ब्लड शुगर में रखें सावधानी

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 11, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Blood sugar

खाने पीने में लापरवाही बरतने से आपको कई स्वास्थ्य समस्याएं झेलनी पड़ सकती हैं। आजकल की बिजी लाइफ में लोग हेल्दी फूड से ज्यादा जंक फूड की तरफ आकर्षित हो रहे हैं। लेकिन वे यह भूल जाते हैं कि यह खाना उनके अंदर कई तरह की बिमारियों को बढ़ा सकता है, जिसमें से ब्लड शुगर एक है। एक अध्ययन में यह सामने आया है कि काम के प्रेशर व दिनभर भागदौड़ के कारण लोग अपने खाने पर ध्यान नहीं देते हैं। ऐसे में सभी के लिए रक्त में शर्करा का संतुलन बनाए रखना बहुत जरूरी है। रक्त में शर्करा की मात्रा संतुलित नहीं होने से मस्तिष्क पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसके अलावा वजन बढ़ना, चिड़चिड़ापन, अवसाद, चक्कर आना, सिरदर्द, मांसपेशियों में ऐंठन आदि बीमारियों का भी खतरा रहता है। आईए जानें ब्लड शुगर के बढ़ने से शरीर पर होने वाले प्रभावों के बारे में।

 

त्वचा पर प्रभाव-ब्लड शुगर में शरीर से तरल पदार्थ निकलने लगता है जिससे त्वचा शुष्क हो जाती है और इसमें खुजली होने लगती है। कभी कभी तो शरीर पर लाल निशान भी दिखने लगते हैं। ऐसे में ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए जिससे शरीर में तरल पदार्थ की कमी ना हो।


पैरों पर प्रभाव- हाई ब्लड शुगर में रक्त प्रवाह में कमी आने के कारण इसका असर पैर पर भी होता है। नर्वस सिस्टम गड़बड़ हो जाने के कारण पैरों में दर्द, सूजन और पैर सुन्न होने की समस्या हो जाती है। अगर इसका सही समय पर उपचार नहीं कराया गया तो इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं।

 

आंखों पर प्रभाव-ब्लड शुगर की समस्या होने पर आंखों की रोशनी धुंधली और कमज़ोर होने लगती है, अगर रोगी इसको हल्के में लेता है तो वो अंधा भी हो सकता है। हाई ब्लड शुगर से आंखों का रेटिना प्रभावित होता है, जो देखी जाने वाली वस्तु की इमेज को आकार देता है।

 

नवर्स सिस्टम पर प्रभाव-ब्लड शुगर से पूरे शरीर में रक्त वाहिनियों पर प्रभाव पड़ता है। नर्वस सिस्टम कमजोर होने पर शरीर के किसी भी अंग तक पोषक तत्व और ऑक्सीजन की सप्लाई ठीक से नहीं हो पाती।

 

ब्लड शुगर से बचने के उपाय

  • ब्लड शुगर से बचने के लिए संतुलित भोजन बहुत जरूरी है। इसलिए बाहर के खाने की जगह घर पर बना खाना खाएं।
  • ब्लड शुगर से बचने के लिए घर में बना दलिया लेना सर्वोत्तम है। साथ ही दिन में तीन-तीन घंटे के अंतराल से हल्का भोजन लेना चाहिए।
  • चॉकलेट, चाय, कॉफी या डिब्बा बंद जूस हमेशा खाने के बाद भी पीना चाहिए। इससे ब्लड शुगर काफी हद तक रोका जा सकता है।
  • ब्लड शुगर से बचने के लिए नियमित जांच जरूरी है। इसलिए 18 वर्ष की उम्र से ही लोग ब्लड शुगर की जांच करवाना शुरू कर दें। आप चाहें तो घर पर भी मशीन रखकर ब्लड शुगर की जांच कर सकते हैं।
Write a Review
Is it Helpful Article?YES24 Votes 14361 Views 1 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • reeta04 Jul 2012

    gud info...

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर