक गिलास गर्म पानी में नींबू के रस के साथ एक चमच शहद मिलाकर पिएं। इस में भरपूर मात्रा में मौजूद विटामिन सी शरीर में प्रतिरोधक क्षमता को बढते हैं। इसके अलावा संतरे का सेवन भी फायदेमंद हो सकता है।

 

इन सब घरेलू उपायों को आजमाकर आप कॉमन कोल्‍ड के दौरान होने वाली समस्‍याओं से बचे रह सकते हैं। अगर यह बीमारी दो-तीन में अपने आप ठीक न हो, तो बेहतर होगा कि किसी डॉक्‍टर को दिखा लें।

 

Read More Articles On Common Cold In Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES5 Votes 11788 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर