अच्‍छी नींद के लिए संगीत सुनिए और मसाज कराइए

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 21, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

achi neend ke liye sangeet suniye aur masaj kariye

अगर आपको अच्‍छी नींद नहीं आती तो उसके लिए आप अच्‍छा संगीत सुनिए और अच्‍छा मसाज लीजिए। दोनों ही उपायों से नींद की परेशानी वाले लोगों को राहत मिलेगी। चीन में हुए एक ताजा अध्ययन में अच्छी नींद के लिए थोड़े-थोड़े अंतराल पर झपकी लेने पर जोर देते हुए लोगों से नेटवर्किंग उपकरणों का आवश्यकता से अधिक इस्तेमाल न करने की अपील की गई है।

अध्ययन में लोगों से अच्छी नींद के लिए मधुर संगीत सुनने, मसाज कराने तथा झपकी लेने के लिए कहा गया है।अध्ययन के अनुसार चीन में लोग प्रतिदिन औसतन आठ घंटे 50 मिनट सोते हैं, लेकिन लगभग 50 फीसदी लोगों को सुबह जागने में आलस महसूस होता है।मंगलवार को प्रकाशित इस रिपोर्ट में चीन में लोगों की सोने की आदतों का अध्ययन किया गया।

यह अध्ययन चीन के 20 शहरों, 20 कस्बों एवं 20 गांवों के आकस्मिक रूप से चुने गए परिवारों के नवम्बर तथा दिसम्बर में किए गए सर्वेक्षण पर आधारित है।अध्ययन में कहा गया है कि सर्वेक्षण में शामिल 55 फीसदी लोगों ने काम के तनाव के कारण नींद के प्रभावित होने को स्वीकार किया।

इस सर्वेक्षण में पाया गया कि 67.1 फीसदी लोग सोने से पहले मोबाइल पर या कम्प्यूटर पर चैट करते हैं तथा 43.2 फीसदी लोग इंटरनेट पर गेम खेलने या चैट करने की वजह से आधी रात के बाद सोते हैं।

 

Read More Health News In Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES2 Votes 2032 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर