कैलोरी का कम सेवन बुढ़ापे को बनाए बेहतर

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 02, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

बढ़ती उम्र का असर सेहत पर पड़ना लाजमी माना जाता है। लेकिन, ताजा शोध में दावा किया गया है कि कुछ आदतें अपनाकर उम्र के असर को काफी हद तक कम किया जा सकता है।  


calorie ka kam sewan budhape ko banaye behtarभारतीय मूल के शोधकर्ता ने 'एसआईआर2' जीन के बारे में बड़ा दावा किया है। एक शोध के बाद आए नतीजों के आधार पर किए गए इस दावे में कहा गया है कि यह जीन बढ़ती उम्र से होने वाले नुकसानों पर काबू पाने में बेहद मददगार है।


[इसे भी पढ़ें- बुढ़ापे में कुछ भी खाएं, बेफिक्र]

टाटा इंस्‍टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च के शोधकर्ताओं के मुताबिक इस जीन में उम्र के साथ पैदा होने की क्षमताओं से लड़ने की खास क्षमता है। लेकिन, साथ यह भी बताया गया है कि यह तभी काम करता है जब इनसान अपने खान-पान में कम कैलोरी का सेवन करे। ऐसा नहीं है कि यह जीन केवल मनुष्‍यों में ही होता है, इनसान समेत सभी जीवों में यह जीन मौजूद होता है। लेकिन जहां तक इनसानों के संदर्भ में कहा जा सकता है कि कम कैलोरी का सेवन करने से यह जीन अत्‍यंत सकारात्‍मक तरीके से काम करता है।

[इसे भी पढ़ें- जब उम्र हो 50, तो कैसा हो आहार]


इतना ही नहीं 'एसआईआर2' डायबिटीज, मोटापा, कैंसर अल्‍जाइमर और पार्किंसन समेत कई तरह के हृदय रोगों का खतरा भी कम करता है। कई वर्षों से यह जीन वैज्ञानिकों के कौ‍तुहल का विषय रहा है। वैज्ञानिकों का एक समूह मानता है कि इनसान की उम्र बढ़ाने में भी इस जीन की भूमिका होती है।

Read More Articles on Health News in Hindi

 

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES2 Votes 1531 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर