आत्‍महत्‍या के लिए जिम्मेदार रसायन का पता चला

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 17, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

atmhatya ke liye jimmedar rasayan ka pata chala

आत्‍महत्‍या की प्रवृति तेजी से फैलती जा रही है। लेकिन, अब एक उम्‍मीद की किरण नजर आई है। दरअसल, एक खास प्रकार के रासायनिक असंतुलन के चलते लोग आत्‍महत्‍या लोगों को आत्‍महत्‍या करने के लिए प्रेरित करता है। अब शोधकर्ता इस असंतुलन के लिए जिम्‍मेदार रसायन की खोज करने में कामयाब रहे हैं। इससे अवसाद के शिकार लोगों के उपचार में मदद मिलेगी।

[इसे भी पढ़ें: आत्महत्या या खुद को घात पहुंचाना]

 

मिशगन स्‍टेट यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने परीक्षणों के दौरान पाया कि जिन लोगों ने आत्‍महत्‍या के प्रयास किए उनके मस्तिष्‍क में एक खास प्रकार का रसायन ग्‍लूमेट पाया जाता है। ग्‍लूमेट एक प्रकार का अमीनो एसिड है जो तंत्रिका और कोशिकाओं के बीच संदेश भेजने का काम करता है। इसे डिप्रेशन के लिए जिम्‍मेदार माना जाता रहा है ।

[इसे भी पढ़ें: डिप्रेशन के लक्षण]

जर्नल न्‍यूरोसायकोफार्मेकोलॉजी के ताजा अंक में प्रकाशित शोध के मुताबिक इस खोज से भविष्‍य में आत्‍महत्‍या की प्रवृति को रोकने में मदद मिलेगी।

 

Read More Health News In Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES3 Votes 12896 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर