महिलाओं में कैंसर के 10 सामान्‍य लक्षण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 24, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • महिलाओं में स्‍तन कैंसर सबसे सामान्‍य होता है।
  • लगातार पेट में खराबी कोलोन कैंसर का लक्षण है।
  • अक्‍सर रहने वाला बुखार भी कैंसर का लक्षण है।
  • स्‍तनों में गांठ स्‍तन कैंसर का सबसे आम लक्षण है।

कैंसर महिलाओं और पुरुषों दोनों को हो सकता है। लेकिन, कैंसर के लक्षणों को शुरुआत में पहचान लिया जाए, तो इसका इलाज करना मुमकिन होता है। कैंसर के इलाज के लिए जरूरी है कि आप उसके किसी भी संभावित लक्षण को नजरअंदाज न करें।

महिलाओं में स्‍तन कैंसर सबसे सामान्‍य होता है। और अधिकतर महिलायें इसके लक्षणों की अनदेखी करती हैं। लेकिन, ऐसा करना कई बार उनकी जान भी ले सकता है। ऐसे में महिलाओं को चाहिए कि वे इसके लक्षण नजर आते ही फौरन चिकित्‍सीय सहायता लें।

cancer in woman in hindi

स्तन में गांठ

अगर कोई महिला अपने किसी भी एक स्तन में कोई गांठ महसूस करती है (जिसमें भले हीं कोई दर्द न हो) तो यह उस महिला में स्तन कैंसर का लक्षण हो सकता है। स्तन के अलावा अजीब तरह की गांठ स्तन के आस पास यानी बगल वगैरह में भी पाई जा सकती है। महिलाओं को चाहिए कि वे महीने में कम से कम एक बार अपने स्तनों की स्वयं जांच अवश्य करें और किसी प्रकार की गांठ महसूस करने पर उसका परिक्षण करवाएं।

श्रोणि दर्द (पेल्विक पेन)

नाभि के नीचे होने वाले दर्द को श्रोणि दर्द कहते है। यूं तो मासिक धर्म शुरू होने के दौरान या उसके नजदीक के दिनों में पेल्विक पेन यानि श्रोणि दर्द होना आम बात है लेकिन यदि यह दर्द आम दिनों में भी बरकरार रहता है तो यह कैंसर का लक्षण हो सकता है। श्रोणि दर्द एंडोमेट्रियल कैंसर, डिम्बग्रंथि के कैंसर, गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर, फैलोपियन ट्यूब के कैंसर और योनि के कैंसर के लक्षण को दर्शा सकता है। अतः इसकी जांच करवाएं।

पीठ के निचले हिस्से में लगातार दर्द का रहना

अगर किसी महिला की पीठ के निचले हिस्से में लगातार दर्द रहता हो तो इसे हल्के से नहीं लेना चाहिए और उचित जांच करवानी चाहिए। कुछ महिलाएं इस दर्द को प्रसव पीड़ा की तरह महसूस करती हैं। यूं तो यह दर्द लम्बे समय तक बैठे रहने से भी हो सकता है या किसी अन्य कारणों से भी, लेकिन कई मामलों में यह डिम्बग्रंथि के कैंसर का एक लक्षण भी हो सकता है। अतः इसकी जांच करवाएं।

पेट की सूजन और पेट फूला फूला रहना

पेट की सूजन और पेट फूला फूला रहना डिम्बग्रंथि के कैंसर के आम लक्षणों में से एक है। यह एक ऐसा लक्षण है जिसे आमतौर पर महिलाएं नजरअंदाज कर देती हैं। यह सूजन या पेट का फूलना कई बार मरीज को पैंट पहनने में यानि पैंट के बटन बंद करने में भी मुश्किलें पैदा करता है।

असामान्य रूप से योनि से खून का स्राव

जब महिलाओं में गाईनेकोलिक कैंसर होता है तो उनकी योनी से असामान्य रूप से खून का स्राव होता है। मासिक धर्म के दौरान बहुत ज्यादा खून बहना या दो मासिक धर्म के बीच खून का निकलना या यौन संबंध के दौरान या बाद में योनी से खून का निकलना गाईनेकोलिक कैंसर के लक्षण के रूप में देखा जाता हैं। ये गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर, गर्भाशय के कैंसर अथवा डिम्बग्रंथि के कैंसर के लक्षण भी हो सकते हैं।

 

fever in hindi

अक्सर बुखार का रहना

बुखार जो जल्दी जाने का नाम नहीं लेता या जो लगभग 7 दिनों तक रहता हो या किसी को बार बार बुखार लगता हो और उसका कारण समझ  में नहीं आता हो तो यह कैंसर का लक्षण हो सकता है। बुखार जो ठीक होने का नाम हीं  नहीं लेता, कैंसर होने का संकेत देता है।  हालांकि अक्सर रहने वाला बुखार और भी कई दूसरी बीमारियां होने का संकेत देता है इसलिए घबराएं नहीं और अपनी जांच करवाएं।

लगातार पेट खराब रहना

यदि आपका पेट अक्सर खराब रहता है या आप अक्सर दस्त, गैस, पतले दस्त, या कब्ज के शिकार रहते हैं या आपके मल में रक्त का अंश रहता हो तो आपको किसी योग्य डॉक्टर से मिलना चाहिए क्योंकि ये कोलोन कैंसर या गाईनेकोलिक कैंसर के लक्षण हो सकते हैं।

अज्ञात कारणों से वजन कम होना

अगर आपका वजन आश्चर्यजनक रूप से कम हो रहा हो यानि आपको इसका कारण पता न हो तो यह सामान्य बात नहीं है। व्यायाम करने से या खाने की खुराक कम करने से वजन कम होना स्वाभाविक है लेकिन बिना कुछ किये यदि आपका वजन तेजी से कम हो रहा हो तो यह कैंसर का लक्षण हो सकता है। हालांकि महीने भर में महिलाओं के वजन में कई बार उतर चढ़ाव आता है लेकिन अगर यह आपको असामान्य लगे तो आप डॉक्टर से मिलें।

योनि में उत्पन्न असामान्य बातें

अगर आपकी योनी में किसी तरह का घाव, छाला रह रहा हो या वहां की त्वचा के रंग में असामान्य परिवर्तन हो रहा हो या असामान्य स्राव होता है तो आपको योनि की किसी योग्य डॉक्टर से परिक्षण करवाना चाहिए क्योंकि ये कैंसर के लक्षण हो सकते हैं।

 

pain

थकान

थकान कैंसर का एक आम लक्षण है। यह आमतौर पर तब होता है जब कैंसर उन्नत अवस्था में पहुंच जाता है। लेकिन यह लक्षण प्रारंभिक अवस्था में भी उभर सकता है। अगर आपको बिना काम किये या बिना परिश्रम किये बहुत ज्यादा थकान लगे या थकान जो आपको सामान्य दैनिक गतिविधियों को करने से रोके, कैंसर का लक्षण हो सकता है। अतः आप योग्य चिकित्सक द्वारा मूल्यांकन यानी अपनी जांच करवाएं।

कैंसर से बचने के लिए जरूरी है कि आप नियमित जांच करवाती रहें। लक्षण नजर आते ही फौरन चिकित्‍सीय सलाह लें। देर से आपको काफी नुकसान हो सकता है।


Image Courtesy : Getty Images

Read More Article on Cacner in Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES38 Votes 20233 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर