गोखरू से होने वाले दर्द के 8 निवारण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 02, 2017
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • अंगूठे की हड्डी में सूजन हो सकती है गोखरू।
  • कुछ दिनों तक जूतों का प्रयोग न करें।
  • सही साइज और अच्छी क्वालिटी के जूते लें।

गोखरू का रोग उन व्यक्तियों को होता है जो गलत साइज के जूते पहनते हैं। यदि कोई व्यक्ति जूता छोटा पहनता है तो उसके पैर के पंजे जूते के अगले भाग से दबने लगते हैं और लगातार पंजों पर दबाव पड़ने के कारण तथा पंजों के पास खुजली होने से पंजों के जोड़ बड़े हो जाते हैं और उनमें सूजन आ जाती है। इस सूजन के हो जाने के कारण रोगी व्यक्ति को बहुत अधिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है। छोटे गोखरू पैर की अन्य उँगलियों के पास भी पैदा हो सकते हैं। गोखरू की समस्या को आरामदायक जूते पहनकर दूर किया जा सकता है। कसे और ऊँची एड़ी के जूतों की बजाय सैंडल्स (sandals) पहनने से भी गोखरू की समस्या से निजात प्राप्त की जा सकती है।

गोखरू से बचने के 8 असरदार तरीके:

  • एक टब में गर्म पानी भरकर उसमें 1 चम्मच हल्दी का प्रयोग करें। इससे दर्द में राहत मलेगी।
  • पैर के पंजों पर कच्चे आलू को पीसकर लेप लगाएं और उसके उपर कपड़े की पट्टी बांध लें। इस पट्टी को दिन में 2 बार बदलते रहना चाहिए। पैर के पंजों पर 3-4 दिनों तक केले के छिल्के को बांधने से भी गोखरू में राहत मिलती है।
  • जूते हमेशा अपने पैर के साइज से 1 इंच बड़ा पहने और उन्हीं जूतों का प्रयोग करें जिनका अगला भाग चौड़ा हो ताकि पंजे पर किसी तरह का दबाव न पड़े। जूते को उतारने के बाद पंजों को सही दिशा में फैलाएं।

इसे भी पढ़ें- बनियन पेन के कारण और उससे निपटने के उपाय

  • गर्म पानी में एस्पिरिन के 3 टैबलेट डालकर उसमें पैर को 20 मिनट डुबाकर रखें। साथ ही इप्सम नमक डले पानी से पैरों को धोने से भी गोखरू का दर्द ठीक हो जाता है।
  • जितना हो सके नंगे पांव चलने का प्रयास करें। अपने पैर के अंगूठे को अपनी उंगलियों से खींचे जिससे की आपका अंगूठा उचित संरेखण में आ जाय। खिंचाव को इसी प्रकार अन्य उंगलियों के साथ 10 सेकेण्ड के लिये दोहराएँ।
  • अपने पैर की उंगलियों से ज़मीन पर पड़े तौलिये या किसी कपड़े को पकड़ने की क्रिया करे इससे पकड़ मजबूत होगी। बार-बार गिराये और फिर पकड़ें।
  • गोखरू पैड आपके दर्द को कम करने और पैर के अंगूठे को उचित दिशा देने में मददगार साबित होता है।
  • अपने पैर की उंगलियों को सामान्य स्थिति में लाने के लिये टेप बांधे जिससे कि आपके पैर की अंगुलियां एक या दो सप्ताह के बाद सामान्य स्थिति में आ जाएं। यदि आवश्यकता हो तो डॉक्टर से परामर्श करें और उनके निर्देशों का पालन करें।
  • इस आर्टिकल में हमने कई उपाय बताएं हैं लेकिन जरूरी नहीं की यो सभी व्यक्तियों पर कारगर साबित हो इसलिए यदि इनमें से कुछ भी काम नहीं आ रहा हो तो अंत में आप गोखरू की सर्जरी करवा सकते हैं। इसके लिए डॉक्टर से उचित सलाह ज़रूर लें।
Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES1568 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर