जानें शरीर के लिए कितना जरूरी है प्रोटीन

By  , विशेषज्ञ लेख
Jan 02, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • इंसुलिन कार्बोहाइड्रेट चयापचय को विनियमित करता है।
  • प्रोटीन समृद्ध पदार्थ जैसे, चिकन, दालें, मांस लें।
  • प्रोटीन पावर डाइट प्रतिदिन लगभग 1,600 कैलोरी देता है।
  • विटामिन डी और कैल्शियम का अपर्याप्त सेवन होता है।

प्रोटीन से भरपूर डाइट माइकल ऐडस, एमडी, और मरियम ऐडस, एमडी द्वारा 1996 में शुरू की गई थी। उनकी पुस्तक, प्रोटीन से भरपूर आहार पर वजन घटाने के लिए मशहूर है। डाइट के समर्थको ने उच्च प्रोटीन, कम कार्बोहाइड्रेट आहार में लगभग 30 से 60 ग्राम कार्बोहाइड्रेट और बहुत सारे लीन प्रोटीन शामिल है।

protein in hindi

प्रोटीन पॉवर डाइट या प्रोटीन से भरपूर डाइट कैसे करती है काम

इंसुलिन कार्बोहाइड्रेट चयापचय को विनियमित करता है और कार्बोहाइड्रेट चयापचय के लिए शरीर द्वारा गुप्त ढंग से रखा जाता है। यह अच्छी तरह से जाना जाता है कि उच्च इंसुलिन का स्तर स्वास्थ्य के लिए अच्छा नही होता हैं। प्रोटीन पावर डाइट के पीछे की परिकल्पना यह है कि उच्च इंसुलिन स्तरों के कारण आपके आहार में कार्बोहाइड्रेट की वजह से कई अनचाहे प्रभाव पङते है। जैसे अपने आहार में वसा के रूपांतरण में शरीर में वसा, कोलेस्ट्रॉल के स्तरो में वृद्धि, किडनी द्वारा द्रव अवरोधन।

इसलिए अपने आहार में कार्बोहाइड्रेट एक सीमा तक ले। यदि आपके आहार में कार्बोहाइड्रेट कम मात्रा में है, प्रचुर मात्रा में प्रोटीन और कुछ वसा आपके शरीर में इंसुलिन के स्तर को कम करते है। इंसुलिन का कम स्तर और कम कार्बोहाइड्रेट वजन को घटाने के हेतु होते है।

 

प्रोटीन के स्रोत

यदि आप प्रोटीन पावर डाइट का पालन करते है अपने आहार में प्रोटीन समृद्ध पदार्थ जैसे, चिकन, दालें, मांस, सुअर का मांस और अंडे को शामिल करना चाहिए। खाद्य पदार्थ जैसे अनाज, ब्रेड, पास्ता, चावल, रिफाइंड शक्कर, और बङे का आकार वाले फलो के सेवन से बचा जाना चाहिए।

प्रोटीन पावर डाइट प्रतिदिन लगभग 1,600 कैलोरी प्रदान करता है। इस आहार के अनुसार कुल दैनिक कैलोरी  --- 25 प्रतिशत प्रोटीन से प्राप्त किया जाना चाहिए, 50 प्रतिशत वसा से, और केवल 25 प्रतिशत कार्बोहाइड्रेट से प्राप्त किया जाना चाहिए(क्योकि कार्बोहाइड्रेट से 60 प्रतिशत प्राप्त करने की सलाह का आमतौर पर विरोध किया है)। पुस्तक व्यंजनो की सूची का सेंम्पल प्रदान करता है।


प्रोटीन पॉवर डाइट के पक्ष और विपक्ष

विशेषज्ञो के अनुसार उच्च प्रोटीन के कुछ लाभ पोषण पर, कम कार्बोहाइड्रेट से युक्त आहार में हृदय के लिए जोखिम कारक को कम करना, कम भूख लगना और फलस्वरूप कम कैलोरी शामिल हैं। क्योंकि प्रोटीन से समृद्ध आहार शरीर की कम मांसपेशियो को बनाए रखता है जबकि वसा को शरीर से बाहर निकालने में मदद करता है।

कार्बोहाइड्रेट पर प्रतिबंध (अनाज, फल, सब्जी और डेयरी समूहों) फाइबर की अपर्याप्त सेवन, और विटामिन और मिनरल जैसे अन्य आवश्यक पोषक का कारण बनता है।
उच्च मात्रा में प्रोटीन के सेवन में वृद्धि होने से किडनी पर बल पङता है।

डेयरी उत्पादों पर प्रतिबंध से विटामिन डी और कैल्शियम का अपर्याप्त सेवन हो सकता है। यह ऑस्टियोपोरोसिस के जोखिम को बढ़ा सकते हैं

स्वस्थ कार्बोहाइड्रेट के उन्मूलन, और खाद्य पदार्थ जैसे फल, मिठाई, और सिके हुए खाद्य पदार्थो पर लंबे समय के लिए इन आहार पर टिका रहना आपके लिए मुश्किल हो सकता है।


प्रोटीन पॉवर डाइट के अल्पकालिक और दीर्घकालिक प्रभाव

अल्पावधि के लिए आहार अच्छा है दीर्घावधि के लिए सही नही है, खाने में कम प्रोटीन, वसा की सीमित मात्रा, और परिष्कृत शर्करा को छोड़कर सभी अच्छे स्ट्रेटजीज़ हैं। लेकिन लंबी अवधि पौष्टिक खाद्य पदार्थों के उन्मूलन में जैसे साबुत अनाज, फल और सब्जियों की है, क्योकि उनमे कार्बोहाइड्रेट होता है जो लाभप्रद नही होता। यह कई कमियों के लिए कारण बनता है और कई प्रतिबंधों के साथ एक आहार का पालन करना आपके लिए भी यह दुःसाध्य हो सकता है। बल्कि यदि आप वजन कम करना चाह रहे और अपने लक्षित वजन को बनाए रखने के लिए पौष्टिक खाना खाएं और उसी पर रहे।

इस लेख से संबंधित किसी प्रकार के सवाल या सुझाव के लिए आप यहां पोस्‍ट/कमेंट कर सकते हैं।

Image Source : Getty
Read More Articles on Diet Nutrition in Hindi
 

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES3 Votes 13821 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर