बवासीर के उपचार के लिए रामबाण साबित है ये आयुर्वेदिक नुस्खा

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 03, 2017
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • बवासीर में होने वाला दर्द असहनीय होता है।
  • आयुर्वेदिक औषधियों से इससे बचा जा सकता है।
  • बड़ी इलायची बवासीर के लिए अच्‍छा उपचार है।
  • ज्‍यादा मात्रा में तरल पदार्थों का सेवन कीजिए।

बवासीर या हैमरॉइड से अधिकतर लोग पीड़ित रहते हैं। इस बीमारी के होने का प्रमुख कारण अनियमित दिनचर्या और खान-पान है। बवासीर में होने वाला दर्द असहनीय होता है। बवासीर मलाशय के आसपास की नसों की सूजन के कारण विकसित होता है। बवासीर दो तरह की होती है, अंदरूनी और बाहरी। अंदरूनी बवासीर में नसों की सूजन दिखती नहीं पर महसूस होती है, जबकि बाहरी बवासीर में यह सूजन गुदा के बिलकुल बाहर दिखती है।

ayuveda in hindi

इसे भी पढ़ें : बवासीर में आराम और इसके उपचार के लिए घरेलू उपचार


बवासीर को पहचानना बहुत ही आसान है। मलत्याग के समय मलाशय में अत्यधिक पीड़ा और इसके बाद रक्तस्राव, खुजली इसका लक्षण है। इसके कारण गुदे में सूजन हो जाती है। आयुर्वेदिक औषधियों को अपनाकर बवासीर से छुटकारा पाया जा सकता है।


नींबू

डेढ़-दो कागजी नींबू अनिमा के साधन से गुदा में लें। 10-15 मिनट के अंतराल के बाद थोड़ी देर में इसे लेते रहिए उसके बाद शौच जायें। यह प्रयोग 4-5 दिन में एक बार करें। इसे 3 बार प्रयोग करने से बवासीर में लाभ होता है।


जीरा

करीब दो लीटर मट्ठा लेकर उसमे 50 ग्राम पिसा हुआ जीरा और थोडा नमक मिला दें। जब भी प्यास लगे तब पानी की जगह यह छाछ पियें। चार दिन तक यह प्रयोग करने से बवासीर के मस्‍से ठीक हो जाते है। या आधा चम्‍मच जीरा पावडर को एक गिलास पानी में डाल कर पियें।


जामुन

जामुन की गुठली और आम की गुठली के अंदर का भाग सुखाकर इसको मिलाकर चूर्ण बना लें। इस चूर्ण को एक चम्मच की मात्रा में हल्के गर्म पानी या छाछ के साथ सेवन करने से खूनी बवासीर में लाभ होता है।

 

इसबगोल

इसबगोल भूसी का प्रयोग करने से से अनियमित और कड़े मल से राहत मिलती है। इससे कुछ हद तक पेट भी साफ रहता है और मस्‍सा ज्‍यादा दर्द भी नही करता।

इसे भी पढ़ें : इसबगोल के फायदे और इसका सही इस्तेमाल

बड़ी इलायची

बड़ी इलायची भी बवासीर को दूर करने का बहुत ही अच्‍छा उपचार है। इसे सेवन करने के लिए लगभग 50 ग्राम बड़ी इलायची को तवे पर रखकर भूनते हुए जला लीजिए। ठंडी होने के बाद इस इलायची को पीस लीजिए। रोज सुबह इस चूर्ण को पानी के साथ खाली पेट लेने से बवासीर ठीक हो जाता है।

 

किशमिश

रात को 100 ग्राम किशमिश पानी में भिगों दें और इसे सुबह के समय में इसे उसी पानी में इसे मसल दें। इस पानी को रोजाना सेवन करने से कुछ ही दिनों में बवासीर रोग ठीक हो जाता है।


अन्‍य उपाय

चौथाई चम्मच दालचीनी चूर्ण एक चम्मच शहद में मिलाकर प्रतिदिन एक बार लेना चाहिए। इससे बवासीर नष्ट हो जाती है। हरड या बाल हरड का प्रतिदिन सेवन करने से आराम मिलता है। अर्श (बवासीर) पर अरंडी का तेल लगाने से फायदा होता है। साथ ही नीम का तेल मस्सों पर लगाइए और इस तेल की 4-5 बूंद रोज पीने से बवासीर में लाभ होता है। आराम पहुंचानेवाली क्रीम, मरहम, वगैरह का प्रयोग आपको पीड़ा और खुजली से आराम दिला सकते हैं।

इन औषधियों के प्रयोग के अलावा अपनी आंतों की गतिविधियों को सामान्‍य रखने के लिये, फल, सब्ज़ियां, ब्राउन राईस, ब्राउन ब्रेड जैसे रेशेयुक्त आहार का सेवन कीजिए। ज्‍यादा मात्रा में तरल पदार्थों का सेवन कीजिए।

इस लेख से संबंधित किसी प्रकार के सवाल या सुझाव के लिए आप यहां पोस्‍ट/कमेंट कर सकते है।

Image Courtesy : Getty Images

Read More Articles on Home-Remedies in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES4785 Votes 185465 Views 16 Comments
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • Vijay Patel27 Dec 2015

    Apne jo upchar bataya hai usko mai amal me launga. mujhe lagta Hai ki ye upchar thik hai. Thankyou

  • sanjeet kumar13 Jul 2015

    Piles ke upchar ke liye ye tareeke bahut hi fayedemand hain, inse bawaseer ka upchar ho jayega.

  • nazir19 Apr 2015

    Good information, because its very tough to get such a information in hindi.

  • रजनीश11 May 2013

    मेरी आँखे अंदर की तरफ धंसी हुई है और धसती ही जा रही ह कृपा कोई इलाज बताए

  • Manish Pal05 Feb 2013

    Hello,sir mujhe internal piles hai. ek massa internal hai or ek massa bahar hai or me homeopathic ki medicine kha rha hu lakin koi aram nhi hai. mughe koi aisa treatment batao jis se meri piles hamesha ke liye bina operation ke khatam ho jaye. ye problem mujhe pichle 2 months se hi hui hai. or koi blood nhi aata hai. sirf khujli or dard hota hai. Thanks manish.

  • Manish singh08 Nov 2012

    Kripya kuchh gharelu upcharon ke baare me vistaar se batayein. Kya keval inse bavasir puri tarah theek ho sakta hai? Bahut Problem hota hai plz help u friend......

  • nitin godbole07 Nov 2012

    sir, muze second degree se jada nternal piles hai. muze two komb hai. doctor ne kaha hai operation jaruri hai. muze kai karna chahiye. kai operation hi last option hai.

  • chandansingh04 Nov 2012

    Mere ko bahri piles hai kya karu

  • mahajan03 Nov 2012

    external piles ke liye sujhav de ... parhej ky nahi khana chahiya ise kaise bache... o type ka hai piles....plese urgent answar..

  • Jaideep Singh28 Sep 2012

    Sir kya piles bina opration k bhi thik ho sakta hai.

  • yash20 Sep 2012

    kya piles hamesha k liye sahi ho sakta hai?

  • Bipin05 Sep 2012

    Kripya kuchh gharelu upcharon ke baare me vistaar se batayein. Kya keval inse bavasir puri tarah theek ho sakta hai?

  • sandeep kumar05 Sep 2012

    pete bhara lagta hai pete saf nahi rahata kabhi-kabhi blood ata hai

  • sajid07 Jul 2012

    piles ka gharulu nuskha kya hai aur asani ke sath kaisa thik hogi

  • raj 24 May 2012

    @author ..... thanks for posting a good advise .....

  • R.P .Gupta16 Mar 2012

    Good Advise

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर