क्षारीय आहार जो दें सेहत और ऊर्जा का उपहार

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 03, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • रक्‍त में पीएच स्‍तर 7.35 से लेकर 7.45 के बीच रहना चाहिए।
  • अम्‍लीय भोजन के अधिक सेवन से होती है थकान और सुस्‍ती।
  • क्षारीय भोजन स्‍फूर्ति देता है और साथ ही रखता है रखता है तृप्‍त।
  • अपने आहार में सही खाद्य पदार्थों को शामिल कर रह सकते हैं सेहतमंद।

क्षारीय (एल्‍काइन) फूड का सेवन बहुत जरूरी है। हमारे रक्‍त में पीएच स्‍तर 7.35 से लेकर 7.45 के बीच रहना चाहिए, जो हल्‍का सा क्षारीय है। हमारे शरीर को इस छोटे से अंतर को बनाये रखने में काफी मेहनत करनी पड़ती है। और हमारा आहार जितना अधिक अम्‍लीय होता जाता है, हमारे शरीर के लिए मुश्किलें उतनी ही बढ़ती जाती हैं। नतीजतन, हमें थकान का अनुभव अधिक होने लगता है और साथ ही हमारा इम्‍यून सिस्‍टम भी कमजोर होने लगता है। इससे हमें बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है।

एल्‍काइन डायट पीएच स्‍तर को बनाये रखने में मदद करती है

ब्‍लड पीएच स्‍तर से यह पता चलता है कि हमारा आहार कितना क्षारीय अथवा अम्‍लीय है। इस लिहाज से देखा जाए, तो हमारे पेट में मौजूद एसिड का स्‍तर शून्‍य (अधिकतर अम्‍लीय) और ब्‍लीच 14 के करीब (अधिकतर क्षारीय) होता है। शुद्ध पानी इसके ठीक बीच में फिट होता है। उसका पीएच स्‍तर सात होता है।

carrot


हमारे शरीर को सही प्रकार से काम करने, थकान को दूर रखने और ऊर्जावान बने रहने के लिए पानी से कुछ अधिक एल्‍कालाइन की जरूरत होती है। यह स्‍तर 7.35 से लेकर 7.45 के बीच होता है। हम अपने पीएच स्‍तर को इस बीच में रख सकते हैं, बशर्ते हमारे आहार में क्षारीय भोजन अधिक हो तथा अम्‍लीय भोजन कम।

एल्‍कालाइन आहार क्‍या होता है

यदि आप भोजन से पहले ही इस बात का खयाल रखें कि आपका भोजन कितना क्षारीय अथवा अम्‍लीय है, तो इसका आपकी सेहत पर सकारात्‍मक असर पड़ेगा। इसके साथ ही आप पहले से बेहतर महसूस करेंगे। आप चाहें तो अपने फ्रिज पर एक चार्ट चिपका सकते हैं, जिसमें यह लिखा हो कि आपको कौन सा भोजन करना चाहिए।

आइये जानने की कोशिश करते हैं कि किस प्रकार का एल्‍काइन आहार आपकी सेहत के लिए फायदेमंद है। साथ ही यह भी जानने का प्रयास करेंगे कि किस भोजन में एल्कालाइन की मात्रा अधिक होती है।

1. कंद-मूल

जमीन के नीचे होने वाली इन सब्जियों में अन्‍य सब्जियों के मुकाबले अधिक मात्रा में मिनरल होते हैं। यह बात भी सही है कि आप उन सब्जियों का सेवन नहीं कर सकते। लेकिन, फिर भी आपको मूली (सफेद, लाल और काली), चुकंदर, गाजर, शलजम और सहिजन आदि का सेवन करें। महज 15 से 20 मिनट तक भाप में पकाने के बाद ये आहार खाने के लिए हो जाते हैं तैयार। ये सब्जियां आपको तृप्‍त रखती हैं। इससे आपको पर्याप्‍त ऊर्जा तो मिलती ही है, साथ ही आपको वजन कम करने में भी आसानी होती है।

2. गोभी

गोभी को सलीबधारी सब्जियों में रखा जाता है। इस प्र‍जाति की सब्जियां खाने में स्‍वादिष्‍ट और पौष्टिक होती हैं। घर पर बनाये सॉस का का मेल इनके स्‍वाद को और बढ़ा देता है। ब्रोकली, गोभी, बंद गोभी,  ब्रसेल्स स्प्राउट्स और इस प्रकार की अन्‍य सब्जियां आपके पीएच बैलेंस को भी सही रखेंगी व साथ ही आपकी सेहत का भी पूरा खयाल रखेंगी।

lemon

3. हरी पत्‍तेदार सब्जियां

इसमें गोभी, शलजम का साग, पालक आदि सब्जियां शामिल होती हैं। इनमें से पालक सबसे अधिक सेहतमंद सब्‍जी होती है। इन सब्जियों में विटामिन के और फोलेट की मात्रा काफी अधिक होती है। पालक में इनके साथ ही विटामिन, मिनरल, फिटोकेमिकल्‍स और एंटीऑक्‍सीडेंट्स होते हैं। ये पोषक तत्‍व आपको सेहतमंद और ऊर्जावान बनाये रख सकते हैं। पालक के पौष्टिक गुणों की लिस्‍ट यहीं खत्‍म नहीं होती। इसमें फाइबर भी होता है जो आपकी पाचन क्रिया को दुरुस्‍त रखता है। और साथ ही आपको लंबे समय तक पेट भरे होने का अहसास कराता है। यानी वजन को भी काबू में रखने में मदद मिलती है। पालक का सेवन आपकी आंखों के लिए भी फायदेमंद होता है।

4 लहसुन

यह एक चमत्‍कारी आहार है। जब बात सेहतमंद आहार की होती है, तो लहसुन का नाम सबसे ऊपर आता है। दिल के लिए फायदेमंद होने के साथ-साथ यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में भी इजाफा करता है। यह रक्‍तचाप को नियंत्रित करता है, लिवर को साफ रखने में मदद करता है और अन्‍य कई बीमारियों से लड़कर शरीर को रोगमुक्‍त रखता है।

5. शिमला मिर्च

शिमला मिर्च में मौजूद एंजाइम्‍स अंत:स्रावी क्रिया को सही प्रकार से काम करने में मदद करते हैं। यह सबसे अधिक क्षारीय आहार में शामिल है। इसे अपने एंटीबैक्‍टीरियल गुणों के कारण जाना जाता है। इसके साथ ही इसमें विटामिन ए की उच्‍च मात्रा होती है, जो इसे हानिकारक फ्री रेडिकल्‍स से लड़ने में मदद करती है। इतना ही नहीं यह तनाव और बीमारियों से लड़ने में भी काफी मदद करता है।

spanich

6. नींबू

नींबू सबसे अधिक क्षारीय भोजन है। यह कुदरती कीटाणुनाशक है जो आपके जख्‍मों को भरने का काम करता है। इतना ही नहीं खांसी, कोल्‍ड, फ्लू और सीने में जलन से भी राहत दिलाती है। यह लिवर के लिए भी काफी फायदेमंद होता है।

तो, अपने आहार के बारे में विचार करने से आपको जरूर नफा होता है और ऐसा न करना आपको परेशानी में जरूर डाल सकता है। अच्‍छी सेहत और जोश के लिए पुरानी कहावतों 'सब्‍जी खायें सेहत बनायें' पर यकीन रखें।

 

Image Courtesy- Getty Images

 

Read More Aritcles on Healthy Eating in Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES7 Votes 3967 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर