यूं पहचानें एलर्जी को और समय रहते करें निदान

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jan 14, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • किसी व्‍यक्ति को किसी भी चीज से हो सकती है एलर्जी।
  • जिस चीज से एलर्जी है उससे दूर रहने का का करें प्रयास।
  • अपने घर में साफ-सफाई रखकर एलर्जी से रह सकते हैं दूर।
  • कपड़े धोते समय उसमें एंटी-सेप्टिक की बूंदें जरूर डालें।

किसी व्यक्ति को किस चीज से एलर्जी है इस बात का पता लगाना बहुत मुश्किल होता है। हर व्यक्ति को एलर्जी होने के अलग-अलग कारण हो सकते हैं आमतौर पर लोग इसे गंभीरता से नहीं लेते हालांकि ऐसा करना कई बार काफी नुकसानदेह भी साबित हो सकता है।

इसलिए कोई भी एलर्जी होने पर डॉक्टर के पास जरूर जाना चाहिए। कुछ लोगों को जल्‍दी किसी चीज से एलर्जी नहीं होती, जबकि कुछ लोग बहुत जल्‍द इसके शिकार हो जाते हैं। इसकी मुख्य वजह है प्रतिरक्षा प्रणाली का कमजोर होना। जब भी हम कुछ खाते हैं या किसी ऐसी चीज के संपर्क में आते हैं जिससे हमें एलर्जी के लक्षण दिखने लगे तो तुरंत उसका इस्तेमाल बंद कर देना चाहिए।

 

allergy in kids

कैसे होती है एलर्जी

हमारे शरीर में एक एंटी बॉडीज तैयार होती रहती है जो रोगों से शरीर की रक्षा करती है। जिसकी त्वचा संवेदनशील होती है, उसके रक्त में एलर्जी संबंधी तत्व अधिक मात्रा में प्रवाहित होते हैं। त्वचा के एलर्जिक तत्व के संपंर्क में आते ही एलर्जी के लक्षण दिखाई देने लगते हैं जैसे त्वचा का लाल होना, खुजली होना, चकत्ते दिखाई देना व दाने निकलना। इसके अलावा कई बार लोगों को धूल व अन्य चीजों से भी एलर्जी होती है। जब हम सांस लेते हैं या खाने के दौरान यह कण हमारे अंदर चले जाते हैं।


लक्षण -

किसी भी एलर्जी के लक्षण अलग अलग होते हैं। एक तरफ जहां फूड एलर्जी में पेट की समस्या हो सकती है वहीं दूसरी तरफ त्वचा की एलर्जी के लक्षण अलग होते हैं आईए जानें एलर्जी के लक्षण क्या हैं।

  •    आंखों से पानी आना या खुजली होना
  •    छींकें आना
  •    नाक बहना
  •    रैशेज, रेड पैचेज के साथ रैशेज
  •    थकान या बीमार महसूस करना
  •    बुखार या कोल्ड होना
  •    पूरी शरीर में खुजली होना
  •    सांस फूलना
  •    पेट की समस्या

 

allergy

क्या करें -

  • घर की नियमित सफाई करें। वैक्यूम क्लीनिंग करना अधिक बेहतर होगा। हर दो हफ्ते में घर के पर्दे व बेडशीट को बदलें।
  • घर के कपड़ों को धोते समय उसमें एंटीसेप्टिक की दो बूंद डालना नहीं भूलें।
  • यदि घर मेन रोड पर है तो दरवाजे और खिड़कियों को जहां तक संभव हो, बंद रखें। खिड़कियों पर शीशे के साथ बारीक जाली लगाएं। इससे कीडे़ मकौड़े भी घर के अंदर नहीं आ पाएंगे।
  • जिन पौधों में फूल होते हैं उन्हें कमरे के अंदर नहीं रखें।
  • घर से बाहर निकलने से पहले अपने मुंह पर मास्क या किसी कपड़े से जरूर ढंके। यह आपको धूल मिट्टी व प्रदूषण से बचाएगा।
  • फर वाले पालतू जानवरों से दूरी रखें। घर में इनके होने पर इन्हें बेडरूम या सोने वाले बिस्तर पर न आने दें।

 

Image Courtesy- getty images

 

Read More Articles on Allergy in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES62 Votes 18241 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर