गर्भावस्था के दौरान कैफीन का सेवन

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 16, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • कैफीन के सेवन से बचा जाना चाहिए।
  • भ्रूण के विकास को प्रभावित करता है।
  • शरीर में रक्त के दबाव को बढ़ाता है।
  • बेचैनी और सांस संबंधी समस्याएं।

चूंकि अब आप की गर्भावस्था के लिए सकारात्मक जांच हुई है, यह हेल्दी फूड आदतों और नियमित व्यायाम को बनाए रखने के लिए अगले नौ माह की योजना तदानुसार आप के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण हो जाती है। आपके शरीर के भीतर एक जीवन को बनाए रखने के लिए शारीरिक सहनशक्ति की वृद्धि की जानी चाहिए, जो पूरी तरह से आप पर निर्भर है!

caffeine during pregnancy in hindi

गर्भावस्था के दौरान, कैफीन के सेवन से बचा जाना चाहिए। हम सब हमारी सुबह की कॉफी के लिए पागल है लेकिन बहुत कम लोग जानते है कि गर्भावस्था के दौरान कैफीन का सेवन जन्म से पूर्व की जटिलताओं की संभावनाएं बढ़ जाती है। इसमें गर्भपात या मृत प्रसव शामिल है। अपनी लालसा को हराने का सबसे अच्छा विकल्प हर्बल चाय या ग्रीन टी है। कैफीन का सेवन आपके शरीर में रक्त के दबाव को बढ़ाता है। कैफीन में गौरेने और मेटीने जो कि सेम, पौधो और बीज में पाया जाता है।

यह एक और कारण है कि क्यों शीतल पेय कैफिन के लक्षणों को इतना हल्का करती है कि नियमित कैफीन पीने वालो को द्वारा अक्सर इस लत का एहसास नही होता। कैफीन गर्भवती महिलाओं में खून संदूषण का कारण बन सकती है चूंकि यह सबसे तेजी से शोषक है जब रक्त के साथ मिल जाती है। गर्भवती बनने की योजन करने वाली महिलाओं को कम से कम दो तीन महीने पहले कैफीन का सेवन बंद कर देना चाहिए। गर्म चॉकलेट, सॉफ्ट ड्रिंक, कॉफी, चाय, और शराब के सेवन सहित इन पेय पदार्थो से बचना चाहिए। इसके अलावा, कई पूरक आहार उन में कैफीन भी शामिल हो सकता है, ऐसे उत्पादों पर शोध करें और इससे पहले कि आप अपने आहार में बदलाव लाएं अपने स्वास्थ्य चिकित्सकों से परामर्श लें।


कैफीन का सबसे आम और दृश्य प्रभाव निम्नानुसार हैं=

  • बेचैनी और सांस संबंधी समस्याएं।
  • अक्सर प्यास लगना।
  • हृदय दर या घबराहट में वृद्धि।
  • अत्यधिक पसीना आना।
  • रक्तचाप के स्तर में बढ़ोत्तरी।


यद्यपि हर व्यक्ति का एक अलग तरह का शरीर होता है, कैफीन की वजह से हानि एक व्यक्ति से अन्य व्यक्ति मे अलग अलग है। हानि को जानने के लिए पढ़े कि कैफिन भ्रूण के विकास को प्रभावित कर सकते है।

कैफीन नाल को निकालने का कारण बन सकता है जो गर्भावस्था की मध्य अवधि की समाप्ति का कारण बन सकता है। आमतौर पर, शरीर में रक्त का प्रवाह, शरीर में कैफीन घटकों को तोड़ने में सक्षम है। लेकिन कुछ प्रकार के शरीर को गर्भावस्था के दौरान यह अनिश्चित गर्भावस्था को सफल होने के लिए बनाने के लिए अलग प्रतिक्रिया करते है।


कैफीन नाल के माध्यम से पहुंचते हैं और यह कैफीन की खपत भ्रूण के भोजन पाइप तक पहुंच सकते हैं। यह बच्चे के विकास को नुकसान पहुंचा सकते है और अपरिपक्व प्रसव के लिए भी जिम्मेदार हो सकते है। कभी-कभी, नाल देखभाल, शरीर में कैफीन को जमा करती है, पूरे कार्यकाल की गर्भावस्था में विलंब करती है।

महिला को धीरे धीरे अपने कैफीन का सेवन में कटौती करनी चाहिए, इस परिवर्तन के अनुसार स्वंय शरीर को सामान्य होने दे। मतली या सिर दर्द के कारणों में प्रबल रूप से कटौती कर सकता है। एक विकल्प के रूप में डिकैफ़िनेटेड कॉफ़ी कॉफी या हर्बल चाय है पानी का अधिक मात्रा में सेवन विषाक्त पदार्थों को बाहर कर देगा!

इस लेख से संबंधित किसी प्रकार के सवाल या सुझाव के लिए आप यहां पोस्‍ट/कमेंट कर सकते हैं।

Image Source : Getty
Read More Article on Pregnancy in Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES5 Votes 43962 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर