कुपोषण और बीमारियों से बचाता है करेला

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 18, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • केरले के सेवन से मधुमेह कंट्रोल रहता है।
  • हर रोज करेले का जूस पेट की समस्या को दूर करता है।
  • करेले में त्वचा रोग दूर करने के गुण भी होते हैं।
  • करेला का नियमित सेवन हर रोग को दूर करता है।

करेला का नाम सुनकर भले ही कई लोग मुंह बिचका लेते हैं लेकिन स्वास्थ्य के लिए यह बड़े काम की चीज है। विशेषज्ञों का कहना है कि करेला  कुपोषण और कई बीमारियों से बचाव में बेहद कारगर है। नाट फार प्राफिट शोध संस्थान के शोधकर्ता डा. डायनो किटिंग के मुताबिक करेला विटामिन से भरपूर होता है। टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों के लिए तो यह विशेष रूप से लाभदायक है।

benefits of karela

करेला खाओ, स्वस्थ रहो

  1. जिनका हाजमा ठीक नहीं रहता, उन्हें करेला नियमित आहार में शामिल करना चाहिए। यह आपके पाचन तंत्र को दुरुस्त बनाता है।
  2. कब्ज की समस्या से निजात दिलाता है।
  3. मलेरिया से बचाता है। यदि मलेरिया हो जाए तो इसका सेवन लाभकारी है।
  4. कई शोधों में कहा गया है कि एड्स और कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियों में भी करेला फायदा करता है। यह इन बीमारियों से निजात तो नहीं दिला सकता लेकिन इसके घातक प्रभाव से काफी हद तक बचाता है।
  5. पोटेशियम, आयरन, बीटा कैरोटीन और कैल्शियम के अलावा विटामिन बी 2, बी 3, बी 1 और सी से भरपूर होने के कारण यह कुपोषण से बचाता है।
  6. यह खून में शर्करा की मात्रा यानी ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित रखता है।
  7. करेले का सेवन सोरियासिस (चर्म रोग) में भी फायदेमंद साबित होता है।


रोगों को दूर करें करेला

 

मधुमेह

करेला मधुमेह में रामबाण औषधि का काम करता है। करेले के टुकड़ों को छाया में सुखाकर पीसकर महीन पाउडर बना लें। रोजाना सुबह खाली पेट एक चम्मच पाउडर का पानी के साथ सेवन करने से लाभ मिलता है।

त्वचा रोग

इसमें मौजूद बिटर्स और एल्केलाइड तत्व रक्त शोधक का काम करते हैं। करेले की सब्जी खाने और मिक्सी में पीस कर बना लेप रात में सोते समय लगाने से फोड़े-फुंसी और त्वचा रोग नहीं होते।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए

करेले में मौजूद खनिज और विटामिन शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं जिससे कैंसर जैसी बीमारी का मुकाबला भी किया जा सकता है।
benefits opf karela

जोड़ों के दर्द से राहत दे

गठिया या जोड़ों के दर्द में करेले की सब्जी खाने और दर्द वाली जगह पर करेले की पत्तों के रस से मालिश करने से आराम मिलता है।

उल्टी-दस्त में फायदेमंद

करेले के तीन बीज और तीन काली मिर्च को घिसकर पानी मिलाकर पिलाने से उल्टी-दस्त बंद हो जाते हैं। अम्लपित्त के रोगी जिन्हें भोजन से पहले उल्टियां होने की शिकायत रहती है, करेले के पत्तों को सेंककर सेंधा नमक मिलाकर खाने से फायदा होता है।

मोटापा से राहत दिलाए

करेले का रस और एक नींबू का रस मिलाकर सुबह सेवन करने से शरीर में उत्पन्न टॉकसिंस और अनावश्यक वसा कम होती है और मोटापा दूर होता है।

 

चेतावनी

वैसे तो करेला सेहत की दृष्टि से बेहद लाभकारी है। लेकिन जिन्हें अल्सर की समस्या है उन्हें इससे परहेज करना चाहिए। इसके अधिक सेवन से सीने में जलन जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं।

 

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES52 Votes 14179 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर