बीमारियों को बढ़ाता है मोबाइल

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 08, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • आवश्यकता से अधिक मोबाइल फोन का प्रयोग हो सकता है हानिकारक।
  • हैंडसेट मे मौजूद रसायन घोल रहे है घातक बीमारियां औऱ विषैले तत्व।
  • कानों के पर्दे और दिमाग को कोशिकाओं को प्रभावित करता है रेडिएशन।
  • इससे घट रही है शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता,एकाग्रता  और याद्दाश्त।

 

पहले-पहल फोन को अमीरी समझा जाता था, फिर यह जरूरी बना और अब यह मजबूरी बन गया है। लेकिन मजबूरी बन चुका यही फोन अब बीमारियों की जड़ भी बनता जा रहा है। आजकल मोबाइल का प्रयोग इतना बढ़ गया है कि बिना उसके एक पल भी रह पाना लोगों के लिए मुश्किल है। शायद ही कोई ऐसा होगा जो मोबाइल के प्रयोग से अनजान होगा। भारत के सरकारी आंकड़ें भी इस बात की तस्दीक करते हैं कि यहां शौचालय से ज्यादा मोबाइल मौजूद है। आकर्षक और महंगे मोबाइल हैंडसेट लेने की सबकी इच्छा होती है। लेकिन खूबसूरत दिखने वाला यह फोन न केवल पर्यावरण के लिए, बल्कि हमारे स्वास्‍थ्‍य के लिए बहुत खतरनाक है।
Mobile in Hindi

क्या कहते हैं शोध

हाल ही में ‘हेल्दीस्टफ’ और ‘आई-फिक्सइट’ ने एक रिपोर्ट तैयार की है। इस रिपोर्ट के अनुसार सुंदर और आकर्षक दिखने वाले मोबाइल हैंडसेट पर्यावरण और हमारी सेहत के लिए बहुत बड़ा खतरा साबित हो रहे हैं। रिपोर्ट के अनुसार मोबाइल हैंडसेट तैयार करने के लिए इस्तेमाल होने वाले रसायनों और धातुओं की वजह से मिट्टी, पानी और हवा में जहर घुल रहा है। ये रसायन और धातु घातक बीमारियों का कारण बन सकते हैं।इन हैंडसेटों में जहरीले रसायनों और धातुओं का प्रयोग किया जाता है। इन रसायनों और धातुओं के कारण मिट्टी, पानी और हवा में जहर घुलता रहता है। इनके प्रयोग से कई खतरनाक बीमारियां जन्मे ले रही हैं।

Mobile in Hindi

मोबाइल के प्रयोग से नुकसान

कई मुल्कों में मोबाइल सेटों का प्रयोग करने के बाद मोबाइल को फेंक दिया जाता है। लेकिन इससे उनमें मौजूद जहरीले रसायनों का खात्मा नहीं होता। हर साल पूरी दुनिया में करोड़ों सेलफोन प्रयोग करने के बाद फेंक दिये जाते हैं। जिसके कारण ये खतरनाक रसायन और धातु मिट्टी और पानी में मिलते हैं और इससे पानी और मिट्टी में जहर फैलता है और कई खतराक बीमारियों को बढ़ा सकता है। इन मोबाइलों में लीड, ब्रोमीन, क्लोरीन, मर्करी और कैडमियम पाया जाता है, जो कि स्वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक होता है। मोबाइल में मोबाइल में पॉलीक्लोरीनेटेड बाईफिनायल्स रसायन निकलता है, जिसके कारण शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता घटती है। मोबाइल का प्रयोग करने से लीवर व थाइराइड से संबंधित बीमारियां हो सकती हैं।

महंगा और अच्छा दिखने वाला फोन भी आपके स्वास्‍थ्‍य को खराब कर सकता है, इसलिए मोबाइल का जरूरत से ज्यादा प्रयोग करने से बचें। मोबाइल से होने वाला रेडिएशन आपके कानों को भी खराब कर सकता है।

 


Image Source- Getty Images

Read MOre Articles on Health and fitness in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES35 Votes 19794 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर