ब्रेकअप के बाद भी हो सकता है प्‍यार

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 18, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

ब्रेकअप... यानी रिश्‍तों की नाजुक डोर का टूटना। एक शब्‍द और सब खत्‍म। इरादे, वादे, सपने, अरमान, जिन्‍हें दिल में बसाकर सुखद भविष्‍य की कामना की जाती है, बस एक ही झटके में बन जाता है इतिहास। लेकिन, ब्रेकअप रिश्‍तों पर ब्रेक लगाता है, जिंदगी पर नहीं। जिंदगी जो किसी बहते दरिया की मानिंद है, उसे ब्रेकअप के जरिए रोकना नहीं चाहिए। 'बीती ताहि बिसार दे, आगे की सुधि ले' को अपनाकर हमेशा आगे बढ़ने के प्रयास करते रहना ही जीवन का मूल मंत्र है।

[इसे भी पढ़ें : ब्रेकअप से पहले ध्यान रखें ये बातें]

breakup ke baad bhi ho sakta hai pyarयूं भी आज का दौर ब्रेकअप के बाद दर्द भरे नगमे सुनने वालों का नहीं है। आज बाकायदा ब्रेकअप पार्टी की जाती है। ब्रेकअप को बुरा मानने की बजाए, इसे जिंदगी में आगे बढ़ने का एक मौका कहा जाता है। अब न तो किसी के पास तन्‍हाई में आंसू बहाने का वक्‍त होता है और न ही जाम का सहारा लेने का। हां, ब्रेकअप के बाद जिंदगी को वापस पटरी पर लाने के लिए किसी का हाथ थामने की कोशिश तो ही की जाती है। और इसी को बीती बातों को भुलाकर जिंदगी में आगे बढ़ना भी माना जाता है।

ब्रेकअप होना आज के समय में बहुत बड़ी बात नहीं है। आज की पीढ़ी रिश्‍तों में बंधकर नहीं रहना चाहती। प्‍यार के नाम पर उसे अपनी आजादी से समझौता कतई मंजूर नहीं। जहां निजी हितों पर आंच आने लगती है, वहीं बात बिगड़ने लगती है। हालांकि, हर किसी पर यह नियम लागू हो, ऐसा भी जरूरी नहीं।

[इसे भी पढ़ें : ब्रेकअप के बाद डेटिंग]

कई बार जिंदगी की गाड़ी के 'रियर व्‍यू मिरर' में नजर आती रहती हैं यादों की झलकियां। जो रह-रहकर उन पुरानी बातों की झलकियां मस्तिष्‍क पटल पर अंकित करती रहती हैं। पुराने संबंधों को भुलाना इस कदर आसान भी नहीं। जहां भावनात्‍मक जुड़ाव हो और जिसके साथ आपने अपनी जिंदगी के कई खूबसूरत पल बिताएं हो उसे एक झटके में भुला पाना कोई आसान नहीं। आखिर हम और आप इंसान हैं। और इंसान में वे सभी मानवीय संवेदनाएं होती हैं जो उसे जीवंत बनाए रखती हैं। इंसान कोई कंप्‍यूटर नहीं कि जिसमें बस एक बटन दबाकर पुरानी सभी यादों को मिटा दिया जाए। यादें तो इंसान की जिंदगी का अहम हिस्‍सा होती हैं। यादों और उनसे मिले अनुभव ही आपको वह बनाते हैं जो आप आज हैं। और यह अनुभव जिंदगी भर उसके साथ रहते हैं।

बेशक, एक बार विश्‍वास दरक जाने के बाद दूसरी जगह संबंध जोड़ने से दिल डरता है। लेकिन ब्रेकअप से उबरना भी जरूरी है। आखिर सारी जिंदगी यादों के तो सहारे तो नहीं गुजारी जा सकती। आपके लिए कोई न कोई तो जरूर होगा, बस आंखें खोलकर उस एक हाथ की तलाश कीजिए तो शिद्दत से आपका हाथ थामना चाहता है। यकीन जानिए, यह बात कोरी किताबी या फिल्‍मी नहीं है। खुद पर यकीन रखिए और तैयार हो जाइए जिंदगी की गाड़ी को आगे बढ़ाने के लिए।

[इसे भी पढ़ें : डेटिंग के तरीके]

दिल पर पड़ी चोट कुछ लोगों के अस्तित्‍व को ही गहरा नुकसान पहुंचाती है। ऐसे में किसी का भावनात्‍मक संबल उसे बिखरने से बचा लेता है। भले ही कोई इसे दिलफेंक अंदाज कहे, लेकिन ब्रेकअप के बाद डेटिंग कई बार बेहद मददगार साबित होती है।


आइए जानें ब्रेकअप के बाद डेटिंग के बारे में कुछ और मजेदार टिप्‍स।

गलतियों को मत दोहराएं 

 नए संबंध बनाते समय उन गलतियों को ना दोहराएं जो आपने पूर्व संबंधों के दौरान की थी। याद रखिए उन गलतियों से सीखकर आप एक बेहतर इंसान बन सकते हैं और यह आपके जीवन को एक नई दिशा देने में मदद कर सकता है। कोई भी फैसला लेने से पहले सोच विचार जरूर करें।

जो चला गया उसे भूल जा

ब्रेकअप के बाद डेटिंग करना थोड़ा मुश्किल होता है, लेकिन जरूरी नहीं कि जिन कारणों से पहली बार ब्रेकअप हुआ वे कारण यहां भी मौजूद हों। इसलिए हर नए रिश्‍ते को नए दृष्टिकोण से देखें।

[इसे भी पढ़ें : कैसे करें प्रपोज]

अच्‍छा सोचें

किसी भी मुल्‍क में अभी तक सकारात्‍मक सोच पर टैक्‍स नहीं लगा है। अपने विचारों को पॉ‍जीटिव बनाए रखें। रिश्‍ते के टूटने के बाद लोगों से मिलना-जुलना बंद न करें। अपने दोस्‍तों से मिलते रहें। सकारात्‍मक सोच आपको आने वाले नए रिश्‍ते में काफी मदद करेगी।

अडि़यल न बनें

ब्रेकअप के बाद डेटिंग आसान नहीं होती। बेशक, 'दूध का जला छाछ भी फूंक-फूंक कर पीता है', यह भी सच है कि 'पांचों उंगलियां एक जैसी नहीं होतीं' तो अपने विचारों को खुला रखें। ब्रेकअप के बाद कई बार तनाव, गुस्से जैसी भावनात्मक समस्याएं भी आती हैं। लेकिन, इन पर काबू पाना भी जरूरी है। वैसे भी कहा जाता है कि हर घटना एक नया अनुभव दे जाती है, ठीक ऐसे ही ब्रेकअप के बाद आपको अपने आपको समझने में अधिक मदद मिलती है।

बातों को घुमाएं नही

अगर आप नए रिश्ता जोड़ने की बात कर रहे हैं तो अपने दिमाग में यह बात बैठा लें कि आपका पुराना रिश्ता अब खत्म हो चुका है। ब्रेक के बाद यदि आप डेटिंग पर जाते हैं, तो अपने पूर्व साथी की सिर्फ गलतियां ही न निकालें बल्कि चीजों को सही परिपेक्ष्‍य में रखें। क्योंकि हर कोई जानना चाहता है कि पहले ब्रेकअप क्यों हुआ, किसकी और से हुआ, इत्यादि।

[इसे भी पढ़ें : डेटिंग के नौ अलग तरीके]

पूरे तरीके से निर्भर न हों

ब्रेकअप के बाद यह जरूरी है कि आप नए व्यक्ति से संबंध बनाते हुए यह ध्यान रखें कि आप स्वतंत्र हैं। आपकी भी निजी जिंदगी है। ऐसे में आप नए संबंध में अपने पार्टनर पर पूरी तरह से निर्भर ना हों। अपने काम करने और फैसले लेने की क्षमता बढ़ाएं।

उद्देश्य पता हो

ध्यान रहे कि आप दोबारा डेटिंग सिर्फ अपना मन हल्का करने के लिए नहीं बल्कि एक भावनात्मक सपोर्ट पाने के लिए भी कर रहे हैं इसीलिए डेटिंग के वक्त अपने साथी को भी अहमियत दें।

निर्णय सोच-समझकर लें

ब्रेकअप के बाद डेटिंग करने से पहले ये सोच लेना चाहिए कि क्या आपके पूर्व संबंध आपको सता रहे हैं, क्या उन्हें याद करते हुए आपके चेहरे पर मुस्कुराहट आ जाती है, यदि ऐसा है तो आपको डेटिंग पर जाने के लिए थोड़ा और समय लेने की जरूरत है।

मानसिक तैयारी

आपको चाहिए कि आप अपने नए डेटिंग संबंधों के लिए मानसिक रूप से तैयार हों। इससे आपको ब्रेकअप से उबरने में मदद मिलेगी। आपका अतीत आपके आज के संबंधों पर प्रभाव डाल सकता है, इसलिए आपको कल को भूलकर आज के बारे में सोचना चाहिए।

[इसे भी पढ़ें : डेटिंग संबंधों के चरण]

ब्रेकअप को पॉजिटिव लें

ऐसा कहना आसान होता है लेकिन क्या आप जानते हैं हर अनुभव कुछ ना कुछ नया सिखाता है। आप भी अपने ब्रेकअप से सबक लें और दूसरों पर विश्वास करने से पहले उसे अच्छे से जांचे-परखें। इस एटीट्यूट को बदलें कि एक बार विश्वास करने के बाद दोबारा किसी पर विश्वास नहीं करना।

नए विकल्प तलाशें

ब्रेकअप के बाद डेटिंग पर जाने पर कुछ नए फंडे अपनाएं, कुछ ऐसे जो आपने कभी न किए हो लेकिन करना चाहते हो। किसी अच्छे और रोमांचकारी जगह को डेटिंग के लिए चुने जिससे आप अपने साथी पर पूरी तरह से ध्यान दे सकें।

नया पार्टनर तलाशें

आप ब्रेकअप के बाद डेटिंग के लिए अपने दोस्तों, आसपास के लोगों में से भी डेटिंग के लिए किसी का चयन कर सकते ‌हो या फिर आप इसके लिए फेसबुक जैसी सोशल नेटवर्किंग साइट्स की भी मदद ले सकते हो।  

इन टिप्स को अपनाकर आप ना सिर्फ ब्रेकअप से बाहर निकल सकते हैं बल्कि अपने नए संबंध बनाने में कामयाब होंगे और आप पर इनका भावनात्‍मक प्रभाव भी अच्‍छा पड़ेगा।

 


Read More Articles on Dating Tips in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES1 Vote 3493 Views 2 Comments
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • Aaki15 Jun 2013

    मेरा अभी दो महिने पहले ब्रेकअप हो गया था। मैं बहुत डिप्रेशन में था। यही नहीं मुझे ऐसा लगता था की मेरी गर्लफ्रेंड की तरह सारी लड़कियां चीटर होती हैं। मेने डिप्रेशन से निकलने के लिए काफी कोशिश की इसी वजह से में लड़कियों से दूर रहने लगा था। मुझे उनसे डर और नफरत दोनों होने लगी थी। अभी आपका ये आर्टिकल पढ़ा। मुझे इससे काफी रिलेक्स फील हुआ। इसमें दी गयी कई टिप्स बहुत हैल्पफुल हैं। पहले मुझे लगता था कि में अब किसी रिलेशन में नहीं जाउंगा। लेकिन अब मैने सोचा है कि मुझे एक और चान्स लेना चाहिए।

  • anshul24 Jan 2013

    nice tips

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर