अब बेफिक्र होकर करें शिफ्ट में काम

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 14, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

ab befikr hokar karen shift me kamअगर आपको शिफ्ट में नौकरी करनी पड़ती है तो अब आपको अपनी सेहत की चिंता करने की जरूरत नहीं है। आस्ट्रेलियाई वैज्ञानिकों ने एक ऐसी दवा खोज निकाली है, जिससे शिफ्ट में काम करने के बाद भी आपके सेहत पर असर नहीं होगा और आपका बॉडी क्लॉक सही रहेगा।

आमतौर पर देखा जाता है कि शिफ्ट में काम करने वाले लोगों में खाने और सोने का कोई निश्चित समय नहीं होता है। उनके शिफ्ट के अनुसार सोने व खाने का समय बदलता रहता है। इसलिए जब आप ऐसे समय में घर लौटते हैं और खाना खाते हैं तो आपका लीवर पोषण और पाचन के लिये तैयार नहीं होता है। ऐसे में वैज्ञानिकों का दावा है कि यह दवा कारगर साबित होगी।

 

वैज्ञानिकों ने इस दवा का निर्माण शिफ्ट में नौकरी करने की वजह से बॉडी क्लॉक में होने वाले बदलावों को रोकने के मकसद से किया है।

सिडनी विश्वीविद्यालय के क्रिस लिडल का कहना है कि इस दवा से लीवर ठीक ढंग से काम करेगा। लीवर उपयुक्त समय में भोजन को पचाने में मदद करेगा और शिफ्ट में काम करने वाले लोगों की सेहत पर कोई असर नहीं होगा।

ऐसा देखा जाता है कि कई बार बॉडी क्लॉक में बदलाव होते रहने से उसके शिकार लोगों का शरीर पौष्टिक तत्वों को ग्रहण नहीं कर पाता।  जिसकी वजह से उन्हें मधुमेह और मोटापे की समस्या भी हो जाती है।

Write a Review
Is it Helpful Article?YES11032 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर