हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

गले के कैंसर के लिए जिम्‍मेदार है तम्‍बाकू का सेवन और प्रदूषित वातावरण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 09, 2013
4.8 / 5(4 Ratings)
Quick Bites

  • महानगरों में तेजी से फैल रही है गले के कैंसर की समस्‍या।
  • महिलाओं की अपेक्षा पुरुषों को ज्‍यादा होता है गले का कैंसर।
  • प्रदूषित वातावरण भी है गले के कैंसर के लिए जिम्‍मेदार कारक।
  • टाइट बेल्‍ट बांधने से भी बना रहता है गले के कैंसर का खतरा।

More
Related Articles
4.8 / 5(4 Ratings)
Write a Review
प्रतिक्रिया दें
Disclaimer +
इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।
टिप्पणियाँ
  • shobhit10 Oct 2013
    gale ke cancer ki problem aajkal metro cities me bahut teji se badh rahi hai. esse bachne ke aapko cigrate ke sath hi wine bhi nahi peeni chaiye. gale ka cancer hone par eska treatment bahut mushkil hota hai.