हाथों और उंगलियों में अर्थराइटिस के लक्षण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 03, 2014
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • जोडो़ में यूरिक एसिड जमा होने से होता है अर्थराइटिस।
  • जोड़ों में दर्द, सूजन, बुखार, थकान हैं इसके प्रमुख लक्षण।
  • अर्थराइटिस के कारण उंगलियों के जोडो़ में होता है दर्द।
  • इम्‍यून सिस्‍टम स्‍वस्‍थ ऊतकों को पहुंचाता है नुकसान।

शहरों में अर्थराइटिस के मरीजों की संख्‍या में लगातार वृद्धि हो रही है और इसकी चपेट में युवावर्ग सबसे अधिक आ रहा है। अर्थराइटिस यानी गठिया की समस्‍या ज्‍यादातर उम्रदराज लोगों को होता है, लेकिन आज युवाओं और यहां तक कि बच्‍चों में भी इसके लक्षण देखे जा रहे हैं।

Arthritis Symptomsअर्थराइटिस शरीर के किसी भी हिस्‍से में हो सकता है। जब हड्डियों के जोडो़ में यूरिक एसिड जमा हो जाता है, तो धीरे-धीरे वह अर्थराइटिस का रूप ले लेता है। यूरिक एसिड बनने की बड़ी वजह हमारा आहार होता है। उंगलियों और हाथों के जोड़ में यूरिक एसिड के क्रिस्‍टल जमा हो जाते हैं। इससे उंगलियों और हाथों के जोड़ों में बहुत दर्द होता है। दर्द के साथ अकड़न या सूजन आ जाती है। इस रोग में जोड़ों में गांठें बन जाती हैं और शूल चुभने जैसी पीड़ा होती है। इस लेख में जानिए हाथों और उंगलियों में अर्थराइटिस के लक्षण क्‍या हैं।

 

तेज दर्द होना

उंगलियों और हाथों में अर्थराइटिस के कारण बहुत तेज दर्द होता है, कभी-कभी यह दर्द असहनीय हो जाता है। उंगलियों के जोड़ में यूरिक एसिड के क्रिस्‍टल जमा हो जाते हैं, इससे उंगलियों के जोडो़ में बहुत दर्द होता है। अर्थराइटिस होने पर उंगलियों और हाथों को छूने में भी दर्द होता है।

 

सूजन होना

अर्थराइटिस के कारण सूजन हो सकती है, जिस जगह पर यह बीमारी होती है वहां सूजन अपने आप आ जाती है। यदि यह समस्‍या उंगली और हाथों में है तो उनमें सूजन आ जायेगी। कई बार तो हाथों की उंगलियां बुरी तरह से सूज जाती हैं।

 

त्‍वचा गरम हो जाना  

हाथ और उंगलियां अर्थराइटिस के कारण गरम हो जाते हैं, उनको छूने पर भी गरमाहट का एहसास होता है। कभी-कभी ये बहुत गरम हो जाती हैं।

 

अन्‍य हिस्‍सों में असर

अर्थराइटिस यदि एक जगह है तो उसका असर शरीर के अन्‍य हिस्‍सों में भी हो सकता है। उंगलियों और हाथों में अर्थराइटिस होने पर कुहनियां तथा घुटनों में दर्द हो सकता है। इसमें कुहनियां बहुत ही तकलीफ देह हो जाती हैं और सूज भी जाती हैं। हाथों और उंगलियों में अर्थराइटिस के कारण गर्दन और कमर में भी दर्द होता है।

 

हिलाने में परेशानी  

हाथों और उंगलियों में अर्थराइटिस होने पर उनको हिलाने-डुलाने में परेशानी होती है। इसके कारण मरीज अपने हाथ को एक जगह से उठाकर दूसरी जगह नहीं रख पाता है। ऐसा प्रयास करने मात्र में दर्द होता है।

 

बुखार और थकान  

अर्थराइटिस के कारण मरीज को हमेशा बुखार की समस्‍या हो जाती है। शरीर में भारीपन का एहसास होता है और थकान की शिकायत होती है। हल्‍का काम करने पर भी मरीज को थकान हो जाती है।

 

ठंड में अधिक दर्द

अर्थराइटिस के कारण सामान्‍य मौसम की तुलना में ठंड के मौसम में अधिक दर्द होता है। इसके अलावा सुबह के समय में उंगलियों और हाथों में असहनीय दर्द हो सकता है। इस समय होने वाला दर्द बहुत पीड़ादायक होता है।

 

अर्थराइटिस के कारण रोग प्रतिरोधक प्रणाली स्‍वस्‍थ ऊतकों को नुकसान पहुंचाता है, यह प्रणाली शरीर में कुछ अज्ञात प्रेरक एंटीजन पैदा करती है, जिससे कई हानिकारक रसायन जैसे साइटोकाइनिन्स उत्पन्न होते हैं। इन रसायनों से जोड़ों में पाया जाने वाला द्रव्य साइनोवियल सूखने लगता है। इससे उसका आकार बिगड़ने लगता है। यह अर्थराइटिस का मुख्य कारण बनता है।

 

 

Read More Articles On Arthritis in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES34 Votes 7449 Views 1 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर