WHO का दावा हर आठवीं मौत का जिम्‍मेदार है वायु प्रदूषण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 26, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

air pollutionवायु प्रदूषण दुनिया भर में एक बड़ी समस्‍या बना हुआ है। इसके कारण कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍यायें भी हो रही हैं। और तो और हर बरस हजारों लोग वायु प्रदूषण के कारण मौत का ग्रास भी बन रहे हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के आकलन के अनुसार साल 2012 में वायु प्रदूषण के कारण करीब 70 लाख लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। संगठन ने इसके साथ ही वायु प्रदूषण का ह्रदय रोग, सांस संबंधी बीमारियों और कैंसर के साथ गहरा नाता होने की बात भी कही है।



विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा है कि दुनिया भर में हर आठवीं मौत मौत वायु प्रदूषण के कारण होती है। WHO ने इसे पर्यावरण से जुड़ा सेहत संबंधी  दुनिया का 'अकेला सबसे बड़ा ख़तरा' भी करार दिया है।


डब्ल्यूएचओ ने अपने अध्ययन में पाया कि दक्षिण-पूर्वी एशिया और विश्व स्वास्थ्य संगठन के पश्चिमी प्रशांत क्षेत्र के इलाके में खराब 'आबोहवा' से करीब 60 लाख मौतें हुई हैं। इसके अलावा डब्ल्यूएचओ का यह भी कहना है कि इन इलाक़ों में जो कम तथा मध्यम आय वाले देश हैं वहां घर के भीतर होने वाले वायु प्रदूषण से 33 लाख लोग तथा घर के बाहर पाए जाने वायु प्रदूषण से करीब 26 लाख लोगों की मौत हुई है।

 

डब्ल्यूएचओ के सार्वजनिक स्वास्थ्य, पर्यावरण और सामाजिक निर्धारक के स्वास्थ्य विभाग के निदेशक डॉ. मारिया का कहना है कि वायु प्रदूषण से सेहत को पहले से ज्‍यादा नुकसान होने लगा है। खासकर ह्रदय रोग और दिल के दौरे के मामले में, होने वाला खतरा काफ़ी बढ़ गया है। इसके साथ ही उन्‍होंने यह भी कहा कि इससे इशारा मिलता है कि हम जिस हवा में सांस लेते हैं उसे स्वच्छ रखने की सख्‍त जरूरत है। इसके साथ ही इससे यह बात भी साफ हो जाती है कि वायु प्रदूषण को कम कर हर बरस लाखों जिंदगियां बचायी जा सकती हैं।



विश्व स्वास्थ्य संगठन के परिवार, महिला, बच्चों के सेहत से जुड़े सहायक महानिदेशक डॉ. फ्लाविया बस्टेरियो का कहना है, "बच्चों, महिलाओं और बुज़ुर्गों को घर के भीतर पाए जाने वाले वायु प्रदूषण का भारी खामियाजा भुगतना पड़ता है, क्योंकि उनका अधिकांश समय घर के भीतर बीतता है।"

 

Source- BBC

Image Courtesy- getty images

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES19 Votes 4069 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर