ज्‍यादा तनाव से बढ़ता है भूलने की बीमारी का खतरा

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 07, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • स्वीडेन की 800 महिलाओं पर शोध किया गया है।
  • बीएमजे ओपन ने पेश किया है इस पर अपनी रिपोर्ट।
  • 35-45 साल की महिलाओं को शोध में शामिल किया।
  • ज्‍यादातर महिलाओं ने माना कि वे तनाव से गुजरी हैं।

Stress Deteriorating Memoryज्‍यादा तनाव लेने से भूलने की बीमारी हो सकती है, हाल ही में हुए एक नये शोध में यह बात सामने आयी है कि महिलाओं में तनाव के चलते भूलने की बीमारी होने का खतरा बढ़ रहा है।


स्वीडेन की 800 महिलाओं पर शोध किया गया है, इसके लिए ऐसी महिलाओं को चुना गया जिनका तलाक हो चुका था या जो विधवा हो गईं थीं। इन महिलाओं में एक दशक के बाद अल्जाइमर से पीड़ित होने की आशंका जताई गई है।


बीएमजे ओपन की रिपोर्ट के अनुसार, ज्‍यादा तनावगस्‍त महिलाओं में भूलने की बीमारी बढ़ने की आशंका बढ़ती है। शोधकर्ताओं के मुताबिक तनाव से जुड़े हार्मोन की वजह से दिमाग़ पर विपरीत असर पड़ता है।


इसके कारण शरीर में भी कई प्रकार के बदलाव होते हैं, इससे ब्लड प्रेशर और ब्लड सुगर बढ़ने लगता है। डॉ. लीना जॉनसन और उनके दल के चिकित्सकों का मानना है कि किसी हादसे से गुज़रने के बाद तनाव का स्तर बढ़ता है।


इस शोध में महिलाओं पर कई तरह के प्रयोग किए गए, करीब 35 से 45 साल की महिलाओं को कई परीक्षणों से गुजरना पड़ा और अगले चार दशक के दौरान नियमित समय अंतराल पर इन पर कई प्रयोग अभी और किए जाएंगे।


प्रत्येक चार में से एक महिला ने बताया कि वे दो बार तनाव के दौर से गुजरी हैं जबकि पांच में से एक महिला ने बताया कि वे तीन बार तनावपूर्ण दौर से गुजर चुकी हैं। हालांकि इस अध्ययन के दौरान इनमें से 425 महिलाओं की मौत हो गई जबकि 153 महिलाओं को भूलने की बीमारी हो गई।


डॉ. जॉनसन ने बताया कि, 'आने वाले दिनों के अध्ययन में यह आंकने की कोशिश होगी कि क्या तनाव सम्भालने के प्रबंधन और व्यवहारगत थेरेपी से भूलने वाली बीमारी का इलाज संभव होगा।'

 

 

Read More Health News In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES1 Vote 1814 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर