करवा चौथ पर हल्‍के मेकअप से अपने चेहरे को दें चांद सा निखार

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 10, 2014
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • करवाचौथ महिलाओं के सजने-संवरने का त्यौहार होता है।
  • व्रत रखकर पति की लंबी उम्र की कामना करती हैं महिलायें।
  • कुछ महिलाएं सुन्‍दरता के लिए कास्मेटिक सर्जरी भी करा रही हैं।
  • फेशियल रिजुविनेशन, लेजर स्पेक्ट्रा, केमिकल पील हैं उपयोगी।

करवाचौथ के त्‍योहार पर महिलाएं अपने पति की दीर्घायु के लिए व्रत रखती हैं। इस दिन महिलाओं में सजने संवरने का बहुत ज्‍यादा क्रेज होता है। इसलिए महिलाएं इस त्‍योहार की हफ्तों पहले तैयारियां शुरू कर देती हैं। ब्यूटी पार्लर और मॉल के चलन के बीच महिलाओं के सजने-संवरने के तरीकों को अलग कर दिया है। इस दिन को महिलाएं खास बनाने के लिए पूरी कोशिश करती हैं। दिनभर व्रत रहकर पति की लंबी उम्र की कामना करती हैं। इस सबके बीच इस दिन महिलाएं अपने लुक पर भी ध्‍यान देना चाहती हैं। हर महिला की चाहत होती हैं कि वह सबसे खूबसूरत और सबसे अलग दिखाई दें।

इसे भी पढ़ें : करवाचौथ पर कुछ इस तरह से सजती हैं बॉलीवुड की हसीनाएं

Karwa Chauth In Hindi


इस मौके को खास बनाने के लिए शोरूम व पार्लर पर खास ऑफर भी आते हैं। न्यू लुक कॉस्‍मेटिक लेजर सर्जरी सेंटर के वरिष्‍ठ डर्मेटोसर्जन डॉ. प्रीतम पंकज के अनुसार आज कॉस्‍मेटिक सर्जरी भी लोगों को इस त्‍योहार के दिन लुभाने के मामले में पीछे नहीं है। लोग खूबसूरत दिखने के लिए इसका सहारा ले रहे हैं।

कॉस्‍मेटिक चिकित्सा की बात करें, तो महिलाएं आजकल फेशियल रिजुविनेशन चिकित्सा, लेजर स्पेक्ट्रा पील, केमिकल पील, टमी टक और झुर्रियां कम करने के लिए (अधिक उम्र की महिलाएं) बोटोक्‍स का सहारा ले रही हैं। ऐसे मौके पर कुछ महिलाएं अपने पार्टनर को खुश करने के लिए पार्टी मनाती हैं, तो कुछ अच्छा दिखने के लिए पार्लर की ओर रूख करती हैं।

पिछले पांच वर्षों में भारत में भी कॉस्‍मेटिक सर्जरी का चलन बढ़ा है। इसके बढ़ते प्रभाव के कारण मध्यम वर्गीय परिवार के लोग भी तेजी से इसे अपना रहे हैं। भारत में कॉस्‍मेटिक सर्जरी का दाम दक्षिणी देशों की तुलना में 20 प्रतिशत तक कम है।

बढ़ता आधुनीकरण भी भारत में करवाचौथ, नवरात्रों जैसे त्‍योहारों का उत्साह कम नहीं कर पाया है। यह प्रथा सालों से चली आ रही है और इसमें महिलाएं व्रत रखती हैं। इस दिन महिलाएं नई साड़ी पहनती हैं और हाथों व पैरों पर मेहंदी लगाने की प्रथा इस त्योहार में है।

हालांकि पहले की तुलना में त्‍योहार मनाने के तरीके कुछ बदल गए हैं, लेकिन आज भी करवाचौथ की मान्यता और त्‍योहार का उत्साह वहीं है। कॉस्‍मेटिक सर्जरी और ब्यूटी के नए तरीकों ने महिलाओं के लिए त्‍योहार को अधिक उत्साही बना दिया है।

मेंहदी से सजाएं हाथ

भारतीय संस्‍कृति में माना जाता है कि मेंहदी की रंगत पति-पत्नी के प्यार को बढ़ाती है। करवाचौथ के दिन आप बाजार से या खुद अपने हाथों पर मेंहदी लगा सकती हैं। बाजार में ज्वैल मेंहदी, अरेबियन मेंहदी और स्टोन मेंहदी काफी चर्चा में हैं।

Beauty Tips in Hindi

नेल आर्ट

हाथों की खूबसूरती बढ़ाने में नाखूनों का विशेष महत्‍व है। ऐसे में आप अपने नेल्‍स को खूबसूरत बनाने के लिए नाखूनों की साज-सज्‍जा पर ध्‍यान दे सकती हैं। इसके लिए आप नेल आर्ट करवा सकती हैं। साथ ही आप चाहे, तो इस दिन खूबसूरत नगीनों को अपने नेल्‍स पर भी सजा सकती हैं।

चूडि़यां

चूडियां भी आपकी खूबसूरती में चार चांद लगाती हैं। कांच से बनी चूडियां एक तरफ सुहाग का प्रतीक होती है, तो दूसरी तरफ हाथों की खूबसूरती को उजागर करती है। इस दिन अपनी ड्रेस से मैच करती हुई चूडियां पहन सकती हैं।

Image Source : Getty

Read More Articles On Face Makeup in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES44 Votes 23936 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर