वज़न घटाने के अलावा भी वर्कआउट के होते हैं कई लाभ

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 08, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • वर्कआउट का पूरा फायदा लेने के लिए पॉजिटिव बातें सोचें।
  • नियमित वर्कआउट करने से कई गंभीर बीमारियां दूर रहती हैं।
  • एरोबिक व्यायाम से हार्मोन का रक्त स्तर उच्च हो जाता है।
  • वर्कआउट कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित रकता है और गुड हार्मोन्स बढ़ाता है।

बात जब भी वर्कआउट की आती है, तो हम इसे अकसर वजन कम करने से लेकर जोड़कर देखते हैं। बेशक, मोटापे को दूर करने में वर्जिष अहम किरदार निभाती है। लेकिन, ऐसा नहीं कि व्‍यायाम केवल इसी काम आता है। वर्कआउट केवल वजन कम करने में मदद नहीं करता। यह शरीर को तंदुरुस्‍त रख कई बीमारियों से भी बचाता है। नियमित वर्कआउट करने से डायबिटीज, उच्च रक्तचाप, कोलेस्ट्रॉल आदि भी नियंत्रित रहते हैं। व्‍यायाम रक्त संचार को भी सुचारू रखता है।

शरीर ऊर्जावान बनता है और दिल की बीमारियों से होता है बचाव

नियमित रूप से वर्कआउट करने से शरीर दिनभर स्वस्थ और ऊर्जावान बना रहता है। एक शोध के अनुसार जो लोग हफ्ते में पांच दिन 30 मिनट वर्कआउट करते हैं, उन्हें दिल से संबंधित बीमारियां होने की आशंका बहुत कम होती है। यदि नियमित और प्रशिक्षित व्यायाम के साथ सही खानपान और ध्यान को भी जोड़ लिया जाए तो दिल की बीमारियों का खतरा लगभग ना के बराबर हो जाता है।

 

Work Out Benefits In Hindi

 

कैंसर रहता है दूर

जिन लोगों की दिनचर्या व खानपान नियमित होता है, उन लोगों को कैंसर होने की आशंका बेहत कम हो जाती है। नियमित वर्कआउट से कई गंभीर बीमारियां दूर रहती हैं। 1999 में प्रकाशित एक अध्ययन में भी बताया गया था कि नियमित रूप से व्यायाम या मॉर्निंग वॉक करने से कैंसर होने की संभावना काफी कम हो जाती है और शरीर का अन्य कई रोगों से भी बचाव होता है।

स्मृति को करे मजबूत

यदि आपके इम्तहान नज़दीक आ रहे हैं, या फिर दफ्तर में आपको एक बेहद जरूरी प्रजेन्टेशन देना है, तो इसके पहले थोड़ा व्यायाम करना या फिर वॉक ही कर लेना आपको सफलता मिलने की संभावना को बढ़ा सकता है। जी हां, यह बात सच है! जर्नल बिहेवियरल ब्रेन रिसर्च द्वरा युवा वयस्कों के एक नए अध्ययन में पता चला कि एरोबिक व्यायाम के एक सत्र से हार्मोन का रक्त स्तर उच्च हो गया, जो कि मजबूत स्मृति के साथ जुड़ा होता है। यही नहीं नियमित वर्कआउट या वॉक करने से पूरे शरीर का रक्त संचार तेज हो जाता है। रक्त संचार तेज होने के कारण शरीर में ऑक्सीजन का स्तर बढ़ता है और ऑक्सीजन सीधे दिमाग तक पहुंचती है। कैलिफोर्निया युनिवर्सिटी के एक शोध में बताया गया था कि रोजाना वर्कआउट या सुबह वॉक करने से एल्जाइमर होने की संभावना भी बहुत कम हो जाती है।

कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित रहता है और बढ़ते हैं गुड हार्मोन्स

नियमित वर्कआउट करने से कोलेस्ट्रॉल और ब्लडप्रेशर नियंत्रित रहता है।​ कई शोध बताते हैं कि वॉक करने या नियमित लाइट वर्कआउट से एंडोरफिन और सेरोटोनिन जैसे गुड हार्मोंस में इजाफा होता है। ये दोनों हार्मोन्स सेहत को बेहतर बनाए रखते हैं। जिन लोगों को हार्मोनल असंतुलन की समस्या होती है, उन्हें रोज सुबह कम से कम 30 मिनट वॉक या लाइट वर्कआउट करने की सलाह दी जाती है।

 

Work Out Benefits In Hindi

 

रचनात्मकता को बढ़ाए

यह आपकी रचनात्मकता को बढ़ा देता है और नए विचारों के मंथन करने की क्षमता में इजाफा होता है। जर्नल फ्रंटियर्स इन न्यूरोसाइंस डिटरमांइड में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार वे बाइक राइडर्स जो नियमित व्यायाम करते थे, उन्होंने व्यायाम न करने वाले बाइक राइडर्स की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया। वर्कआउट के साथ योग और ध्यान को मिला देने पर यह निर्णय लेने की क्षमता को भी बढ़ाता है।  नियमित वर्कआउट करने पर आत्मविश्वास और रचनात्मकता में काफी बढ़त देखने को मिलती है।



यही नहीं नियमित वर्कआउट करने से त्वचा सुंदर होती है और शरीर की शएप भी बेहतर बनती है। इसके नियमित अभ्यास से शरीर में नियमित रक्त संचार होता है और पेट से संबंधित समस्याएं भी दूर होती है। साथ ही इससे स्किन चमकदार और जवां बनी रहती है। लेकिन बेहतर होगा कि आप शुरू करने से पहले किसी एक्सपर्ट से अपनी डाइट और वर्कआउट प्लान की जानकरी कर लें।



Read More Articles On Sports & Fitness in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES9 Votes 1359 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर