ब्रेस्ट कैंसर को जड़ से खत्म करते हैं तुलसी के सिर्फ 2 पत्ते

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 22, 2017
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • तुलसी ब्रेस्ट कैंसर के लिए फायदेमंद है।
  • कैंसर जड़ से खत्म होता है।
  • तुलसी के पत्ते और ब्रेस्ट कैंसर।

तुलसी एक ऐसा पौधा जिन्हें हिंदू समाज में भगवान के बराबर पूजा जाता है। तुलसी न सिर्फ समाज में पूजनीय है, बल्कि इसमें कई औषधीय गुण भी मौजूद हैं। तुलसी कई बीमारियों के इलाज में रामबाण की तरह फायदा करती है। इसका स्‍वाद भले ही कुछ लोगों को पसंद न आए, लेकिन सेहत के लिए तुलसी बहुत फायदेमंद है। जो व्यक्ति रोजाना 2 पत्ते तुलसी के चबाता है जो हर बीमारी से मुक्त रहता है। आज हम इस लेख में आपको बता रहे हैं कि तुलसी के सिर्फ 2 पत्तों से किस तरह ब्रेस्ट कैंसर का जड़ से खात्मा किया जा सकता है।

 

इसे भी पढ़ें, क्यों बच्चों में तेजी से पनप रहा चाइल्डहुड कैंसर?


breast cancer

4 फरवरी एक ऐसा दिन है जब अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर वल्र्ड कैंसर डे मनाया जाता है। आज के समय में पूरी दुनिया कैंसर से जूझ रही है। जवानों से लेकर बच्चे और बूढ़ें भी कैंसर और जिंदगी के बीच झूल रहे हैं। कैंसर में से एक ब्रेस्ट कैंसर भी एक गंभीर और तेजी से बढ़ती बीमारी है। एक सर्वे के मुताबिक महानगरों व शहरों में रहने वाली औरतों में स्तन कैंसर के मामले अधिक देखे जाते हैं। जल्द ही इस रोग के बारे में अगर कुछ ठोस कदम न उठाए गए तो स्तन कैंसर जल्द ही भारत में महिलाओं का सबसे बड़ा कैंसर बन सकता है। इससे बचने के लिए महिलाएं खुद हर महीने स्तन की जांच करें और देखें कि उसमें कोई गांठ तो नहीं है।

कैंसर का नाम सुनते ही पीड़ित व्यक्ति और परिवार के अन्य सदस्य जीने की उम्मीद छोड़ देते हैं। लोगों को लगता है कि कैंसर होने के बाद वह आसानी से ठीक नहीं होता है। ऐलोपेथी इलाज पर भी अब लोगों को भरोसा नहीं रह गया। क्योंकि एक तो ये बहुत महंगा होता है और दूसरा इस बात की भी गारंटी नहीं होती कि इलाज सही से होगा या नहीं। हालांकि अगर वक्त रहते काबू पा लिया जाए तो ब्रेस्ट कैंसर से छुटकारा पाया जा सकता है। इसलिए कैंसर डे के मौके पर आज हम आपको तुलसी से ब्रेस्ट कैंसर का इलाज बता रहे हैं।


इसे भी पढ़ें, सूखे बेर से करें पेट के कैंसर का इलाज, जानिए कैसे



एंटीऑक्सीडेंट और एंटीकारशिनोजेनिक गुण कैंसर के लिए श्राप होता हैै। ये दोनों ही गुण तुलसी में भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। तुलसी के 2 पत्तों का नियमित सेवन करने से स्तन और निप्पल में गांठ धीरे-धीरे खत्म होती है। ऐलोपेथी में ब्रेस्ट कैंसर को खत्म करने के लिए चीर-फाड़ वाले इलाज हैं। कई केसों में तो जड़ समेत ब्रेस्ट को निकाल लिया जाता है। लेकिन तुलसी के दो पत्तों को अगर आप चाय, गुनगुनी पानी या फिर साबुत भी चबाएंगे तो ब्रेस्ट कैंसर आपका कुछ नहीं बिगाड़ सकता है। तुलसी का सेवन करने के साथ ही ये भी जरूरी है कि आप महीने में एक बार डॉक्टर से जांच जरूर कराएं। इससे कैंसर की स्थिति पता चलती रहती है। इसके अलावा एक हफ्ते में ढाई घंटे तक चलने से भी ब्रेस्ट कैंसर 18 प्रतिशत तक घटता है। जो लोग खूब धू्म्रपान करते हैं अगर वे भी रोजाना 2 पत्ते तुलसी के चबाएंगे तो कैंसर से मुक्ति पा सकते हैं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Image Source- getty

Read More Articles On Cancer In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES2546 Views 0 Comment