फल और प्रोटीन युक्‍त आहार से बढ़ते बच्‍चे को दें सेहत का उपहार

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 28, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • हड्डियों और दांतों को मजबूत बनाता है कैल्शियम युक्‍त आहार।
  • दो साल से कम उम्र के बच्‍चे के लिए फायदेमंद रहेगा फैटी भोजन।
  • शरीर में विटामिन के लिए जरूरी है फल और सब्जियों का सेवन।
  • बच्‍चे के लिए नुकसानदेह भी हो सकती है नमक की ज्‍यादा मात्रा।

बच्‍चे के बढ़े होने के साथ उसकी शारीरिक जरूरतें भी बढ़ती हैं। जब तक बच्‍चा मां के दूध पर निर्भर रहता है तो ज्‍यादा परेशानी नहीं होती। लेकिन छह माह का होने के बाद आपको यह जानकारी होनी चाहिए कि बच्‍चे की बढ़वार में किस प्रकार का आहार अच्‍छा रहेगा।

diet for growing baby
छह माह के बाद बच्‍चे को जरूरत होती है ठोस आहार की, ठोस आहार देने पर शुरूआत में उसे पाचन संबंधी परेशानी भी हो सकती है। बच्‍चे को कम से कम परेशानी हो, इसके लिए आहार का चुनाव सोच-समझकर और किसी से परामर्श के बाद ही करें। इस लेख के जरिए हम आपको बता रहे हैं बढ़ते हुए बच्‍चे के लिए कैसा आहार होना चाहिए।

 

कैल्शियम से भरपूर आहार

बच्‍चे को वह कैल्शिम से भरपूर आहार देना चाहिए। बढ़वार में बच्‍चे को कैल्‍शियम की जरूरत होती है। कैल्‍शियम से हड्डियों और दांतों को मिलती है। साथ ही बच्‍चे की लंबाई में भी यह फायदेमंद होता है। दूध में भरपूर कैल्शियम होता है, यदि आपके बच्‍चे को दूध पसंद नहीं है तो आप उसे कुछ विशेष आहार भी खिला सकती हैं। बच्‍चे को थोड़ी-थोड़ी मात्रा में घिसा हुआ बादाम, दही, संतरे का जूस, ओटमील और चीज देना फायदेमंद रहेगा।

 

शारीरिक विकास के लिए ऊर्जा

बचपन में शिशु का तेजी से शरीर‍िक विकास होता है, उसे ऊर्जा की जरूरत होती है। बच्‍चे के आठ माह का होने पर आप उसे ऊर्जा के लिए चावल, ब्रेड और पास्‍ता दे सकती हैं। इसके साथ ही विटामिन व फाइबर युक्‍त आहार के साथ मिनरल्‍स का सेवन भी अच्‍छा रहेगा। दो साल से कम उम्र तक के बच्‍चों के लिए फैट वाला भोजन अच्‍छा रहता है।

 

फल और सब्जियां

बच्‍चे को शुरू से ही फल और सब्जियां को खाने की आदल डालें। सुबह और दोपहर में फल व सब्जियों को हल्‍की मात्रा में दें। हो सकता है बच्‍चा शुरू में इन्‍हें पसंद न करें, लेकिन आप धीरे-धीरे उसे इनकी आदत डाल सकती हैं। केले के बारीक टुकड़े काटकर खाने के लिए दें। हर दिन अलग-अलग तरह के फल खिलाने से बच्‍चे को पर्याप्‍त मात्रा में विटामिन मिलेगा।

 

प्रोटीन युक्‍त आहार

बढ़ते हुए बच्‍चे के लिए प्रोटीन बहुत जरूरी है। मीट, मछली और अंडे में प्रोटीन के साथ ही आयरन भी होता है। इनसे विटामिन ए और डी प्रचुर मात्रा में मिलता है। बच्‍चे के एक साल का होने पर आप उसे प्रोटीन युक्‍त आहार के सेवन की आदत डाल सकती हैं।

 

नमक की मात्रा का रखें ध्‍यान

आपको यह जानकारी होनी चाहिए कि बच्‍चे के लिए किस मात्रा में नमक सही रहेगा। साथ ही आपको अपने आहार में भी नमक का ध्‍यान रखना चाहिए। बच्‍चे को ज्‍यादा मात्रा में नमकीन पदार्थ नहीं दें। बच्‍चा एक साल से छह साल के बीच में हो तो उसे दिन भर में दो ग्राम नमक से ज्‍यादा नहीं देना चाहिए।

 

कब दें बच्‍चे को ठोस आहार

बच्‍चे को ठोस आहार देना कब शुरू करें इसका भी एक सही समय होता है। छह माह का होने पर बच्‍चे को धीरे- धीरे ठोस आहार देना शुरू करें। बच्चे का सिर स्थिर होने पर उसे ठोस आहार देना चाहिए। यह भी ध्‍यान रखें कि जब बच्‍चा निगलना सीख जाएं तभी ठोस आहार दें। बच्‍चा शुरूआत में खाने की चीजों को जीभ से बाहर निकाल देता है, वह धीरे-धीरे निगलने की प्रक्रिया को सीखता है।

 

विशेषज्ञ की सलाह लें

अलग-अलग प्रकार के आहार के सेवन से बच्‍चे को बढ़वार के लिए पोषक तत्‍व और ऊर्जा मिलती है। यदि आपको बच्‍चे की बढ़वार के बारे में कोई संशय है तो ऐसे में किसी डाइटीशियन या हेल्‍थ केयर प्रोफेशनल से सलाह ले सकती हैं।

 

 

 

Read More Article On Diet Nutrition In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES27 Votes 4698 Views 1 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर