कैंसर को समाप्‍त करने में मदद करेंगी 'टी सेल्‍स'

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 05, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

cancer ko samapt karne main madad karengi t cells

कैंसर एक बेहद खतरनाक बीमारी है। अभी तक इसका कोई कारगर इलाज नहीं तलाशा जा सका है, लेकिन जापानी शोधकर्ताओं ने इस क्षेत्र में बड़ी कामयाबी हासिल की हैं।

 

वैज्ञानिक काफी लंबे समय से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी का प्रभावी इलाज तलाशने में लगे हैं। लेकिन, अब उन्‍हें इस क्षेत्र में बड़ी कामयाबी मिली है।

जापान के 'रिकेन रिसर्च सेंटर फॉर एलर्जी एंड इम्‍यूनोलॉजी' के वैज्ञ‍ानिकों ने प्रयोगशाला में ऐसी कोशिकाएं विकसित की हैं जो कैंसर कोशिकाओं का खात्‍मा करने में सक्षम हैं।

[इसे भी पढें- आंत के कैंसर से बचाता है चावल]

यह पहली बार है जब वैज्ञानिकों को कैंसर के इलाज में इतनी बड़े स्‍तर पर सफलता मिली है। वैज्ञानिकों ने बताया कि उनके द्वारा विकसित ये कोशिकाएं प्राकृतिक रूप से इनसान के शरीर में मौजूद होती हैं। लेकिन इनकी संख्‍या काफी कम होने के कारण ये कैंसर से लड़ नहीं पातीं। लेकिन अब उम्मीद की जा रही है कि बड़ी मात्रा में ऐसी कोशिकाओं को मरीज के शरीर में डालने पर उसकी प्रतिरोधक क्षमता मजबूत हो जाती है।

[इसे भी पढें- फल-सब्जियां बचाएंगी कैंसर से]


शोधकर्ताओं ने बताया कि उन्हें कैंसर जैसी घातक बीमारी से निपटने वाली प्रतिरोधक क्षमता कोशिकाएं बनाने में पहली बार कामयाबी हासिल हुई है। इन्हें किलर टी लिम्फोसाइट्स सेल्स कहा जाता है। शोधकर्ताओं ने एक खास तरह के कैंसर को खत्म करने वाली टी लिम्फोसाइट्स को रीप्रोग्राम कर उन्हें आईपीएस (इंड्यूस्ड प्लूरीपोटेंट स्टेम सेल्स) कोशिकाओं में बदल दिया। उसके बाद इन आईपीएस कोशिकाओं ने पूरी तरह सक्रिय टी लिम्फोसाइट्स कोशिकाएं पैदा कीं। शोधकर्ताओं का मानना है कि ये भविष्य में कैंसर के इलाज में काम आ सकती हैं।

 

Read More Articles on Health News in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES1028 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर