ब्रेक-अप के बाद क्‍यों रिश्ता ना रखें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 14, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

break up ke baad kyon rishta na rakhe

फिर उसी बेवफा पर मरते हैं
फिर वही जिंदगी हमारी है...
                                ग़ालिब

सच ही तो है, आसां नहीं होता दिल की फितरत को समझना। जिस पर एक बार आ जाए फिर आसानी से कहां उसे भुला पाता है ये दिल। दिमाग लाख समझाए कि फलां राह पर चलना कांटों का सफर है, पर यह मानता कहां है। जिसने जख्म दिए हों लाखों, उसी को चाहता है। उसी को याद करता है। लेकिन हुजूर यह जिंदगी है, रुकना न इसकी फितरत है और न ही इसके लिए वाजिब। तो, अगर कहीं दिल चोट खा भी बैठा है, तो जनाब 'और भी ग़म हैं जमाने में मुहब्बत के सिवा'। जिंदगी का साथ निभाते हुए चलते रहिए।

[इसे भी पढे़: ब्रेकअप से पहले ध्यान रखें ये बातें]

 

ब्रेकअप के बाद जिंदगी को पटरी पर लौटने में वक्त तो लगता ही है। पर, ऐसी बातों से जिंदगी को ब्रेक लगाना ठीक नहीं। इश्क का सुरूर जब इंसान के सिर चढ़ता है, तो उसे दुनिया का होश नहीं रहता। लेकिन, जब ये खुमारी उतरती है तो दुनिया वीरान सी लगती है। बहुत मुश्किल हो जाता है इस 'हैंगओवर' से निकल पाना। ऐसे में जरूरी है कि इस चीज से बाहर आकर मुस्कुराना सीखना चाहिए।

 

[इसे भी पढ़ें: ब्रेकअप के बाद डेटिंग]

 

यूं भी 'ब्रेकअप जैसा फैसला लेना आसान नहीं होता। जिसके साथ आपने अपनी आगे की जिंदगी के सपने सजाएं हो उसे छोड़ने के खयाल से ही आप डर जाते हैं। लेकिन कई बार हालात ऐसे हो जाते हैं कि आपको ना चाहते हुए भी ब्रेकअप जैसा कठोर निर्णय लेना पड़ता है। आमतौर पर लोग  ब्रेकअप के बाद रिश्ता नहीं रखते क्योंकि इससे उन्हें अपने साथी और उसकी यादों से निकलने में काफी तकलीफ होती है। वे चाह कर भी अपने दिल दिमाग से उन दिनों की यादों को निकाल नहीं पाते हैं। रिश्ता खत्म होने के बाद बात करने से आप हमेशा उन्हीं सवालों में उलझे रहते हैं कि उसने आपके साथ ऐसा क्यों किया। ऐसा करना आपकी आगे की जिंदगी की शुरुआत में बाधा बन जाता है। जानिए क्यों ब्रेकअप के बाद रिश्ता नहीं रखना चाहिए।

 

स्वीकार करें

इस बात को स्वीकार करें कि आपका अब उनके साथ कोई रिश्ता नहीं। जब तक आप इस हकीकत को स्वीकार नहीं करेंगे आप अपनी जिंदगी में आगे नहीं बढ़ पाएंगे।

 

नई शुरुआत करें

 

'न जाने किसलिए उम्मीदवार बैठा हूं इक ऐसी राह पे जो तेरी रहगुज़र भी नहीं।'- फ़ैज़

 

अब छोड़ दीजिए उसका इंतजार करना। और जिंदगी में करें नई शुरुआत। और इस नयी शुरुआत के लिए जरूरी है कि आप ब्रेकअप के बाद अपने पुराने साथी से रिश्ता ना रखें। इससे आपको पुरानी यादों से निकलने में मदद मिलेगी और आप किसी नए रिश्ते में जुड़ सकेंगे। एक अध्ययन के मुताबिक ब्रेकअप के बाद भी कम से कम 88 प्रतिशत लोग सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक के माध्यम से अपने पूर्व प्रेमी-प्रेमिका पर नजर रखते हैं।

 

[इसे भी पढ़ें: ब्रेकअप के तरीके]

खुद को समय दें

अक्सर अंदर तक तोड़ देता है ब्रेकअप। इंसान कभी अपने आप को तो कभी अपने पूर्व साथ को इस सबके लिए कोसता रहता है। अगर आप भी ऐसे ही किसी दौर से गुजर रहे हैं,तो जरा ठहरिए। इससे आप खुद को भावनात्मतक रूप से कमजोर बना रहे हैं। ब्रेकअप के लिए किसी को भी दोषी मानना ठीक नहीं। हां, इस रिश्ते से सीखिए और आगे बढि़ए। खुद को महत्व देना सीखें। ब्रेकअप के बाद कई लोग जिम या पार्लर जाना बंद कर देते हैं। आप ऐसा कतई न करें। इस बात का हमेशा खयाल रखें अगर आप खुद को प्यार करते हैं तो लोग भी आपको प्यार और इज्जत देंगे। तो सारा ध्यान अपने करियर पर फोकस करें। खुद को ज्यादा से ज्यादा समय दें, कोई नया हुनर सीखिए। एक सही रूटीन बनाकर उसे फॉलो करें। अपने मूड को अच्छी चीजों की ओर मोड़ें और पॉजिटिव सोच रखें।

 

रिश्ते की कड़वाहट कम करने के लिए

रिश्ते में कड़वाहट से बचने के लिए जरूरी है कि आप ब्रेक अप के बाद उस शख्स से रिश्ता नहीं रखें। इतने समय तक किसी रिश्ते में रहने के बाद उसे स्वस्थ मानसिकता के साथ खत्म किया जाना चाहिए ना कि चोट पहुंचाकर। रिश्तों को तोड़ते समय भी विनम्रता और सहृदयता जैसे भाव बनाए रखना जरूरी है। ताकि कभी जिंदगी आपको दोबारा आमने-सामने होने का मौका दे तो होंठो पर मुस्कुराहट रहे, आंखों में दर्द नहीं।

 

[इसे भी पढ़े: ब्रेकअप के बाद फेसबुक ड्रामा से बचें]

 
नए रिश्ते में जुड़ने के लिए

ब्रेकअप के बाद अपने जीवन में नए रिश्तों को जगह दें वे रिश्ते जिन्हें आप अब तक ज्यादा महत्व नहीं देते थे। घर पर परिवार वालों के साथ व दोस्तों के साथ समय बिताएं। इससे आपको ब्रेकअप के दर्द से बाहर निकलने में मदद मिलेगी और आपके जीवन में नए लोगों का आगमन होगा।


ध्यान कहीं और लगाएं

अपनी एक्स गर्लफ्रेंड या बॉयफ्रेंड के लेटर्स व फोटो संभालकर न रखें। अपनी भावनाओं को छिपाएं नहीं और ना ही बहुत ज्यादा रोएं। लोग अक्सर अपने लवर को याद करके आंसू बहाने लगते हैं और यही उनकी कमजोरी बन जाते हैं। इससे आप शारीरिक व मानसिक तौर पर कमजोर पड़ सकते हैं। अपने पुराने प्यार को अपनी जिंदगी से दूर करने के लिए उससे जुड़ी सारी चीजें खुद से दूर कर दें। आप चाहें तो अपना ध्यान अध्यातम की ओर भी लगा सकते हैं। इससे आपको इस स्थिति से बाहर आने की शक्ति मिलेगी। अगर आपकी रुचि समाजिक कार्यों में है, तो किसी एनजीओ से जुड सकते हैं या कोई और सुकून देने वाला काम करें। ऐसे लोगों से मिलकर आपको अहसास होगा कि तमाम लोग आपसे भी ज्यादा परेशानियों का सामना कर रहे हैं।

 

[इसे भी पढ़ें: ब्रेकअप के बाद भी हो सकता है प्यार]

 

रिश्ते की जकड़न से निकलें


ब्रेकअप के बाद आपको उस रिश्ते की जकड़न से बाहर निकलना चाहिए और यह तभी हो सकता है जब आप उस शख्स से रिश्ता ना रखें। कई बार लोग उस रिश्ते में इतने जकड़े होते हैं कि वे उस रिश्ते के खत्म होने के बाद भी उनकी जिंदगी आगे नहीं बढ़ पाती है। जैसे अगर एक्स-पार्टनर को लोगों से मिलना-जुलना पसंद नहीं था तो वे रिश्ता टूटने के बाद भी लोगों से मिलने में गुरेज करते हैं।

 

Read More Articles On Sex And Relationship In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES28 Votes 45451 Views 7 Comments
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर