दमा के लिए वैकल्पिक चिकित्सा

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 25, 2015
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

अस्थमा रोग में कारगर होती है वैकल्पिक चिकित्सा।
इसमें शामिल होती है मसाज थेरेपी, बायोफीड बैक।
वैकल्पिक चिकित्सा के अलावा योगा भी फायदेमंद।
कोई भी इलाज लेने ले पहले चिकित्सक से मिले ।

अस्थमा के रोगियों के लिए वैकल्पिक चिकित्सा भी मौजूद है। ये चिकित्सा रोगियों को अस्थमा के अटैक से बचाती है और उनकी स्थिति को बेहतर बनाती  है। यह अस्थमा के मानक चिकित्सा से बिल्कुल अलग होता है। कई अस्थमा रोगी वैकल्पिक चिकित्सा का प्रयोग करते हैं। इन वैकल्पिक चिकित्सा में मसाज थेरेपी, बायोफीड बैक, हर्बल ईलाज, योगा आदि शामिल हैं। लगभग 60 %  अस्थमा रोगी वैकल्पिक चिकित्सा का इस्तेमाल कर खुद को चुस्त दुरुस्त रखने की कोशिश करते हैं। क्या है अस्थमा की वैकल्पिक चिकित्सा:


योगा

योगा के जरिए अस्थमा की जटिलता को कम किया जा सकता है। अस्थमा के रोगियों के लिए कुछ विशिष्ट प्रकार के योगा भी है जिनकों करने से रोगियों को काफी आराम मिलता है। अनुलोम विलोम से अस्थमा रोगियों की अच्छी एक्सरसाइज होती है और इससे उन्हें फायदा भी होता है। इसके अलावा सांस संबंधी व्यायाम से सांस फूलना पर भी नियत्रंण किया जा सकता है।

हर्बल दवाएं


अस्थमा के हर्बल इलाज में पौधे व उससे बने उत्पादों का प्रयोग किया जाता है। पौधों व उससे बने उत्पादों का एक विशिष्ट इतिहास है जो अस्थमा फिजियोलॉजी को बढ़ाने वाले तत्वों व ब्रोन्कोडाइलेटेशन के ईलाज में मदद करता है। इस समय अस्थमा में दी जाने वाली काफी दवाईयां पौधे से ही बनी होती हैं। इस तकनीक के जरिेए अस्थमा रोगियों में अनैच्छिक शारीरिक प्रतिक्रियाओं को नियंत्रित किया जाता है। इससे बच्चों व युवाओं में अस्थमा रोग में काफी फायदा होता है।

होमियोपैथी

लोगों का होमियोपैथी दवाओं पर काफी भरोसा होता है क्योंकि इनके कोई दुष्प्रभाव नहीं होते हैं और यह प्राकृतिक तत्वों को विशेष तरीके से इस्तेमाल करके बनाया जाता है। इनके इस्तेमाल से अस्थमा के रोगियों में सांस फूलने व अन्य लक्षणों को कम किया जा सकता है। अस्थमा की वैकल्पिक चिकित्सा लेने से पहले अपने डॉक्टर को इस बारे में जरुर बताएं की आप कौन सी चिकित्सा ले रहे हैं। कुछ वैकल्पिक चिकित्सा हर्बल या प्राकृतिक तत्वों से बनी होने के बाद भी अस्थमा में नुकसानदेह हो सकती हैं।




वैकल्पिक चिकित्सा में लिए जाने वाले हर्बल उत्पादों को लेने से पहले अपने चिकित्सक से बात करें और उसके बारे में बताएं। हर्बल दवाएं लेने से पहले उसके ब्रांड, एक्सपाइरी डेट व गाइडलाइन सावधानी पूर्वक देखें।



Image Source-Getty

Read More Article on Asthma-Treatment in hindi.

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES31 Votes 20996 Views 1 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर