अच्छे नंबर लाने है तो एक्जाम में पीएं पानी

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 07, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

ache number lane hai toh exam me pani peeye

परीक्षा का नाम सुनते ही बच्चों में अक्सर टेंशन होती है। टेंशन में कभी-कभी सभी प्रश्नों के उत्तर आने पर भी उनका एक्जाम अच्छा नहीं हो पाता है और नंबर कम आते हैं। लेकिन हाल ही में हुए शोध में यह साबित हुआ है कि एक्जाम के बीच में पानी पीने से अच्छे नंबर लाए जा सकते हैं।वैज्ञानिकों के मुताबिक अगर आप परीक्षा कक्ष में अपने साथ पानी की बोतल लेकर जाते हैं तो इससे आपके नंबर में दस फीसदी की बढ़ोत्तरी हो सकती है।

 

रिसर्च में दावा किया गया है कि अगर आप एक्जाम हॉल में अपने साथ पानी की बोतल लेकर जाते हैं, तो इससे आपके अंकों में वृद्धि हो सकती है।

 

वेस्ट मिन्सटर विश्‍व विद्याद्यालय में हुए इस शोध ने बताया कि जो लोग परीक्षा में कोई पेय पदार्थ, खासकर पानी, लेकर आते हैं वे कोई भी पेय न लाने वालों की तुलना में लगभग दस प्रतिशत ज्यादा अच्छा प्रदर्शन करते हैं।

 

इस रिसर्च में डिग्री कोर्स के पहले और दूसरे वर्ष के साथ ही पूर्व-डिग्री स्तर के सैकड़ों विद्यार्थियों का अध्ययन करते हुए जानने की कोशिश की कि एक्जामिनेशन हॉल में पेय पदार्थ लाने का उन पर क्या प्रभाव पड़ता है?

 

शोधार्थियों के मुताबिक पेय पदार्थ साथ में लेकर आने वालों के प्रदर्शन में औसतन पांच प्रतिशत का सुधार होता है।

वहीं डेली टेलीग्राफ की रिपोर्ट के मुताबिक, वैसे तो यह अस्पष्ट था कि पानी पीने से प्रदर्शन में सुधार कैसे हो सकता है लेकिन मनोचिकित्सकों की मानें तो शरीर में पानी की मात्रा बेहतर बनी रहने से दिमाग पर अच्छा असर पड़ता है।

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES11 Votes 13530 Views 1 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • reeta08 May 2012

    good info

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर