हंपबैक पोस्‍चर को सुधारने के लिए करें ये एक्‍सरसाइज

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 07, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • हंपबैक पोस्‍चर में बैठे रहना होता है सेहत के लिये हानिकारक।
  • कुछ एक्सरसाइज कर हंपबैक पोस्‍चर को सुधारा जा सकता है।
  • नियमित पाइलेट्स एक्सरसाइज करने से होता है काफी लाभ।
  • रोज सुबह सूर्य नमस्कार का अभ्यास भी होता है लाभदायक।

आजकल काम का माहौल बदल चुका है। घंटो दफ्तर की चेयर पर बैठे गर्दन को आगे झुकाए, आंखों को कंप्यूटर पर गढाए काम किया जाता है। कई कई घंटे बिना खास गतिविधी के लोग कुर्सी में गढे बैठे रहते हैं। यदि आप भी उनमें से एक हैं और घंटो कुर्सी पर हंपबैक पोस्‍चर में काम करते हैं तो ये आपकी सेहत पर भारी पढ़ सकता है। कई शोध ये दावा कर चुके हैं कि घंटों लगत पोश्चर में बैठकर काम करना सेहत के लिये काफी नुकसानदायक होता है। चलिये जानें हंपबैक पोस्‍चर को सुधारने के लिए कुछ सहायक एक्‍सरसाइज कौंन से हैं।  

Exercises for Humpback Posture in Hindi


पाइलेट्स एक्सरसाइज करें

मांसपेशियों में सही तरह से खिंचाव देने पर शरीर ज्‍यादा लचीला बनता है और सही तरीके से खिंचाव के लिए सबसे अच्छा विकल्प है पाइलेट्स एक्‍सरसाइज। इसे करने से शरीर के जोड़ भी मजबूत होते हैं। रीढ़ की हड्डी में परेशानी होने पर या हंपबैक पोस्‍चर को सुधारने के लिए पाइलेट्स एक्‍सरसाइज फायदेमंद होती है। कमर के लिये पाइलेट्स एक्‍सरसाइज आपके शरीर को अन्‍य व्‍यायाम की तुलना में ज्‍यादा मजबूत बनाती हैं।


प्लांक एक्सरसाइज करें

प्‍लांक की स्थिति कुछ पुशअप के जैसी ही होती है, लेकिन इसमें अधिक संतुलन और एकाग्रता की जरूरत होती है। प्लांक एक्सरसाइज करने के लिए सबसे पहले पेट के बल लेट जाएं और माथे को जमीन से छूने दें। फिर शरीर के ऊपरी हिस्से को कोहनी पर देते हुए कोहनी को जमीन से और पैरों को पंजों पर टिकाएं। अब पेट व जांघों को ऊपर की ओर उठाने की कोशिश करें।

 

Exercises for Humpback Posture in Hindi

 

स्‍वीस बॉल वाई-रेज

स्‍वीस बॉल वाई-रेज भी हंपबैक पोस्‍चर को सुधारने में मददगार होती है। इसे करने के लिये जमीन पर सीधे लेट जाएं और फर्श पर पैरों को सटा लें। अब अपनी पीठ को सीधा रखें और छाती पर एक एक्सरसाइज बॉल को नीचे लगा लें। ध्यान रहे कि आपकी हथेलियां जमीन से आगे-पीछे टिकी हों, और बॉडी 30 डिग्री के कोंण पर हो। ऐसा लगभग 10 बार करें, इससे कमर में लचीलापन आएगा और हंपबैक पोस्‍चर में भी सुधार आएगा।


इसके अलावा रोज सुबह सूर्य नमस्कार का अभ्यास करें। कपालभाति और भस्त्रिका के साथ ही अनुलोम-विलोम भी करें। खड़े होकर किए जाने वाले योगासनों में त्रिकोणासन, कटिचक्रासन, ताड़ासन, अर्धचंद्रासन और पादपश्चिमोत्तनासन का अभ्यास भी कर सकते हैं।


image source : getty images


Read More Articles On Exercise & Fitness in Hindi.

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES4 Votes 1090 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर